बिहार : मुकेश साहनी को बर्खास्त किये जाने का निर्णय स्वागत योग्य - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 28 मार्च 2022

बिहार : मुकेश साहनी को बर्खास्त किये जाने का निर्णय स्वागत योग्य

naresh-mahto-wolcome-mukesh-sahni-discharge

पटना 28 मार्च, राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव सह भाजपा प्रदेष कार्यसमिति सदस्य श्री नरेष महतो एंव मोर्चा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सह भाजपा नेता श्री नीलमणि पटेल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर मत्स्य मंत्री श्री मुकेष साहनी की बर्खास्तगी पर प्रषन्नता व्यक्त करते हुए राज्य सरकार के इस फैसले की सराहना की है। मोर्चा नेताओ ने कहा कि एक ओर मुकेष साहनी अपने राजनीतिक जीवन मे भाजपा के पोषण एव संरक्षण मे ही सफलता प्राप्त किये वहि दुसरी ओर मंत्री पद मिलने के बाद वे लगातार भाजपा के षीर्ष नेतृत्व के खिलाफ बिगुल फुकने का काम किये। अवसरवादी राजनेताओ की सूची मे यदि किसी नेता को याद किया जायेगा तो उसमे मुकेष साहनी को प्रथम स्थान प्राप्त होगी।

मोर्चा नेताओ ने कहा कि इनकी बर्खास्तगी राज्य मंत्रीमंडल से पहले ही होनी चाहिए थी किन्तु देर से ही सही यह कदम न्याय और नीति संगत है। सत्ता से हटते ही श्री मुकेष साहनी जी को सामाजिक न्याय के प्रणेता व अति पिछडो के मसीहा स्व0 कर्पुरी ठाकुर जी की याद आ रही है किन्तु सच्चाई यह है कि श्री मुकेष साहनी को पिछडा, अतिपिछडा एव कर्पुरी ठाकुर जी की नीतियो एंव सिद्धातो से काई वास्ता नही है। कर्पुरी ठाकुर समाज के दबे कुचले,षोषितो पीडितो की आवाज थे जबकि मुकेष साहनी को गरिबो,पिछडो,दलितो से दुर दुर तक का वास्ता नही है। वे केवल मुम्बई से आये हुए एक व्यापारी है न की संधर्षषील नेता।

कोई टिप्पणी नहीं: