वायनाड की जिलाधिकारी ने कथकली प्रस्तुत किया - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 27 मार्च 2022

वायनाड की जिलाधिकारी ने कथकली प्रस्तुत किया

wayanad-dm-dance-kathakali
वायनाड (केरल), 26 मार्च, अपने व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद वायनाड की जिलाधिकारी ए गीता ने नौकरशाही के अपने कार्यों के साथ ‘कथकली’ के प्रति अपने शौक के बीच तालमेल बनाने का समय निकाला और यहां एक सांस्कृतिक उत्सव में अपनी ‘अरंगेट्टम’ (पहली प्रस्तुति) दी। अपने स्कूली दिनों से नृत्य कर रहीं गीता कई मंचों पर अपनी कला प्रदर्शित कर चुकी हैं। हालांकि, उनके मन में केरल की लोकप्रिय कला ‘कथकली’ सीखने और इसे मंच पर प्रस्तुत करने की इच्छा थी, जिसे उन्होंने शनिवार की रात को पूरा किया। पिछले साल सितंबर में जिलाधिकारी के पद पर तैनात गीता उस वक्त चर्चा में आई थीं जब नवंबर में उन्होंने एक आश्रय गृह में एक जोड़े के विवाह समारोह में शानदार नृत्य किया था। गीता का फिल्म ‘कोच्चू कोचु संथोशंगल’ के गाने ‘घनश्यामा वृंदारण्यम’ पर डांस करने का वीडियो तब सोशल मीडिया पर काफी प्रसारित हुआ था। गीता ने ‘नालचरितम्’ में दमयन्ती का किरदार निभाया था। कथकली प्रस्तुति में भाग लेने वाले अन्य कलाकारों में सेवानिवृत्त जिला योजना अधिकारी सुभद्रा नायर और मृदा संरक्षण विभाग के अधिकारी राठी सुधीर भी शामिल थे। कार्यक्रम स्थल पर मौजूद लोगों में विधायक ओ आर केलू और टी सिद्दीकी भी शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं: