बिहार : राशन कार्डधारी का पांच लाख तक मुफ्त इलाज - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 26 मार्च 2022

बिहार : राशन कार्डधारी का पांच लाख तक मुफ्त इलाज

free-health-treatment-bihar-mangal-pandey
पटना : बिहार विधानसभा ने आगामी वित्तीय वर्ष के लिए स्वास्थ्य विभाग की एक सौ इकसठ अरब चौंतीस करोड़ रुपये से अधिक की बजट अनुदान ध्वनिमत से पारित कर दीं। बिहार विधानसभा में बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा उठाए गए कदमों की चर्चा की। उन्होने मुंगेर और मोतीहारी में दो मेडिकल कालेज और 150-150 बिस्तरों वाले अस्पताल की स्थापना किए जाने की घोषणा की। इसके साथ ही साथ मंगल पांडेय ने कहा कि बिहार राज्य के सभी राशनकार्ड धारी लोगों का प्रति वर्ष पांच लाख तक का इलाज मुफ्त में किया जाएगा। फिलहाल राज्य के साढ़े पांच करोड़ लोगों को इसका लाभ मिल रहा है। अब बिहार सरकार अपनी राशि से इसका लाभ चार करोड़ और लोगों को देगी। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने विधानसभा में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि राज्य के लोगों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह एक और बहुत बड़ा तोहफा दिया है।अप्रैल में शुरू हो रहे वित्तीय वर्ष 2022-23 से यह सुविधा मिलने लगेगी। उन्होंने कहा कि राज्य के एक करोड़ नौ लाख परिवार के सदस्यों को आयुष्मान योजना के अंतर्गत प्रति वर्ष पांच लाख तक की चिकित्सा सुविधा मुफ्त में उपलब्ध करायी जाती है। इन लाभार्थियों की सूची में राज्य के 85 लाख राशन कार्डधारी परिवार बाहर थे, जिन्हें आयुष्मान योजना की तर्ज पर ही चिकित्सा सुविधा राज्य सरकार उपलब्ध कराएगी। इसके साथ अब बिहार के शहरी क्षेत्रों में लोगों को मात्र 20 मिनट और ग्रामीण क्षेत्रों में मात्र 30 मिनट में एंबुलेंस की सुविधा मुहैया करवाई जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: