IPL : हमारे पास पर्याप्त विकल्प हैं : सैमसन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 28 मार्च 2022

IPL : हमारे पास पर्याप्त विकल्प हैं : सैमसन

we-have-all-option-sanju-samson
पुणे, 28 मार्च, राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में इस बार उनके पास मजबूत टीम है जिसमें खेल के हर विभाग में पर्याप्त विकल्प मौजूद हैं और इसलिए टीम खिताब के 13 साल के इंतजार को खत्म करने की उम्मीद कर रही है। आईपीएल 2008 के चैंपियन रॉयल्स ने इस सत्र में सैमसन के अलावा जोस बटलर, देवदत्त पडिक्कल, रविचंद्रन अश्विन, ट्रेंट बोल्ट और युजवेंद्र चहल जैसे कुछ नामी खिलाड़ियों को अपनी टीम में लिया है। सैमसन ने कहा कि जल्द से जल्द आपस में सामंजस्य बिठाना टीम की जीत के लिये महत्वपूर्ण होगा। सैमसन ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मंगलवार को होने वाले रॉयल्स के पहले मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘हमारा ध्यान जल्द से जल्द आपसी तालमेल स्थापित करना है। इस बार हमारे पास एक अलग टीम है। टीम में कुछ नये सदस्य हैं, इसलिए आपसी सामंजस्य बिठाना और अपने साथियों को समझना महत्वपूर्ण है।’’ उन्होंने वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, ‘‘पिछले दो तीन सत्र से हमने निश्चित रूप से सीख ली है। हमने कुछ विकल्पों पर चर्चा की और उस पर अमल किया और हमें नीलामी में एक बहुत अच्छी टीम मिली।’’ सैमसन ने कहा कि रॉयल्स के पास लगभग दो माह तक चलने वाले इस टूर्नामेंट के लिये पर्याप्त विकल्प मौजूद हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी टीम में काफी भारतीय और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी हैं। यह बहुत लंबा टूर्नामेंट है। हमें सभी खिलाड़ियों की मानसिकता, फिटनेस और फॉर्म को समझने की जरूरत है। लेकिन हमारे पास पर्याप्त विकल्प मौजूद हैं।’’ लसिथ मलिंगा ने हाल ही में राजस्थान रॉयल्स के गेंदबाजी कोच का पद संभाला और सैमसन ने कहा कि वह उनके लिये काम आसान कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत अच्छा है कि हमारे साथ लसिथ और कुमार संगकारा (क्रिकेट निदेशक) जैसे दिग्गज हैं जिन्हें खेलते देखकर हम बड़े हुए हैं। वे हम जैसे युवाओं को अपने खेल को बेहतर तरीके से समझने में मदद कर रहे हैं।’’

कोई टिप्पणी नहीं: