बिहार : VIP के तीनों विधायकों ने छोड़ा मुकेश सहनी का साथ - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 23 मार्च 2022

बिहार : VIP के तीनों विधायकों ने छोड़ा मुकेश सहनी का साथ

mukesh-sahni-mla-join-bjp
पटना : मुकेश सहनी की पार्टी विकासशील इंसान पार्टी के शेष तीनों विधायक मिश्री लाल यादव, राजू सिंह और स्वर्णा सिंह ने सहनी का साथ छोड़ते हुए भाजपा को अपना समर्थन दिया है। उम्मीद है कि जल्द ही संसदीय प्रक्रिया का पालन करते हुए उक्त तीनों विधायकों का भाजपा में विलय हो जाएगा। 20 के विधानसभा चुनाव में लोजपा के सिंबल पर मटिहानी से विधायक चुने गए राजू कुमार सिंह ने जदयू का दामन थामा था। इसके बाद अब विकासशील इंसान पार्टी के विधायकों ने भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं। तीनों विधायकों के विलय होते हीं बिहार की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा हो जाएगी। ज्ञातव्य हो कि विकास इंसान पार्टी के तीनों विधायक लगातार भाजपा के संपर्क में थे। उन विधायकों का कहना था कि मुकेश सहनी को भाजपा के खिलाफ अपना रवैया बदलना होगा, गठबंधन धर्म का पालन करना होगा। गठबंधन में रहते हुए मुकेश सहनी भाजपा के खिलाफ इस तरह की बयानबाजी नहीं कर सकते हैं। आखिर यही भाजपा है, जो मुकेश सहनी को चुनाव हार जाने के बाद भी एमएलसी बनाकर मंत्री बनाया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश चुनाव में मुकेश सहनी भाजपा के प्रति मुखर रहे, उसी समय तय हो गया था कि मुकेश सहनी का एनडीए में खेल खत्म होने वाला है। उत्तर प्रदेश चुनाव का परिणाम आने के बाद भाजपा के विधायकों ने एक सुर में सहनी के खिलाफ आवाज उठानी शुरू कर दी, विधायकों का कहना था कि उनके पार्टी के जो भी विधायक हैं, उनको भाजपा में शामिल कराएंगे। साथ ही केंद्रीय आलाकमान से यह मांग करेंगे कि जल्द से जल्द मुकेश सहनी को नीतीश कैबिनेट से बर्खास्त किया जाय। इसके बाद मुकेश सहनी ने स्थानीय प्राधिकार कोटे से बिहार विधान परिषद चुनाव को लेकर भाजपा के खिलाफ उम्मीदवार उतार दिए। इससे भाजपा काफी नाराज थी और बदले में भारतीय जनता पार्टी ने बोचहां सीट पर अपना उम्मीदवार दे दी। जबकि 2020 के चुनाव में मुकेश साहनी की पार्टी ने इस सीट से चुनाव लड़ा था। प्रत्याशी की घोषणा के बाद ही तय हो गया था कि मुकेश सहनी किसी भी दिन एनडीए से बाहर हो जाएंगे। बहरहाल, वे एनडीए से बाहर हो चुके हैं और उनके दल के सभी विधायक भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं। बता दें कि बोचहां सीट को लेकर बीते दिन मुकेश सहनी ने कहा था कि हमारे दल के विधायक जीत कर आएंगे, वे एनडीए का समर्थन करेंगे। लेकिन, अब यह मुश्किल लग रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: