बिहार : ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम’ के अंतर्गत जागरूकता कार्यक्रम - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 23 मार्च 2022

बिहार : ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम’ के अंतर्गत जागरूकता कार्यक्रम

msme-awareness-programe
पटना, आज़ादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत केंद्र सरकार की एमएसएमई योजनाओं के प्रचार प्रसार के लिए आज बिहार उद्योग संघ के सभागार मे जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमे भारत सरकार, एमएसएमई मंत्रालय के द्वारा चलायी जा रही विभिन्न योजनाओ एवं मंत्रालय के द्वारा एमएसएमई के विकास हेतु दिये जा रहे इन्सेंटिव तथा संबन्धित विषयों पर विशेषज्ञों ने चर्चा की।  कार्यक्रम का उदघाटन बिहार सरकार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने  किया गया I कार्यक्रम मे पशुपालन एवं मत्स्य विभाग बिहार सरकार के सचिव नर्मदेश्वर लाल, बिहार उद्योग संघ के उपाध्यक्ष, अरविंद कुमार सिंह, भारतीय मानक ब्यूरो पटना के प्रमुख एवं वैज्ञानिक सुमन कुमार गुप्ता , रिजर्व बैंक औफ़ इंडिया के क्षेत्रीय निदेशक संजीव दयाल,खादी ग्रामोद्योग आयोग पटना के निदेशक डॉ. मोहम्मद हानिफ मेवाती, राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम पटना के वरीय शाखा प्रबंधक शैलेश कुमार, बिहार राज्य के विभिन्न उद्योग समूहों के प्रतिनिधिगण एवं उद्यमियों ने हिस्सा लियाI कार्यक्रम मे 100 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लियाI  कार्यक्रम के उदघाटन समारोह को संबोधित करते हुए उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने भारत सरकार, एमएसएमई मंत्रालय के द्वारा चलायी जा रही विभिन्न योजनाओ को राज्य के सूक्ष्म,लघु एवं मध्यम उद्यमियों के विकास के लिए महत्वपूर्ण कड़ी बताया I  कार्यक्रम के तकनीकी सत्र मे मंत्रालय के द्वारा चलायी जा रही विभिन्न योजनाओ के बारे मे विशेषज्ञ अतिथि वक्ताओं ने प्रतिभागियों को बौद्धिक संपदा अधिकार (आईपीआर), खरीद एवं विपणन योजना, उद्यम पंजीकरण एवं इस संबंध मे एमएसएमई मंत्रालय के द्वारा चलायी जा रही योजनाओं के बारे विस्तार से प्रतिभागियों को बताया I 

कोई टिप्पणी नहीं: