विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 29 मार्च - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 29 मार्च 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 29 मार्च

महामाई मेले हेतु तमाम व्यवस्थाऐं सुनिश्चित की जाएंगी- कलेक्टर


vidisha news
चौत्र नवरात्रि में सिरोंज में श्री महामाई मंदिर परिसर में आयोजित होने वाले धार्मिक कार्यक्रमों को ध्यान में रखते हुए तमाम प्रबंध सुनिश्चित किए जाएंगे यह बात आज समिति के द्वारा तैयारियों के परिप्रेक्ष्य आयोजित बैठक में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने व्यक्त किए है। उन्होंने कहा कि जिन-जिन विभागों को जो जो कार्य सौंपे गए हैं उनका क्रियान्वयन समयावधि में सुनिश्चित करेंगे। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि पूर्व के अनुभव आधार पर व्यवस्थाओं और सुधार श्रद्धालुओं को  दिखे यह हम सब का नैतिक दायित्व है।  सिरोंज विधायक श्री उमाकांत शर्मा ने आयोजनों के मद्देनजर विभागों को जो जिम्मेदारी सौंपी गई हैं  उन पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए अब तक जिन विभागों के द्वारा कार्यों को पूर्ण कराया जा चुका है उन सब के प्रति साधुवाद व्यक्त किया है। क्षेत्रीय विधायक श्री उमाकांत शर्मा ने कहा कि महामाई माता का दरबार अत्यंत प्राचीन है। इस क्षेत्र में भयंकर जंगल होने के कारण ही इसे डांगवाली माता कहा जाता है। यह मेला धार्मिक होने के साथ साथ जनसेवा का केन्द्र बने इसलिए यहां सेवा केंप के माध्यम से जनसेवा के कार्य हों। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला, एसडीएम प्रवीण प्रजापति के अलावा विभिन्न विभागों को जिलाधिकारी व खंडस्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

आयोजन स्थलों का जायजा-

बैठक के उपरांत महामाई में आयोजित होने वाले मेला स्थलों का मौके पर पहुंचकर जायजा लिया है। इस दौरान मेला आयोजन की व्यवस्थाओं को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।


जिले में 14956 हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया गया, गांव गरीब और किसानों के हितों हेतु सदैव चिंतित


vidisha news
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत आज विदिशा जिले में 14956 हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया गया है। जिला स्तरीय कार्यक्रम विदिशा विकासखंड के ग्राम सुनपुरा में आयोजित किया गया था ।यहां 51 हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया गया है। वहीं अतिथियों द्वारा विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित होने वाले हितग्राहियों को स्वीकृति पत्र प्रदान किए गए हैं। जिला स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान सदैव गांव गरीब और किसानों के हितों की चिंता करते ही नहीं रहते हैं बल्कि इनके उत्थान के लिए क्या संभव है उसकी पूर्ति कराने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते हैं। उन्होंने अपने सरपंच कार्यकाल पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अब ग्राम पंचायतों को एक साथ सैकड़ों की संख्या में आवास स्वीकृत कर हितग्राहियों को लाभान्वित किया जा रहा है। विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव ने प्रधानमंत्री के प्रति साधुवाद व्यक्त करते हुए कहा कि गरीबों का पक्के आशियाना हो यह हर सरकार की मंशा है उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्रियों के कार्यकाल में आवासों के निर्माण के संबंध में लिए गए निर्णय को भी रेखांकित किया है। विदिशा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष व जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्य श्री मुकेश टंडन ने कहा कि हितग्राहियों को पक्के आवास मिल जाने से उनके जीवन में बदलाव व प्रगति के सूचक है।


हितग्राहियों को कराया गृह प्रवेश-

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत आज विदिशा के ग्राम सुनपुरा में मुख्यमंत्री जी के का उद्बोधन तथा प्रधानमंत्री जी के लाइव उद्बोधन को  देखा सुना गया है। अतिथियों के द्वाराआवास योजना से लाभांवित हितग्राहियों को फीता ग्राम माधौपुरा के निवासी श्री गणपत सिंह कुशवाहा प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) से लाभान्वित हुए हैं और आज मंगलवार को उनको गृह प्रवेश कराया गया है। इसी के साथ माधौपुरा गांव के ही श्री देवीसिंह कुशवाहा के परिवार को भी गृह प्रवेश कराया गया है। गृह प्रवेश कार्यक्रम के पहले हितग्राहियों ने अपने  पक्के आवास को अच्छी तरह से सजाया  था। योजना से लाभांवित हितग्राहियों ने स्वयं ही गृह प्रवेश कार्यक्रम के पहले अपने मकान की आकर्षक साज-सज्जा की थी। आवास के मुख्य द्वार पर कलश सजाए गए थे जो आकर्षण का केंद्र रहे।


पंचायतों की प्रारूप मतदाता सूची का प्रकाशन 4 अप्रैल को


मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने मध्यप्रदेश पंचायत निर्वाचन नियमों के तहत पंचायतों के आगामी निर्वाचन के मद्देनजर एक जनवरी 2022 की संदर्भ तिथि के आधार पर फोटो युक्त मतदाता सूची के वार्षिक पुनरीक्षण वर्ष 2022 की तैयारी हेतु कार्यक्रम जारी किया है। उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग ने बताया कि आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार ग्राम पंचायतों की फोटोयुक्त प्रारूप मतदाता सूची का सार्वजनिक प्रकाशन 4 अप्रैल को ग्राम पंचायत एवं विहित स्थानों पर किया जायेगा। प्रारूप मतदाता सूची पर दावे-आपत्तियां प्राधिकृत कर्मचारी द्वारा विहित केन्द्रों पर 4 अप्रैल से 11 अप्रैल की दोपहर 3 बजे तक प्राप्त की जायेगी। प्राप्त दावे-आपत्तियों का निराकरण 16 अप्रैल तक किया जायेगा। दावे-आपित्तयों के निराकरण के बाद फोटोयुक्त अंतिम सूची का प्रकाशन संबंधित रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों द्वारा 25 अप्रैल को ग्राम पंचायतों एवं विहित स्थानों पर किया जायेगा।


 रोजगार दिवस कार्यक्रम आज


युवाओं को स्वयं का रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए मुख्यमंत्री की मंशा अनुरूप अब बुधवार 30 मार्च को रोजगार दिवस कार्यक्रम  जिला मुख्यालय पर आयोजित होगा। पहले यह कार्यक्रम 29 मार्च को होने वाला था। उद्योग आयुक्त एवं सचिव एमएसएमई श्री पी. नरहरि ने बताया कि प्रदेशव्यापी रोजगार दिवस कार्यक्रम मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में 30 मार्च की सांय 4 बजे से रीवा में  होगा। राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण न्यूज चेनलों एवं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से किया जायेगा एवं इस प्रसारण को जिला स्तरीय कार्यक्रम में भी दिखाने की व्यवस्था स्थानीय स्तर पर जिला प्रशासन द्वारा की जायेगी। सभी जिलों में रोजगार दिवस कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। रोजगार दिवस कार्यक्रम के आयोजन में विभिन्न स्व-रोजगार योजनाओं के लाभांवित हितग्राहियों को आमंत्रित कर उन्हें अतिथियों द्वारा स्वीकृति, वितरण पत्र सांकेतिक रूप से प्रदाय किए जाएंगे। शेष अन्य हितग्राहियों को संबंधित बैंक, विभाग 30 मार्च को स्वीकृति वितरण की कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे।


 कलेक्टर्स, कमिश्नर्स वीडियो कॉन्फ्रेस मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में 8 अप्रैल को


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में कलेक्टर्स, कमिश्नर्स वीडियो कॉन्फ्रेस 8 अप्रैल को आयोजित की गई है। कलेक्टर्स, कमिश्नर्स कॉन्फ्रेस के लिये अधिकारी एजेण्डानुसार संबंधित अधिकारी जानकारी भेंजे। जानकारी में किसी भी प्रकार की कमियां नहीं होनी चाहिये।


 समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन का कार्य 4 अप्रैल से


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि जिले में  समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी कार्य 4 अप्रैल से प्रारंभ किया जायेगा।  उन्होंने सभी कृषकों से आह्वान किया कि वे साफ सुथरा अनाज उपार्जन केंद्रों पर  विक्रय हेतु लायें  ताकि उन्हें  किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े। इसके लिये जिले में 230 खरीदी केन्द्र बनाये गये है। उन खरीदी केन्द्रों पर संबंधित एसडीएम, तहसीलदार भ्रमण कर आवश्यक व्यवस्थाओं को देंखे। किसानों को अपनी उपज बेचते समय किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिये।  जिले में 94 हजार से अधिक किसानों ने पंजीयन कराया गया है। 


 मंडियों में किसान के साथ फसल बेचते समय त्रुटि नहीं होनी चाहिये - कलेक्टर


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले के समस्त एसडीएम, तहसीलदार सहित समस्त मंडी सचिवों को निर्देश दिये है कि  4 अप्रैल से किसान अधिक मात्रा में गेहूं के अलावा अन्य फसलों को बेचने के लिये गल्ला मंडियों में पहुंचेंगे  है। किसानों के साथ किसी भी प्रकार ज्यादती नहीं चाहिये। किसान को उनकी फसल का बाजिब दाम मिले, यह अधिकारी सुनिश्चित करें।


 31 मार्च से उप कोषालय बंद होंगे


जिला कोषालय अधिकारी श्री उमेश श्रीवास्तव ने कोष लेखा आयुक्त द्वारा जारी निर्देशों का हवाला देते हुए बताया कि मध्यप्रदेश शासन के निर्देशानुसार 31 मार्च के बाद उप कोषालय पूर्णतः बंद किये जायेंगे। उप कोषालयों का कार्य जिला कोषालय से किया जायेगा। विदिशा जिले की तहसीलों में संचालित उप कोषालय 31 मार्च के बाद पूर्णतः बंद किये जायेंगे। वहां के देयक आदि का कार्य ऑनलाइन के माध्यम से जिला कोषालय में जमा किये जायेंगे। 


 मलेरिया के लक्षण और बुखार होने पर तुरंत शासकीय स्वास्थ्य संस्था पर जांच कर ईलाज लें


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ए के उपाध्याय ने जिले के नागरिकों से  कहा है कि  मौसम के बदलाव के साथ-साथ मच्छरों का प्रकोप भी बढ़ने लगा है। मच्छरों को बढ़ने से रोकने के लिये घर एवं बाहर सफाई रखें, मच्छरों के प्रजनन स्थलों को नष्ट करें। घर में पानी के घढ़े, टंकी एवं गमले आदि का साफ एवं स्वच्छ रखें। बच्चे और बड़े दोंनो को फुल अस्तीन के कपड़े पहनें। मच्छरदानी का उपयोग करें, क्योंकि एनाफिलिज मच्छर रात को ही काटता है। मलेरिया के लक्षण एवं बुखार होने पर तुरंत शासकीय स्वास्थ्य संस्था पर जांच कर ईलाज लें, जिससे मलेरिया से बचा जा सके। सीएमएचओ डॉ उपाध्याय ने  ततसंबंध में जिला मलेरिया अधिकारी को भी आवश्यक निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में मलेरिया से बचाव संबंधी जन जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन सतत करते रहे।



कोई टिप्पणी नहीं: