बिहार : महादलित प्रकोष्ठ के पंचायत अध्यक्ष दिनेश सादा के पुत्र की हत्या - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 3 मार्च 2022

बिहार : महादलित प्रकोष्ठ के पंचायत अध्यक्ष दिनेश सादा के पुत्र की हत्या

mahadalit-murdered-bihar
बसनही. बथनाहा गांव निवासी महादलित प्रकोष्ठ के पंचायत अध्यक्ष दिनेश सादा के पुत्र संतोष सादा की हत्या गला रेत कर दी गयी.संतोष सादा इलेक्ट्रॉनिक दुकानदार था.दुकान से परिवार का भरण पोषण करता था.सहसौल बाजार स्थित दुकान में रविवार की रात को बदमाशों के द्वारा कर दिया गया था.इस संबंध में बसनही थानाध्यक्ष रहमान अंसारी ने बताया कि बहुत जल्द ही घटना के कारण सहित मामले का उद्भेदन कर लिया जाएगा.महादलित हीरा सादा ने पीड़ित परिवार को बीस लाख मुआवजा और परिवार के किसी व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की मांग की है.  बसनही थाना क्षेत्र के सहसौल बाजार में दुकान के अंदर 30 वर्षीय दुकानदार की गला रेत कर हत्या कर दी गई. बथनाहा गांव निवासी दिनेश सादा का 30 वर्षीय पुत्र संतोष सादा सहसौल बाजार में इलेक्ट्रॉनिक की दुकान चलाता था. संतोष हर रोज समय से अपनी दुकान बंद कर घर चला जाता था लेकिन रविवार की रात घर नहीं पहुंचा. स्वजनों ने निकट के गांव बलेठा में मेला लगा होने की वजह से संतोष की खोजबीन नहीं की. सोमवार सुबह ग्रामीणो द्वारा दुकान में संतोष सादा का शव देखे जाने के बाद स्वजनों को घटना की जानकारी मिली. जिसके बाद शव को देखने मौके पर लोगो की भीड़ जुटने लगी. घटना की सूचना बाद पुलिस पहुँच मामले की छानबीन में जुटी है. बसनही थाना क्षेत्र के सहसौल गांव में महादलित प्रकोष्ठ के पंचायत अध्यक्ष के पुत्र व इलेक्ट्रॉनिक दुकानदार बथनाहा गांव निवासी संतोष सादा कि हत्या के चौबीस घंटे से अधिक बीत जाने के बाद भी घटना के कारणों का पता करने में विफल साबित हो रही है.जबकि घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों का विरोध बसनही पुलिस को झेलने के बाद वरीय अधिकारियों के हस्तक्षेप पर जल्द मामले का उद्भेदन करने और हत्यारे को गिरफ्तार करने की बात किया गया था.वाबजूद चौबीस घंटे बीत जाने के बाद हत्यारे कि गिरफ्तारी की बात तो दूर हत्या के कारणों का भी पता बसनही थाना पुलिस नहीं लगा पाई है.जिससे आमजनों ने पुलिस के कार्यशैली पर उंगलियां उठाने लगी है.घटना के बाद बसनही थाना पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए मृतक के पत्नी वीभा देवी के आवेदन पर मामला दर्ज करते हुए एक नामजद आरोपी को गिरफ्तार तो कर लिया.लेकिन घटना के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है.हत्या क्यों और कैसे हुई, इसका पता अभी तक नहीं चल सका है. इस संबंध में बसनही थानाध्यक्ष रहमान अंसारी ने बताया कि बहुत जल्द ही घटना के कारण सहित मामले का उद्भेदन कर लिया जाएगा.मौके पर पहुंचे सिमरी बख्तियारपुर के एसडीपीओ इम्तियाज अहमद ने हत्यारों की शिनाख्त कर जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. इस संबंध में डीएसपी इम्तियाज अहमद ने कहा कि हत्या के कारण का अबतक पता नहीं चल पाया है. पुलिस कई विंदुओं पर मामले की जांच कर रही है. जल्द ही घटना का पर्दाफाश कर लिया जाएगा.घटना को अंजाम देने वाले अपराधी जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे. एक बदमाश को पकड़ा गया है.  

कोई टिप्पणी नहीं: