प्रतापगढ़ : लोक अदालत के अभियान में सैंकड़ों मामलें राजीनामा से तय - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 12 मार्च 2022

प्रतापगढ़ : लोक अदालत के अभियान में सैंकड़ों मामलें राजीनामा से तय

national-lok-adalat-pratapgadh
प्रतापगढ़, शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में अनेकों मामलों पर राष्ट्रीय लोक अदालत की मुहर लगी और राजीनामें तय हुए। जिला मुख्यालय पर आज सवेरे से ही ए.डी.आर सेन्टर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष जिला एवं सेशन न्यायाधीश-महेन्द्र सिंह सिसोदिया के कर-कमलों से मां सरस्वती के सम्मुख दीप-प्रज्जवलन की रस्म निर्वाह के साथ प्राधिकरण के तत्वावधान में आयोजित हुई राष्ट्रीय लोक अदालत की बैंचों में जिला एवं ताल्लुका न्यायालयों में मुकदमा दर्ज करने से पूर्व प्रि-लिटीगेशन मामलों एवं न्यायालयों में लम्बित मामलों  राष्ट्रीय लोेक अदालत बैंच के अध्यक्ष एवं सदस्यगण ने ए0डी0आर0 सेन्टर एवं न्यायालयों में आये पक्षकारान को अपने मामले को आपसी सहमति व समझाईश करने से निपटाने को सहजता से तैयार हो गये। राष्ट्रीय लोक अदालत अभियान के तहत न्यायालयों में लम्बित मामलों में से लोक अदालत की भावना से राजीनामा वार्ता कराई जिसके चलते अनेकों मामलें निपटे, जिनमें न्यायालयों में विचाराधीन मामलो एवं मुकदमा दर्ज करने से पूर्व एक बार मिल तो ले की तर्ज पर-प्रि-लिटीगेशन मामलों को करोड़ों रूपये के राजीनामे तय हुए। आम जन को सस्ता शीघ्र एवं सुलभ न्याय दिलाने के मद्धेनजर आज प्राधिकरण के तत्वावधान में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत 12 बैंचों के माध्यम से न्यायिक अधिकारीगण एवं अधिवक्तागण ने प्राधिकरण के इस पुनीत एवं पावन कार्यक्रम में अपना सक्रिय सहयोग देते हुए आज के इस सफल आयोजन में पक्षकारान के बीच आपसी मध्यस्थता से विवादों का निपटारा कराने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हुए मामलों को निपटाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

कोई टिप्पणी नहीं: