मंत्री पद मिलना अप्रत्याशित नहीं था : दानिश - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 मार्च 2022

मंत्री पद मिलना अप्रत्याशित नहीं था : दानिश

ministry-was-not-unexpected-danish-ansari
लखनऊ, 25 मार्च, उत्तर प्रदेश की नवगठित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार में एकमात्र मुस्लिम मंत्री के तौर पर शामिल किए गए दानिश अंसारी का कहना है कि उन्हें मंत्री बनाया जाना अप्रत्याशित नहीं था बल्कि यह एक समर्पित कार्यकर्ता के प्रति पार्टी शीर्ष नेतृत्व के भरोसे का प्रतीक है। दानिश ने प्रदेश के राज्य मंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद 'पीटीआई-भाषा' से बातचीत में एक सवाल पर कहा, ‘‘मेरे जैसे एक आम कार्यकर्ता को पार्टी नेतृत्व ने इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी है। इसके लिए मैं उसका धन्यवाद देता हूं। मैं विश्वास दिलाता हूं कि पूरी ईमानदारी से अपने कर्तव्य का निर्वहन करुंगा।’’ इस सवाल पर कि क्या मंत्री पद मिलना उनके लिए अप्रत्याशित था, उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा नहीं था। दरअसल भाजपा अपने हर कार्यकर्ता की मेहनत की कद्र करती है। यह मेरे जैसे साधारण कार्यकर्ता के लिए पार्टी शीर्ष नेतृत्व के भरोसे का प्रतीक है।’’ नवगठित सरकार के एकमात्र मुस्लिम मंत्री ने दावा किया कि समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने मुसलमानों के मन में भाजपा के प्रति नफरत और भ्रम फैलाया, लेकिन अब यह भ्रम जाल टूट चुका है। उन्होंने कहा, "मुसलमानों का भाजपा में विश्वास बढ़ रहा है। भाजपा की जनकल्याणकारी योजनाओं का काफी फायदा मुस्लिम समुदाय को मिल रहा है। सरकार किसी का धर्म और जाति पूछकर योजनाओं का फायदा नहीं देती। भाजपा मुसलमानों की बुनियादी सुविधाओं और जरूरतों के लिए काम करती है।"

कोई टिप्पणी नहीं: