मातृभाषा में उच्च शिक्षा उपलब्ध कराने के हो रहे प्रयास : मोदी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 24 मार्च 2022

मातृभाषा में उच्च शिक्षा उपलब्ध कराने के हो रहे प्रयास : मोदी

higher-education-in-mother-toung
नयी दिल्ली, 24 मार्च, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को मातृभाषा में शिक्षा के महत्व पर बल देते हुए कहा कि पेशेवर पाठ्यक्रमों को मातृभाषा में तैयार करने के प्रयास किए जा रहे हैं,जिससे मातृभाषा में उच्च शिक्षा को वास्तविकता बनाया जा सकेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने निवास पर सिख समुदाय के प्रमुख लोगों के एक शिष्टमंडल से मुलाकात और चर्चा के दौरान यह बात कही। शिष्टमंडल ने प्रधानमंत्री के साथ किसान कल्याण, युवा सशक्तिकरण, नशा मुक्त समाज, राष्ट्रीय शिक्षा नीति, कौशल, रोजगार, प्रौद्योगिकी और पंजाब में विकास यात्रा जैसे विभिन्न विषयों पर खुलकर विस्तार से चर्चा की। प्रधानमंत्री ने शिष्टमंडल के साथ मुलाकात पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि बुद्धिजीवी समाज में विचारों के प्रसार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने शिष्टमंडल से अनुरोध किया कि वे आम लोगों को शिक्षित तथा जागरूक बनाने में सहयोग करें। उन्होंने एकता की भावना पर बल देते हुए कहा कि यह हमारी देश की विविधता का केंद्रीय स्तंभ है शिष्टमंडल ने सिख समुदाय की बेहतरी के लिए सरकार द्वारा निरंतर उठाए जा रहे कदमों की भी सराहना की। 

कोई टिप्पणी नहीं: