सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 22 मार्च - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 22 मार्च 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 22 मार्च

शिव महापुराण में मनाया रंग पंचमी का पावन पर्व, श्रद्धालुओं ने खेली फूलों से होली

  • भगवान शिव की कथा से शरीर, वाणी, मन द्वारा किए गए पाप धुल जाते  है-श्री महेश गुरुजी उज्जैन

sehore news
सीहोर। शिव महापुराण की कथा जीव के पूर्व जन्मों के समस्त पापों को दूर करके शिव कृपा का मार्ग प्रशस्त करती है। भगवान शिव की कथा से शरीर, वाणी, मन द्वारा किए गए पाप धुल जाते हैं। कलयुग में शिव कथा के समान कोई भी कल्याणकारी मार्ग सरल नहीं है। शिव का अर्थ है कल्याण, शांति, अविनाशी और प्रकाशमान। शिव उपासक को सांसारिक बंधन बांधकर नहीं रख सकते। महादेव हमेशा अपने भक्तों की रक्षा करते हैं। शिव पूजन से समस्त देवताओं के पूजन का फल मिलता है। उक्त विचार बारवाखेड़ी में जारी शिव महापुराण कथा में श्री महेश गुरु जी उज्जैन ने कहे। मंगलवार को रंग पंचमी के पावन शुभ अवसर पर बारवा खेड़ी जिला सीहोर में चल रही शिव महापुराण कथा में अंतरराष्ट्रीय कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा पधारे और महादेव की होली बड़ी धूम-धाम से मनाया बारबाखेड़ी में चल रही चतुर्थ दिवस की श्री शिव महापुराण कथा में श्री महेश गुरुजी उज्जैन ने बताया कि भगवान शंकर ही सृष्टि का मूल है उन्हीं से ब्रह्मा व विष्णु का प्राकृत हुआ है और उन्हीं ने ब्रह्मा जी को श्रृष्टि के कार्य में और भगवान विष्णु को सृष्टि के पालन के कार्य में नियुक्त किया ब्रह्मा को उन्होंने अपने दाहिने अंग से तथा विष्णु को अपने बाएं अंग से प्रकट किया और स्वयं सृष्टि का संहार करने के लिए रुद्र के रूप में प्रकट हुए कैलाश पर जहां कुबेर की अलकापुरी है कुबेर को दोस्त बना करके भगवान शिव वहीं पर विराजमान रहते हैं सृष्टि के पांच कार्य हैं सृजन पालन सहार तिरोभाव और अनुग्रह इनमें से 4 कार तो भगवान शिव ने जैसे सृष्टि का कार्य ब्रह्मा को पालन का कार्य विष्णु को सहार का कार्य रूद्र को तिरोभाव का कार्य महेश्वर को एवं अनुग्रह का कार्य स्वयं अपने हाथ में रखा है भगवान सदाशिव जी पर जब कृपा करते हैं अनुग्रह करते हैं तब वह जीव को नित्य मोक्ष प्रदान करते हैं सारे जीव जगत उन्हीं भगवान शिव का गुणगान करके उनका आश्रय ले करके ही इस संसार में भी सुख शांति से रह सकते हैं और लोक और परलोक दोनों में अपना परम कल्याण कर सकते हैं। 


होली के पांचवें दिन महादेव की होली पर बिलकिसगंज में निकाला रंगपंचमी का ऐतिहासिक चल समारोह, एक किलोमीटर तक था श्रद्धालुओं का तांता


sehore news
बिलकिसगंज। मां महिषासुर मर्दिनी मंदिर में चौसठ योगिनी जहाँ झांझर बजाती थी उस स्थान का नाम झागरिया है, झांझर से नाम पड़ा झागरिया वर्षों से यही नाम रहा है इसलिए इसे झागरिया ही बोलेगें सभी संकल्प लिजिए भागवत भूषण पंडित  प्रदीप मिश्रा ने बस स्टेण्ड पर अपने संबोधन में कहा। मंगलवार को क्षेत्र में जमकर महादेव की होली खेली गई। इस मौके पर सीहोर-बिलकिसगंज पर अनेक स्थानों पर भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा का भव्य स्वागत किया गया। यहाँ  पहली  बार रंगपंचमी के अवसर पर  विद्युत मंडल स्थित शिव मंदिर के पास से प्रारंभ हुआ महादेव की होली का चल समारोह मुख्य मार्गों से होते हुए थाने के सामने  शिव मंदिर  पर सम्पन्न हुआ। चल समारोह में सीहोर के प्रसिद्ध कथा वाचक पंडित प्रदीप मिश्रा के नेतृत्व में हजारों की संख्या में महिला-पुरूषों, नवयुवक व बच्चे नाचते गाते  हुए उत्साह के साथ  रंगों में सराबोर होते हुए सम्मिलित हुए। जानकारी के अनुसार क्षेत्र में एक हजार से अधिक गुलाल की बोरी के अलावा दो क्विंटल से अधिक फूलों से चल समारोह का स्वागत किया गया। शिव जी का रूप में  व रंगों की बौझार से चल समारोह जब निकला तो दूर-दूर से शामिल होने आये लोग भी ढोल और डीजे एवं बैंड बाजे पर थिरकते हुए  बस स्टेण्ड पहुंचे जहाँ पंडित श्री मिश्रा ने महादेव के गीत गाये व मातृशक्ति की उपस्थिति के बीच कहा  कि हम इस ग्राम को झागरिया  के नाम से ही जानते है इसे बिलकीसगंज करके  हमें  हमारे  प्राचीनतम महत्व  से भटकाया गया पंडित प्रदीप मिश्रा ने स्थान व झागरिया के इतिहास व महत्व से सभी को अवगत कराया। क्षेत्रिय विधायक से आग्रह किया की बिलकीसगंज का प्राचीन  नाम झागरिया किया जाये तथा सभी उपस्थितों को संकल्प दिलाया कि हम झागरिया ही बोलेगें। उन्होंने लोगों से कहा कि प्रत्येक वर्ष हर एक शिवालय में  इस तरह से होली मनाना चाहिए।


चल समारोह में जमकर बरसा रंग- गुलाल

चल समारोह में महिला पुरूषों सहित  बच्चों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया, डीजे, बैंडबाजे, ढोल नगाड़ों से निकले चल समारोह में रंग गुलाल उड़ाने के साथ फूल बरसाए जा रहे थे वहीं  दूसरी  ओर लोग थिरक रहे थे। क्षेत्रवासियों का कहना है कि बिलकीसगंज में पहली बार इस तरह का रंगपंचमी पर चल समारोह निकला। रंगपंचमी चल समारोह एक किलोमीटर लंबा था। पुलिस व्यवस्था पूरी तरह से चाक-चौबंद रही एवं सुबह से ही सतर्क रही। चल समारोह उत्साह व आनंद के वातावरण में निकला।


फैक्ट्री के कर्मचारियों ने किया भागवत , भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा का स्वागत


sehore news
सीहोर। मंगलवार को सीहोर-बिलकिसगंज मार्ग पर स्थित पनीर फैक्ट्री पर कर्मचारियों और क्षेत्रवासियों ने फूलों और गुलाल से भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा का भव्य स्वागत किया। इस संबंध में जानकारी देते हुए फैक्ट्री के प्रबंधक डीसी बघेल ने बताया कि संचालक राजेन्द्र प्रसाद मोदी के मार्गदर्शन में भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा का भव्य स्वागत के साथ ही विठलेश सेवा समिति के सभी कार्यकर्ताओं और क्षेत्रवासियों को ठंडाई पिलाकर स्वागत किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज रंगपंचमी का पर्व है और सभी मिलकर महादेव की होली खेले और इस मौके पर फैक्ट्री में आस्था और उत्साह के साथ फूलों की बारिश कर फाग महोत्सव मनाया गया।


राज्य स्तरीय रोजगार दिवस 29 मार्च को, मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना की लांचिंग 31 को


युवाओं को स्वयं का रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की मंशा अनुरूप 29 मार्च को रोजगार दिवस तथा 31 मार्च को मुख्यमंत्री उद्यम क्रान्ति योजना लाँच की जाएगी। आयुक्त उद्योग श्री पी. नरहरि ने बताया कि प्रदेशव्यापी रोजगार दिवस का राज्य स्तरीय कार्यक्रम 29 मार्च को रीवा जिला मुख्यालय में होगा। मुख्यमंत्री उद्यम क्रान्ति योजना की लान्चिंग का राज्य-स्तरीय कार्यक्रम 31 मार्च को कुशाभाऊ ठाकरे, इन्टरनेशनल कन्वेशन सेंटर, भोपाल में होगा। दोनों राज्य स्तरीय कार्यक्रमों का सीधा प्रसारण न्यूज चेनल एवं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर किया जायेगा। इस प्रसारण को जिला स्तरीय कार्यक्रम में भी दिखाने की व्यवस्था स्थानीय स्तर पर जिला प्रशासन द्वारा की जायेगी।  सभी जिलों में रोजगार दिवस कार्यक्रम एवं मुख्यमंत्री उद्यम क्रान्ति योजना की लांचिंग का कार्यक्रम निर्धारित तिथियों में जिला मुख्यालयों पर किया जायेगा। रोजगार दिवस कार्यक्रम के आयोजन में विभिन्न स्व-रोजगार योजनाओं के लाभांवित हितग्राहियों को आमंत्रित कर उन्हें अतिथियों द्वारा स्वीकृति, वितरण पत्र सांकेतिक रूप से प्रदाय किए जाएंगे। शेष अन्य हितग्राहियों को संबंधित बैंक, विभाग 29 मार्च को स्वीकृति वितरण की कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे। मुख्यमंत्री उद्यम क्रान्ति योजना के जिला स्तरीय लंचिंग कार्यक्रम में इस योजना के सभी लाभार्थियों को आमंत्रित किया जायेगा एवं उन्हें स्वीकृति एवं वितरण-पत्र दिये जायेंगे।


12 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बालक-बालिकाओं के टीकाकरण  आज से प्रारंभ, टीकाकरण के लिए 131 सत्र आयोजित


12 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बालक-बालिकाओं के टीकाकरण के लिए 23 मार्च को जिले में 131 सत्र आयोजित किए गए है। जिसमें 12 हजार 859 बालक-बालिकाओं के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि आष्टा के 6 सत्रों में 900,  बुदनी के 18 सत्रों में 1539,  इछावर के 34 सत्रों में 3120, नसरूल्लागंज के 26 सत्रों में 2600, शहरी सीहोर क्षेत्र में 4 सत्रों में 400 तथा श्यामुपर विकासखण्ड में 43 सत्रों में 4300 बालक-बालिकाओं के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।


शांति सद्भाव और हर्षोल्लास से मनाया गया रंगपंचमी पर्व


जिला मुख्यालय सहित पूरे जिले भर में रंग पंचमी पर्व को शांति सद्भाव और हर्षोल्लास से मनाया गया। पांच दिनों तक चलने वाले रंगों के इस महापर्व के पांचवे दिन रंग पंचमी पर लोगो ने एक दूसरे को रंग गुलाल लगाकर मनाया।


पीजी कॉलेज में रोजगार मेला आज


बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए कलेक्टर चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देश पर जिले के विभिन्न महाविद्यालयों, पॉलिटेक्निक एवं आईटीआई संस्थानो में रोजगार मेले आयोजित आयोजित कराने के निर्देश दिए गये है। कलेक्टर श्री ठाकुर के निर्देशानुसार विगत दिवस से 25 मार्च तक जिले के विभिन्न शासकीय महाविद्यालयों, पॉलिटेक्निक, आईटीआई संस्थानों मे रोजगार मेला आयोजित किये जा रहे है। इसी श्रृखला में में अब शासकीय चंद्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय सीहोर में 23 मार्च को, पॉलिटेक्निक कॉलेज सीहोर में 24 मार्च को एवं शासकीय कन्या महाविद्यालय सीहोर में 25 मार्च को रोजगार मेला आयोजित किया जाएगा।


वरिष्ठ, अवस्थ एवं परिवार पेंशनरों को अब डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र जमा करने की सुविधा


अस्वस्थ, अति वरिष्ठ पेंशनरों और परिवार पेंशनरों की सुविधा के लिए डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की व्यवस्था लागू कर दी गई है। जिला पेंशन अधिकारी ने जिले के समस्त आहरण एवं संवितरण अधिकारियों से आग्रह किया है कि वे अपने कार्यालय में सेवानिवृत्त हुए अधिकारी, कर्मचारियों को डिजिटल माध्यम से जीवन प्रमाण पत्र जमा करने के लिए प्रेरित करें। अस्वस्थ एवं अति वरिष्ठ पेंशनरों और परिवार पेंशनरों को डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र तैयार करने और प्रस्तुत करने के लिये नियत केंद्र या कियोस्क तक पहुँचने में असुविधा का सामना करना पड़ रहा था। पेंशनरो की असुविधा को दृष्टिगत रखते हुए इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक द्वारा डिजिटल जीवन प्रमाण जमा करने के लिये डोर स्टेप सर्विस सेवा अतिरिक्त विकल्प के रूप में सशुल्क प्रारंभ की गई है। वैकल्पिक व्यवस्था में जीवन प्रमाण-पत्र, पोर्टल के साथ इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक या पोस्ट ऑफिस से संपर्क कर नियत शुल्क जमा कर प्राप्त कर सकते हैं। पेंशनर और परिवार पेंशनर को मूलभूत जानकारी जैसे पेंशन आईडी, पेंशन पेमेंट ऑर्डर, पेंशन वितरण विभाग, संस्था, बैंक वितरण, मोबाइल नंबर एवं आधार नंबर की जानकारी पोस्टमैन को उपलब्ध करानी होगी। पोस्टमैन द्वारा बायोमेट्रिक डिवाइस से पेंशनर का सत्यापन करते हुए डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र जनरेट कर जीवन प्रमाण पोर्टल पर अपडेट किया जा सकेगा।


पीएम किसान सम्मान निधि की राशि का भुगतान आधार से लिंक खातों में ही होगा


प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत समस्त हितग्राहियों का खाता आधार से लिंक कराने के संबंध में निर्देश जारी किये गए हैं। भारत सरकार के नए दिशा-निर्देशों के अनुसार पीएम किसान सम्मान निधि की आगामी किश्त का भुगतान हितग्राहियों को आधार से लिंक खातों में ही किया जाएगा। जिन हितग्राहियों के खाते आधार से लिंक नहीं है उनके खाते शीघ्र आधार से लिंक करवाना जरूरी है।


खरीफ सीजन 2020 में फसल बीमा संबंधी जानकारी के लिये कृषकों को सलाह


किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने जिले के समस्त कृषक बंधुओ से आग्रह किया है कि वे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनांतर्गत सीजन खरीफ 2020 में फसल बीमा दावा राशि से संबंधित अपना फार्मर आई.डी., एप्लीकेशन आई.डी., के.सी.सी. खाता क्रमांक की जानकारी बताकर एग्रीकल्चर इंष्योरेंस कम्पनी भोपाल के टोल फ्री नंबर 1800-233-7115 पर फोन लगाकर अपने फसल बीमा संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।


खाद्य लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन लेना अनिवार्य


खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 नियम एवं विनियम 2011 के अंतर्गत समस्त प्रकार के छोटे-बड़े खाद्य कारोबार कर्ताओं को खाद्य लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन लेना कानूनन अनिवार्य है। बिना लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन के खाद्य कारोबार करने पर 6 माह की सजा एवं अधिकतम 2 लाख रूपये तक जुर्माने का प्रावधान है। खाद्य कारोबारकर्ता जो सालाना 12 लाख रूपये से अधिक का खाद्य कारोबार करते हैं उन्हें लायसेंस लेना है जिसके लिये 2 हजार रूपये का शुल्क प्रतिवर्ष निर्धारित किया गया है। लायसेंस एवं पंजीयन के लिए आवश्यक दस्तावेज नक्शा, आधार कार्ड की फोटोकापी, दुकान के पते का दस्तावेज, बिजली बिल साथ में लाना होगा। ऐसे खाद्य कारोबारकर्ता जो सालाना 12 लाख रूपये तक का खाद्य कारोबार करते हैं। उन्हें रजिस्ट्रेशन (पंजीयन) लेना अनिवार्य है। जिसके लिये 100 रूपये का शुल्क प्रतिवर्ष निर्धारित किया गया है। लायसेंस एवं पंजीयन के लिए आवश्यक दस्तावेज आधार कार्ड, पासपोर्ट फोटो, मीट मटन विक्रय के लिए नगर पालिका, ग्राम पंचायत की एनओसी साथ में लाना होगा।


चर्च मैदान पर 26 मार्च से आयोजित किया जाएगा फुटबाल कैंप


नगर के प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को मंच देने के उद्देश्य से जिला फुटबाल एसोसिएशन द्वारा 26 मार्च से तीस दिवसीय फुटबाल प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा। तीस दिवस तक क्षेत्र के विशेष कोच और सीनियर खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देकर तैयार किया जाएगा, तत्पश्चात दूसरे चरण में समय-समय पर मैचों का भी आयोजन किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला फुटबॉल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष सुदीप व्यास ने बताया कि बीते दो सालों से कोरोना काल के चलते सामान्य रूप से कोचिंग कैंप आयोजित किया गया था, लेकिन 26 मार्च से आयोजित होने वाले प्रशिक्षण शिविर में बड़ी संख्या में खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। कैंप के दौरान 10 से 14 वर्ष एवं 14 से 18 वर्ष के खिलाड़ियों को कोचिंग दी जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: