झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 26 अप्रैल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 26 अप्रैल 2022

झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 26 अप्रैल

श्री राम तत्व स्वरचित काव्य स्पर्धा में यशवंत भंडारी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया, शब्द सुरभि साहित्य कला विकास ट्रस्ट ने किया पुरस्कृत


jhabua news
झाबुआ। शब्द सुरभि साहित्य कला विकास ट्रस्ट दाहोद एवं श्री राम को-ऑपरेटिव क्रेडिट सोसायटी के तत्ववाधान में आयोजित श्री राम तत्व स्वरचित ओपन काव्य स्पर्धा में जिले के वरिष्ठ साहित्यकार यशवंत भंडारी ‘यश’ ने प्रथम स्थान प्राप्त कर जिले का नाम भारतभर में रोशन किया। वहीं श्रीमती भारती सोनी एवं पारा के अनिल श्रीवास्तव ने भी अपने वर्ग मे द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त किया। जानकारी देते हुए आयोजक दीपेंद्रसिंह सिसोदिया एवं मौलिक क्षोत्रिय ने बताया कि पिछले दिनों संस्था द्वारा अखिल भारतीय स्तर पर श्री राम तत्व स्वरचित काव्य ओपन स्पर्धा का आयोजन व्हाट्सएप के माध्यम से किया गया था। जिसमें देशभर के 60 से अधिक रचनाकारों ने अपनी स्व रचित रचनाएं प्रेषित की। स्पर्धा को विभिन्न भागों में विभाजित किया। जिसमें हिंदी भाषा वर्ग में दो भागों में प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। राष्ट्रीय स्तय की इस प्रतियोगिता में वरिष्ठ साहित्यकार यशवंत  भंडारी ने प्रथम स्थान एवं जूनियर वर्ग में प्रथम स्थान उज्जैन के दीपक कटकानी को मिला।


विजेताओं को किया गया पुरस्कृत

राष्ट्रीय कवि संगम के जिला मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी ने बताया कि स्पर्धा में भाग लेकर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले सभी रचनाकारों का एक गरिमामयी कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें अतिथियों के रुप में प्रसिद्ध  चिकित्सक डॉ. पीडी मोदी, क्रेडिट सोसाइटी के अध्यक्ष भारतसिंह सोलंकी एवं शब्द सुरभि साहित्य कला विकास ट्रस्ट अध्यक्ष डॉ. कपिल त्रिवेदी की उपस्थिति में विजेताओं को प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किए गए। इस अवसर पर विजेता प्रतियोगियों द्वारा प्रतिोगिता में स्थान पाने वाली स्वरचित रचनाओं का इस दौरान प्रस्तुतिकरण भी किया गया। पुरुस्कार वितरण के गरिमामय समारोह में जिले से वरिष्ठ साहित्यकार एमएल फूलपगारे, सुरेश पुरोहित, प्रवीण सोनी, प्रदीप अरोड़ा, प्रकाशचन्द्र त्रिवेदी सहित अनेक साहित्यकार उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन मौलिक क्षोत्रिय ने किया। आभार जितेंद्रसिंह सिसोदिया ने माना।


तिक्रमण के नाम पर बुलडोजर शिवराम मामा नहीं चलवा रहे, अपितु कांग्रेस शासित नगरपालिका परिषद् चला रहीं -ः भाजपा मंडल अध्यक्ष अंकुर पाठक

  • कांग्रेस शासित नपा परिषद् गरीबों को बेरोजगार करने पर तुली -ः नेता प्रतिपक्ष जुवानसिंह गुंडिया
  • भाजपा मंडल झाबुआ ने नपा परिषद् की पक्षपातपूर्ण कार्रवाई का किया विरोध

झाबुआ। झाबुआ जिले मंें इन दिनों चल रहीं अतिक्रमण मुहीम के लिए मप्र के मुखिया शिवराज मामा को बदनाम किया जा रहा है, जबकि ऐसा नहंी है। जिला प्रशासन के निर्देश पर स्थानीय कांग्रेस शासित नगरपालिका परिषद् गरीबों का आशियाना छीनने के लिए पक्षपातपूर्ण मुहीम चला रहीं है। केवल गरीबों के आशियाने और दुकाने तोड़ी जा रही है। रसूखदारों और माफियाओं को इस मुहीम में क्लीन चीट दी गई है, जबकि जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन को चाहिए कि समान रूप से मुहीम संचालित करे। उक्त आरोप भाजपा मंडल झाबुआ अध्यक्ष अंकुर पाठक ने लगाते हुए आगे बताया कि कांग्रेस शासित नगरपालिका परिषद् ने शहर में अभी तक जहां भी मुहीम संचालित की है, वहां निर्धन वर्ग के लोगांे की ही गुमटियां, ठेलागाड़ियां और आशियाने बुल्डोजर और जेसीबी चलाकर तोड़े है। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मप्र के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की मंशा है कि हर गरीब को रोजगार मिले। उन्हें रहने के लिए पक्का मकान और रोजगार के लिए भी ऋण उपलब्ध करवाने के साथ अत्यंत न्यूनतम दर पर उचित मूल्य दुकानों से राशन उपलब्ध करवाया जा रहा है। मप्र सरकार की यह कतई मंशा नहंी रहीं है कि कोई निर्धन परिवार बेरोजगार हो और उन्हें किसी भी तरह से परेशान किया जाए। भाजपा मंडल महामंत्री एवं नगरपालिका में नेता प्रतिपक्ष जुवानसिंह गुंडिया ने कहा कि कांग्रेस की ओर से यह झूठा आरोप लगाए जा रहा है कि प्रदेश के मुखिया शिवराजसिंह चौहान के निर्देश पर यह मुहीम संचालित हो रहीं है, जबकि यह मुहीम जिले मंे स्थानीय स्तरों पर ही संचालित कर केवल गरीबों को आशियाने और रोजगार को समाप्त करने के कुंठित प्रयास किए जा रहे है, जो सरासर गलत है।


जेसीबी और बुल्डोजर से तहस-नहस की गुमटियां और सामान

भाजपा मंडल महामंत्री एवं वार्ड पार्षद पपीश पानेरी ने बताया कि झाबुआ शहर में कई ऐसे रसूखदार और माफिया भी निवासरत है, जिनकी ओर इस कांग्रेस शासित परिषद् का कभी भी ध्यान नहीं गया, क्योकि इनके पीछे का कारण कहीं ना कहीं हफता या महीना बंदी होना है। यदि बुलडोजर और जेसीबी चलाना ही है तो इन गलत कार्य करने वाले रसूखदारों और माफियाओं के भवनों और प्रतिष्ठानों पर चलाया जाना चाहिए, जिससे नपा परिषद् की मोटी कमाई हो रहीं है। भाजपा मंडल कोषाध्यक्ष एवं वार्ड पार्षद नरेन्द्र राठौरिया ने आरोप लगाया कि शहर के वार्ड क्र. 18 मे भी प्रशासनिक अमले ने ताबड़तोब आकर जेसीबी और बुलडोजर से निर्धन वर्ग के व्यापारियों की गुमटियों और उनमें रखे सामानों को तहस-नहस कर दिया, इसकी बजाय प्रशासन को चाहिए था वह उन्हें सख्ती से यहां से हटवाएं। इस कारण कई गुमटियां व्यवसाईयों का एक से दो लाख रूपए तक का नुकसान हो गया, क्या प्रशासन इन्हें नुकसानी या आर्थिक सहायता प्रदान करेगा।


धर्म रक्षा दल की मांग -ः झाबुआ शहर में अवैध रूप से रह रहे असामाजिक एवं संदिग्ध व्यक्तियों की जिला प्रशासन करे जांच, गौधरा कांड की ना हो पुनरावृत्ति

  • कलेक्टर के नाम एडीएम श्री बघेल को सौंपा ज्ञापन

झाबुआ। शहर की जनसंख्या जिस तरह तेज रफतार से बढ़ रहीं है, ऐसे में जिला प्रशासन को चाहिए कि वह शहर में मकानों में किराए से रहने वाले लोगों और किराए से दुकाने चलाने वाले लोगों की सूची का अवलोकन एवं सर्वे कर पता लगाए कि शहर में कोई असाामजिक या संदिग्ध तत्व तो नहीं निवास कर रहा है। मकान मालिक और दुकान मालिक भी ऐसे किराएदारों के नाम-पते मय दस्तावेज के पुलिस थाने पर वेरीफिकेशन करवाए, ताकि भविष्य में कोई बड़ी आपराधिक घटना से बचा जा सके। उक्त मांग करते हुए इस संबंध में धर्म रक्षा दल की जिला इकाई द्वारा 26 अप्रेल, मंगलवार को जनसुनवाई में कलेक्टर के नाम अपर कलेक्टर जुवानसिंह बघेल को ज्ञापन सौंपते हुए अवगत करवाया कि शहर में वर्तमान में कई ऐसी बस्तीयां है, जहां आशंका व्यक्त की जा सकती है कोई संदिग्ध या असामाजिक तत्व निवास करने से पूर्व में जिस तरह से गौधरा कांड का आरोपी शहर में कई वर्षों तक निवास करता रहा। उस आरोपी ने शहर के जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों से साठगांठ कर गलत तरीके से स्थानीय स्तर पर निवास करने का राशन कार्ड, मतदाता परिचय-पत्र आदि भी बनवा लिए थे। उसे आवास तक मुहैया करवाया गया, लेकिन जब गुजरात की पुलिस ने दबिश तो वास्तविक स्थिति चौंकाने वाली सामने आई। 


सूची बनाकर सर्वे कार्य किया जाए

ज्ञापन में आगे कहा गया कि इस तरह के लोग शहर से लगे दूरस्थ क्षेत्रों में अतिक्रमण अवैध रूप से मकान बनाकर और छोटा-मोटा व्यवसाय संचालित करने के बहाने अनैतिक गतिविधियों में लिप्त हो जाते है। अतः ज्ञापन में मांग की गई कि जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन के साथ पुलिस प्रशासन भी मिलकर शहर में ऐसे लोगों की सूची बनाकर एवं सर्वे कर पता लगाए, ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार की बड़ी आपराधिक घटना से बचा जा सके। ज्ञापन सौंपते समय धर्म रक्षा दल के मप्र संगठन मंत्री विरेन्द्रसिंह चौहान ‘वीरू’, सौरभजसिंह कंजेटा, लक्की चौहान, धर्मेन्द्रसिंह सोलंकी, गोकुल, दीपक वाखला, आकाश, विलासभाई जितेन्द्र आदि सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।


सर्व ब्राम्हण समाज युवा संगठन द्वारा परशुरामजी के जन्मोत्सव पर दो दिवसीय कार्यक्रम किए जाएंगे, भगवान की शोभायात्रा के साथ महाआरती एवं महाप्रसादी (भंडारे) का होगा आयोजन

  • महत्वपूर्ण बैठक में आयोजन की आमंत्रण-पत्रिकाओं का हुआ विमोचन

jhabua news
झाबुआ। सर्व ब्राह्मण समाज युवा संगठन झाबुआ द्वारा स्थानीय कॉलेज मार्ग स्थित प्राचीन जगदीश मंदिर पर महत्ववपूर्ण बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें श्री परशुराम प्राकट्योत्सव (जन्मोत्सव) की आमंत्रण-पत्रिकाओं का गरिमामय रूप से विमोचन किया गया। समाज के युवा उमेश पांडे ने बताया कि आगामी 3 मई को को श्री परशुरामजी प्रकटोत्सव (जन्मोत्सव) को भव्य रूप से एवं धूमधाम से मनाए जाने हेतु 2 दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन रखा गया है। जिसमें 2 मई, सोमवार शाम 5 बजे से वाहन रेली कॉलेज मार्ग स्थित जगदीश मंदिर से प्रारंभ होकर गोपाल कॉलोनी स्थित गोपाल मंदिर पर समापन होगा। रात्रि 8 बजे से भगवान श्री परशुरामजी पर आधारित नाटिका का प्रस्तुतिकरण किया जाएगा। इसी प्रकार 3 मई को परशुराम जन्मोत्सव एवं अक्षय तृतीया पर प्रातः 8.30 बजे आजाद चौक स्थित आजाद प्रतिमा पर समाजजनो द्वारा माल्यार्पण पश्चात 9.30 से स्थानीय जगदीश मंदिर पर रुद्राभिषेक, महाआरती एवं प्रसादी तथा सायं 5.30 बजे से श्री परशुराम भगवान की शोभा यात्रा निकाली जाएगी। जिसमें माध्यम से भगवार को शहर भ्रमण करवाकर पुनः समापन कार्यक्रम स्थल जगदीश मंदिर पर होगा।


महाप्रसादी (भंडारे) का होगा आयोजन

जहां भगवान श्री परशुरामजी प्रकटोत्सव (जन्मोत्सव) की महाआरती के पश्चात युवा कलाकार आशीष पांडे द्वारा भगवान श्री परशुरामजी की थ्री डी रांगोली का निर्माण के अतिरिक्त युवा अभिषेक चतुर्वेदी, उमेश पांडे एवं तन्मय नागर द्वारा प्रस्तुत समधुर भजनों के बीच महाप्रसादी (भोजन) का आयोजन रखा गया है। आयोजनक सर्व ब्राम्हण समाज युवा संगठन ने दो दिवसीय आयोजन में समाजजनों से अधिक से अधिक संख्या में पधारकर लाभ लेने की अपील की है।


आजाद युवा संगठन सुव्यवस्थित पब्लिक टॉयलेट निर्माण और रखरखाव को लेकर अब तक 3 हजार परिवारों तक पहुंचा

  • कलेक्टर एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से भेंट कर शहरवासियों की समस्याओं से करवाया अवगत

jhabua news
झाबुआ। आजाद युवा संगठन झाबुआ द्वारा शहर में सुव्यवस्थित पब्लिक टॉयलेट निर्माण और उनके उचित रखरखाव हेतु पिछले करीब 3 महीने से सर्वे अभियान संचालित किया जा रहा है। जिसमें अब तक आजाद वॉलंटियर्सों ने 3000 परिवारों तक पहुंच कर नागरिकों से चर्चा कर उनकी मूलभूत समस्याएं जानने के साथ फार्म भरवाए गए है। आजाद युवा संगठन के उक्त कार्य की संपूर्ण शहर में सराहना की जा रहीं है एवं इसे जन हितैषी बताया जा रहा है। इसी क्रम की शहर की समस्त समस्याओं को लेकर आजाद युवा की टीम जिला कलेक्टर सोमेश मिश्रा से मिली। जिसमें जिलाधीश श्री मिश्रा ने स्वयं इन मामलों में जबाबदेही तय करते हुए एसडीएम लक्ष्मीनारायण गर्ग, तहसीलदार आशीष राठौर एवं नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया के साथ शहर के सभी पब्लिक टॉयलेट का निरीक्षण कर अव्यवस्थाएं एवं कमी पाए जाने पर उचित कार्यवाही हेतु अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देर्शित किया। इस दौरान आजाद युवा संगठन के सदस्य भी मौजूद रहे।


महिला वर्ग को आती है परेशानी

उन्होंने कलेक्टर श्री मिश्रा को विशेष रूप से उचित पब्लिक टॉयलेट की सुविधा के अभाव में विशेषकर महिला वर्ग को आने वाली समस्याओं से अवगत करवाया। कलेक्टर से वार्ता एवं निरीक्षण अवसर पर आजाद युवा संगठन के लोकेंद्र बिलवाल, हरिश माहेश्वरी, गुफरान कुरैशी, यश त्रिवेदी, नमन जैन, हर्ष राठौर, जयदीप पांचाल आदि मौजूद रहे।


केशव इंटरनेशनल स्कूल के छात्र-छात्राओं ने जानी पुलिस की कार्यप्रणाली, पुलिस थाना झाबुूआ भ्रमण पर पहुंचे केआईएस के छात्र-छात्राएं

  • रील लाइफ और रियल लाईफ की पुलिस मंे अंतर समझा

jhabua news
झाबुआ। केशव इंटरनेशनल स्कूल बाड़कुआं झाबुआ द्वारा ‘‘पुलिस हमारी मित्र है’’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसके तहत 26 अप्रेल, मंगलवार को कक्षा 8वीं के विद्यार्थियों को झाबुआ पुलिस थाना एवं कंट्रोल रूम ले जाकर पुलिस की कार्यप्रणाली से विस्तार से समझाया गया। पुलिस थाने पर थाना प्रभारी संजय रावत ने बच्चों को रील लाइफ और रियल लाइफ की पुलिस में अंतर एवं पुलिस की कार्यप्रणाली के बारे के विस्तार से समझाया। साथ ही संपूर्ण थाने का बच्चों को अवलोकन करवाया। श्री रावत ने बच्चों को बताया कि जन सेवा के लिए पुलिस सदैव तत्पर रहती है। जिस प्रकार सैनिक विदेशी शत्रुओं से देश की रक्षा करते हैं, उसी प्रकार राष्ट्र-विरोधी तत्त्वों से पुलिस हमारी रक्षा करती है।


कंट्रोल रूम का भी किया अवलोकन

पुलिस थाना भ्रमण के दौरान बच्चों में काफी उत्साह नजर आया। कंट्रोल रूम में संपूर्ण शहर को 1 स्थान से देख कर बच्चे काफी रोमांचित भी हुए। थाना भ्रमण के दौरान पुलिस की विस्तृत कार्यप्रणाली समझाने के लिए संस्था की प्राचार्य अंबिका ट्वली के साथ भ्रमण कार्यक्रम प्रमुख देवीलाल डामोर एवं सौरभ जायसवाल ने थाना प्रभारी श्री रावत एवं संपूर्ण स्टॉफ का अंत में आभार व्यक्त किया।


मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना की समीक्षा बैठक, प्रतिमाह रोजगार मेलों का भी आयोजन होगा- कलेक्टर


jhabua news
झाबुआ,। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा आज टी.एल. की बैठक की अध्यक्षता करते हुए आज मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना की भी समीक्षा की इस योजना का मुख्य उद्देश्य शिक्षित युवाओं को स्वयं का उद्ययम/ स्वरोजगार स्थापित करने के लिए बैंकों के माध्यम से कॉलेटरल फ्री ऋण उपलब्ध कराने तथा ब्याज अनुदान सहायता के माध्यम से युवाओं को कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराकर परियोजना की व्यवहार्यता बढ़ाना है। इस योजना के लिए पात्र आवेदक मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी हो, आयु सीमा 18 से 40 वर्ष हो, शैक्षणिक योग्यता न्यूनतम 12वीं पास हो, आय सीमा परिवार की वार्षिक आय रूपए 12 लाख से अधिक ना हो, परिवार से आश्य आवेदक के अविवाहित होने पर आवेदक स्वयं एवं उसके माता-पिता से है जिन पर वह आश्रित है अथवा आवेदक के अविवाहित होने पर पति/पत्नी एवं आश्रित बच्चों (आश्रित एवं अविवाहित बच्चों की उम्र का कोई बंधन नहीं) से है। यदि आवेदक का परिवार यदि आयकर दाता है तो वह उनकी पिछले 3 वर्षों की आयकर विवरणियां इनकम टैक्स रिटर्न आवेदन के साथ संलग्न करेगा। किसी बैंक अथवा वित्तीय संस्था जैसे एम एफ आई, एनबीएफसी, एसएफबी, पीएसीएस आदी का स्वयं डिफाल्टर न हो, वर्तमान में राज्य व केंद्र सरकार की स्वरोजगार योजना का हितग्राही ना हो। योजना का क्रियान्वयन मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का क्रियान्वयन पूर्णता ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किया जाएगा। आवेदक द्वारा पोर्टल के माध्यम से संबंधित बैंक शाखा में ऑनलाइन आवेदन प्रेषित किया जाएगा। बैंक शाखा द्वारा अधिकतम 6 सप्ताह में आवेदन पर निर्णय लिया जाएगा। प्रकरण स्वीकृत किए जाने की दशा में बैंक शाखा द्वारा एक माह के भीतर वितरण किया जाकर पोर्टल पर प्रविष्टि की जाएगी। मुख्य विशेषताएं ट्रेडिंग को भी ऋण सुविधा, योजना अंतर्गत कमर्शियल वाहनों के लिए ऋण उपलब्ध। सेवा एवं खुदरा व्यवसाय के लिए 1 लाख से 25 लाख तक की सहायता। निर्माण इकाई के लिए 1 लाख से 50 लाख तक की सहायता बैंक लोन के लिए कोई कॉलेटरल सिक्योरिटी नहीं बैंक द्वारा वितरण लोन पर 3 प्रतिवर्ष की दर से 7 वर्ष तक ब्याज अनुदान। महाप्रबंधक उद्योग श्री विरेन्द्र सिंह इस्किया द्वारा बैठक में पीपीटी के माध्यम से योजना के बारे में विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की। सभी जिला अधिकारी उपस्थित थे।


प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की समीक्षा बैठक

  • जनपद पंचायत थंादला में समीक्षा बैठक आयोजित थी, समय पर आवास पूर्ण नहीं होने पर सख्त कार्यवाही होगी- कलेक्टर

झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन के द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की समीक्षा बैठक जनपद पंचायत थांदला में आयोजित थी। बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत वे ग्राम पंचायत जहां पर अपूर्ण आवास अत्यधिक है एवं पूर्ण करने में ग्राम पंचायत सचिव एवं जीआरएस एवं बीसी विशेष रूप से कोई प्रयास नहीं कर रहे है। इन ग्राम पंचायतों की कलेक्टर महोदय के द्वारा ग्राम पंचायतवार समीक्षा की। कलेक्टर महोदय के द्वारा निर्देश दिए की अधिकतम एक सप्ताह के अंदर अपूर्ण आवास पूर्ण करे। किसी भी प्रकार की समस्या हो तो अवगत कराया जा सकता है। यदि निर्धारित समय में पूर्ण नहीं होते हैं ऐसी स्थिति में दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी। बैठक में अनुपस्थित ग्राम पंचायत सचिव, जीआरएस के विरूद्ध कार्यवाही की जावे। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन द्वारा ग्राम पंचातयवार प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की समीक्षा में निर्देश दिए कि सभी आवास निर्धारित समय में पूर्ण हो समय पर किश्त का भुगतान हो और सतत मानिटरिंग हो किसी भी प्रकार की लापरवाही न हो अपूर्ण आवास को पूर्ण कराने में सभी प्रकार के प्रयास करें। हितग्राही का बेहतर आवास हो ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित हो हितग्राही को आवास का सपना पूर्ण होते हुए एवं परिवार का सपना पूर्ण करने में अपना अहम योगदान दे। इस दौरान जनपद पंचायत थांदला के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर.सी.हालू तहसीलदार श्री शक्तिसिंह चौहान, पीओ मनरेगा श्री मनोज बारस्कर, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा श्री लोकेन्द्र सिंह मण्डलाई, सहायक यंत्री, जनपद पंचायत के एपीओ, लेखा अधिकारी, सहायक यंत्री, उपयंत्री एवं जनपद स्तर के सभी ग्राम पंचायत सचिव, जीआरएस, पटवारी आदि उपस्थित थे।


कलेक्टर महोदय के झाबुआ नगर भ्रमण के दौरान दिए गए निर्देशों पर कार्यवाही प्रारंभ हुई


झाबुआ । कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा रविवार को झाबुआ नगर का भ्रमण किया था। जिससे मुख्य रूप से जहां से अतिक्रमण हटाया गया था डीआरपी लाइन  चौराहा, राजगढ़ नाका, टंट्या मामा चौराहा, बहादुर सागर तालाब, राजवाड़ा चौक, उसके बाद बस स्टैंड का सघन  भ्रमण किया था। लोगों से रूबरू चर्चा भी की थी !उपस्थित जिला अधिकारियों को निर्देश दिए गए थे कि झाबुआ को स्वच्छ और सुंदर बनाने के लिए हमें किस तरह के कार्य करने होंगे, कहां पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी, कहां फूड झोन बनेगा, कहां पर अन्य प्रकार की दुकानों को विकसित किया जाएगा स्थाई दुकानें बनाकर स्थाई रोजगार किस प्रकार दिया जा सकता है। इन निर्देशों के क्रियान्वयन हेतु आज सायँ अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एल एन गर्ग, तहसीलदार श्री आशीष राठौर, मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री एल एस डोडिया, जिला परिवहन अधिकारी श्रीमती कृतिका मोहटा द्वारा संयुक्त भ्रमण कियाऔर बस स्टैंड पर सुचारू रूप चलाने के लिए रूपरेखा तैयार की गई।इस दौरान यहां पर उपस्थित बस एसोसिएशन अध्यक्ष, अन्य बस संचालकों से चर्चा भी की गई। इस तरह बहुत ही जल्दी अन्य स्थानों पर भी अधिकारी पहुंचेंगे और कार्य योजना के अनुरूप कार्य करने के लिए प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे।


जनसुनवाई में 55 आवेदन प्राप्त हुए

  • जनसुनवाई के आवेदकों एवं उनके परिजनों को एप्पल जूस भी पिलाया
  • जनसुनवाई में प्राप्त आवेदन का निराकरण 7 दिवस में सकारात्मक रूप से करे-कलेक्टर

झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में आज प्रातः  जनसुनवाई प्रारम्भ हुई। कलेक्टर श्री मिश्रा ने जनसुनवाई के प्राप्त आवेदन पत्र का निराकरण सकारात्मक रूप से 7 दिवस में किए जाने के निर्देश दिए गए। आज मंगलवार को जनसुनवाई में 55 आवेदन प्राप्त किए गए। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के निर्देश पर अत्यधिक गर्मी को देखते हुए जनसुनवाई के आवेदकों एवं उनके परिजन जो उनके साथ जाए थे सभी को ठंडा एप्पल जूस पिलाया गया। आवेदकों ने भी इस गर्मी में राहत की सांस ली। जिला प्रशासन को धन्यवाद दिया। आज जनसुनवाई में जो आवेदन प्राप्त हुए है उसमें  मुख्य रूप से प्रार्थी श्री रमेश पिता श्री बाला सिंगाडिया निवासी ग्राम पिपलिया खदान तहसील झाबुआ द्वारा सिंगाडिया फलिया में हैण्डपम्प स्वीकृत करने बाबत आवेदन प्रस्तुत किया है। प्रार्थी समस्त ग्रामवासी निवासी ग्राम रताम्बा पेटलावद द्वारा ग्राम रताम्बा की सर्वे क्रमांक 1256/1 रकबा 16.02 वाली शासकीय चरनोई भूमि पर ग्राम कोटवार के द्वारा लोगों से पैसे लेकर 5-6 लोगों को अवैध कब्जा करवा दिया है। प्रार्थी मांगिलाल पिता श्री नवला परमार निवासी सुरडिया राणापुर द्वारा नवीन हैण्डपम्प की मांग की गई है। मंदिर फलिये में यह हैण्डपम्प स्थापित किया जाए। प्रार्थी श्री बच्चू पिता होबाल सिंगाडिया निवासी ग्राम गुवाली जनपद पंचायत मेघनगर द्वारा कृषि भूमि का बटवारा बाबत आवेदन प्रस्तुत किया है। प्रार्थी बूचा पिता मलसिंह भील ग्राम सातसेरा मेघनगर द्वारा कपील धारा कुए की शेष राशि का भूगतान बाबत आवेदन प्रस्तुत किया है। आज पेयजल समस्या के संबंध में 12 आवेदन प्राप्त हुए है। जनसुनवाई के प्रकरणों का समय पर विभाग में पहुचाने के लिए तत्काल कम्प्युटरायजेशन के लिए श्रीमती अल्बिना निनामा, श्रीमती किरण बर्डे, श्री अमित डावर, श्री दिलीप चौहान के द्वारा तत्काल संबंधित विभाग को मेल के माध्यम से व्हाट्सअप के माध्यम से ग्रुप में भेज दिये जाते है। जिससे विभागों को तत्काल ही आवेदन प्राप्त हो जाते है एवं कार्यवाही की समय सीमा में निराकरण होकर हितग्राही/आवेदक को संतुष्टिपूर्वक निराकरण करने में सुविधा होती है। जनसुनवाई में इन प्रकरणों का सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर 7 दिवस के अन्दर प्राप्त प्रकरणों का निराकरण करे एवं इन आवेदन पत्रों की समीक्षा टीएल की बैठक में होगी। आज जनसुनवाई में सीईओ जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, संयुक्त कलेक्टर श्री सुनिल झा, एसडीएम झाबुआ श्री एल.एन.गर्ग, सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग श्री प्रशांत आर्या एवं जिला अधिकारी उपस्थित थे एवं शेष एस.डी.एम राजस्व एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, समस्त तहसीलदार, ,बीएम,ओ, सी,एम,ओ, वीडियो कांफ्रेनिं्सग के माध्यम से जुडे थे।


‘‘किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी’’ अभियान, जिले में 26 अप्रेल को कृषि मेले का आयोजन

  • आजादी के अमृत महोत्सव के तहत जिले में कृषि मेले का आयोजन
  • ‘‘मानव पीढ़ी को संजोये रखने में प्राकृतिक खेती की अहम भूमिका‘‘
  • ‘‘सषक्त किसान ही समृद्ध और मजबूत राष्ट्र की आधारषीला‘‘

jhabua news
झाबुआ,। कृषि विज्ञान केन्द्र और कृषि विभाग के सयुक्त तत्वाधान में ‘‘किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी’’ अभियान अन्तर्गत आज दिनांक 26 अप्रैल 2022 को कृषि मेले का आयोजन कृषि विज्ञान केन्द्र के प्रक्षेत्र में किया गया। भारत सरकार द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव को जन भागीदारी उत्सव के रूप में मनाये जाने के लिये विभिन्न कार्यक्रमों का श्रंखलाबद्ध आयोजन किया जा रहा है। कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा विभिन्न मंत्रालयों और विभागो के सहयोग समन्वय से आजादी का अमृत महोत्सव के तहत 25 अप्रेल से 30 अप्रेल 2022 के दौरान ‘‘किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी’’ अभियान का आयोजन किया जा रहा है। ‘‘किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी’’ अभियान के दौरान प्रतिदिन विभिन्न क्षेत्रको पर केन्द्रीत कार्यक्रमो का चरण बद्ध रूप से पृथक-पृथक आयोजन नियोजित है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय श्री गुमानंिसंहजी डामोर, सासंद झाबुआ-रतलाम संसदीय क्षेत्र, श्री सोमेष मिश्रा, कलेक्टर जिला झाबुआ की अध्यक्षता में किया गया, जिसमें विषिष्ट अतिथियों के रूप में श्री लक्ष्मणसिंह नायक, जिला अध्यक्ष भाजपा, श्री कलसिंह भाबर, भूतपूर्व विधायक एवं प्रदेष अध्यक्ष अ.ज.जा मोर्चा, श्री रूपसिंह डामोर, सभापति, जिला पंचायत कृषि स्थाई समिति, श्री अंकुर पाठक भाजपा मण्डल अध्यक्ष, श्री सोमसिंह सोलंकी जिला महामंत्री भाजपा आदि की गौरवमय उपस्थिति रही। इस कार्यक्रम में जिले के विभिन्न शासकीय, अशासकीय विभागों की योजनाओं, कृषि क्षेत्र से जुडी संस्थाओं और उद्यमियों के उत्पादों और नवीन तकनीक से संबंधित जानकारी से कृषकों को सुपरिचित करवाने के उद्देश्य से कृषि विज्ञान केन्द्र, किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, पषुपालन, मत्स्यपालन, उद्यान विभाग, सहकारिता विभाग, आयुष विभाग, मुख्य चिकित्सा विभाग तथा जैविक खेती करने वाले किसान श्री दलसिंह ग्राम नरसिंहपुरा एवं श्री मूलचंद परमार ग्राम सजेली मालजी साथ द्वारा स्टॉल के रूप में प्रदर्शनी लगायी गई। इस कार्यक्रम का शुभारम्भ वर्चुअल मोड पर माननीय श्री नरेंद्र सिंह तोमर केन्द्रीय कृषि मंत्री, कृषि एवं किसान कल्याण भारत सरकार द्वारा किया गया तथा जिले में जिला स्तरीय कृषि मेले का शुभारम्भ माँ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर उपस्थित मुख्य अतिथि माननीय सासंद श्री डामोर एवं कलेक्टर महो तथा उपस्थित अन्य अतिथियों द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए डॉ. आई.एस. तोमर, वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ द्वारा उपस्थित मंचासीन अतिथियों एवं किसान भाईयों का स्वागत करते हुए आज के आयोजन कार्यक्रम के उद्देष्य एवं महत्व बताते हुए कहा की खेती किसानी पर आधारित आजीविका उन्नयन की दृष्टि से प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देना, कम लागत की नवीन कृषिगत तकनीक, युक्तियों को अपनाते हुए कम लागत में अधिक उत्पादन करते हुए खेती को लाभ का धंधा बनाया जा सकता है जो कि मानव स्वास्थ्य एवं पर्यावारण के अनुकूल कृषि तकनीकि है। कार्यक्रम को आगे बढाते हुए श्री नगीन सिंह रावत उप संचालक कृषि द्वारा आयोजित कृषि मेले की विस्तृत रूपरेखा पर प्रकाष डाला एवं कृषि विभाग द्वारा संचालित किसान हितैषी केन्द्रीय एवं राज्य पोषित योजनाओं की जानकारी, और कृषि के क्षेत्र में हो रहे परिवर्तनों से सुपरिचित करवाया गया। माननीय सांसद श्री डामोर द्वारा अपने उदबोधन में जैविक खेती व प्राकृतिक खेती के विभिन्न आयामों के साथ-साथ किसान समुदाय और आमजन को होने वाले फायदो तथा विपणन के लाभ बताये और बताया की एक देषी गाय के गोबर से 30 एकड. क्षेत्र में बिना लागत की प्राकृतिक खेती की जा सकती है जो जिसका उत्पादन रासायनिक खेती के उत्पादन के बराबर उत्पादन देने के साथ भूमि की उर्वरा शक्ति को भी बढ़ती है एवं मानव स्वास्थ्य तथा पर्यावारण में भी सुधार करती है। साथ ही आपने बताया की सिक्किम देष का पहला प्रदेष है जहां पूर्ण रूप से प्राकृतिक खेती की जा रही है। साथ ही रासायनिक खेती से प्राप्त होने वाले उत्पादों के सेवन से मानव स्वास्थ्य पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव के बारे में बताया गया। मुख्य अतिथि सांसद श्री गुमानसिंह डामोर ने संबोधित करते हुए आव्हान किया कि सषक्त किसान समाज ही समृद्ध और मजबूत राष्ट्र की आधारषीला है। श्री डामोर ने किसानों की देष अर्थवव्यस्था में योगदान को अपरिहार्य बताते हुए कहा कि मानव पीढ़ी को संजोये रखने में प्राकृतिक खेती की अहम भूमिका है। माननीय श्री भाबोर अपने उदबोधन में लगातार रासायनिक खेती से बंजर हो रहे खेतों की चर्चा की व किसानों को आव्हान किया की वे ज्यादा से ज्यादा जैविक खेती एवं प्राकृतिक खेती को अपनाकर भूमि की उवर्रा शक्ति को बरकरार रखते हुए स्वयं का बीज स्वयं का खाद स्वयं की दवाई तैयार कर फसल उत्पादन की लागत को कम कर खेती को लाभ का धंधा बना सकते है। तकनीकी सत्र में डॉ. चन्दन कुमार, डॉ जगदीष मोर्य एवं डॉ. वी.के. सिंह द्वारा किसानों को कृषि वैज्ञानिकों द्वारा खेती की नवीनतम तकनीकों नवीनतम कृषि यंत्रों तथा प्राकृतिक खेती की करने की तकनीक एवं उसकी विभिन्न विधाओं एवं कीट एवं व्याधि से फसलों को बचाने हेतु प्राकृतिक रूप से तैयार उत्पाद से कीट नियंत्रण के तरीकों को विस्तारपूर्वक बताया गया। इसी कड़ी में प्रगतिषील कृषक श्री बालाराम पाटीदार ने जैविक एवं प्राकृतिक खेती के बारे में अपने अनुभव को किसानों के साथ साझा किया। कार्यक्रम के अतः में उपस्थित अतिथियों द्वारा जिले के जैविक एवं प्राकृतिक खेती करने वाले कृषकों श्री दलसिंह नरसिंपुरा, श्री मूलचंद सजेली माली साथ, श्रीमति अन्नुबाई भूराडाबरा, श्री मुकेष सुतरेटी का शाल, श्रीफल एवं प्रषस्ति पत्र से सम्मानित किया गया। अतिथियों द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अन्तर्गत बीमित कृषकों श्री बदिया मंगलिया, श्री अलकेष हेमसिंह मावी, श्री कैलाष पांचाल, श्री पस्वा विरिया, श्री मानसिंह सकरू हटिला, श्री शंकर कालिया खपेड़, श्री भूरा सकरा इत्यादि को ‘‘मेरी पॉलिसी मेरे हाथ‘‘ के तहत प्रत्यक्षतः फसल बीमा प्रदान की गई। कार्यक्रम का संचालन श्री गोपाल मुलेवा एवं डॉ. आर.के. त्रिपाठी द्वारा किया एवं कार्यक्रम का आभार प्रदर्षन श्री जी.एस. त्रिवेदी परियोजना संचालक आत्मा ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग एवं कृषि विज्ञान केन्द्र के समस्त वैज्ञानिक, अधिकारी/कर्मचारी एवं समस्त मैदानी अमले का सहयोग प्रषंसनीय रहा। 


मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्य

  • 28 अप्रैल को झाबुआ में मानवाधिकार हनन मामलों की सुनवाई करेंगे, 29 अप्रैल को अलीराजपुर में वन स्टॉप सेंटर का निरीक्षण करेंगे

झाबुआ,। मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के माननीय अध्यक्ष न्यायमूर्ति श्री नरेन्द्र कुमार जैन एवं माननीय सदस्य श्री सरबजीत सिंह 28 एवं 29 अप्रैल को झाबुआ एवं अलीराजपुर जिले के प्रवास पर रहेंगे। अधिकृत प्रवास कार्यक्रम के मुताबिक माननीय अध्यक्ष न्यायमूर्ति श्री जैन एवं माननीय सदस्य श्री सिंह बुधवार (27 अप्रैल) को दोपहर 1.15 बजे भोपाल से प्रस्थान कर रात 8 बजे झाबुआ पहंुचेंगे एवं रात्रि विश्राम यहीं करेंगे। आपद्वय गुरूवार (28 अप्रैल) को सुबह 10.15 बजे से कलेक्टर कार्यालय, झाबुआ के सभाकक्ष में मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग में झाबुआ जिले के पहले से लंबित एवं मौके पर प्राप्त नये प्रकरणों की सुनवाई करेंगे। आपद्वय इसी दिन दोपहर 1ः30 बजे झाबुआ से प्रस्थान कर शाम 5ः30 बजे केवड़िया (गुजरात) पहुंचेंगे एवं रात्रि विश्राम वहीं करेंगे। आपद्वय शुक्रवार (29 अप्रैल) को दोपहर 2.30 बजे केवड़िया (गुजरात) से प्रस्थान कर रात्रि 8 बजे धार पहुंचेंगे एवं रात्रि विश्राम यहीं करेंगे। केवड़िया से धार वापसी के दौरान आपद्वय वन स्टॉप सेंटर (सखी केन्द्र) अलीराजपुर का निरीक्षण भी करेंगे। आपद्वय शनिवार (30 अप्रैल) को सुबह 8 बजे धार से प्रस्थान कर दोपहर 2 बजे भोपाल पहुंचेंगे।


आंतरिक समिति का गठन करने की अपील


झाबुआ,। झाबुआ महिलाओं के कार्यस्‍थल पर लैंगिक उत्‍पीड़न (निवारण, प्रतिषेध, प्रतितोष) अधिनियम की धारा-4 अनुसार आंतरिक परिवाद समिति का गठन विभिन्‍न सदस्‍यों से किया जाता है। मुख्‍य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत पदेन जिला अधिकाकारी के मार्गदर्शन में अपील की गई है। जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री राधुसिंह बघेल ने बताया कि इस समिति में पीठासीन अधिकारी कार्यस्‍थल पर कार्यरत वरिष्‍ठ (पद में) महिला अधिकारी/कर्मचारी वरिष्‍ठ महिला उपलब्‍ध नहीं होने पर अन्‍य कार्यालय से ऐसी महिला को नामांकित किया जायेगा । कर्मचारियों में से दो सदस्‍य ऐसे होंगे जो महिलाओं की समस्‍याओं के प्रति प्रतिबद्ध है अथवा जिनके पास समाज सुधार के कार्य में अनुभव है या विधिक ज्ञान हो । महिलाओं की समस्‍याओं के प्रति प्रतिबद्ध लैंगिक उत्‍पीड़न संबंधित मुद्दो से परिचित गैर- सरकारी संगठनों से एक सदस्‍य नामांकित किया जायेगा । उन्‍होंने बताया कि कुल नामांकित सदस्‍यों में से कम से कम आधी सदस्‍य महिलायें होगी, जिसमें पुरूष होना अनिवार्य है । समिति के पीठासीन अधिकारी एवं सदस्‍यों की नियुक्ति अधिकतम 3 वर्ष के लिए होगी, इसके पश्‍चात समिति पुर्नगठन किया जायेगा । जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री राधुसिंह बघेल ने बताया कि अधिनियम के अन्‍तर्गत आंतरिक परिवाद समिति का गठन नियमानुसार न होने से अधिनियम की धारा 4 अनुसार न होने की स्थिति में धारा 26(1) अंतर्गत 50,000/- रूपये तक के जुर्माने से दंडित करने का प्रावधान है । उन्‍होंने महिलाओं के कार्यस्‍थल पर योन उत्‍पीड़न अधिनियम 2013 अन्‍तर्गत गठित आंतरिक परिवाद समिति का गठन नियमानुसार करने की अपील की है । इस समिति के गठन के संबंध में आवश्‍यक जानकारी हेतु महिला एवं बाल विकास विभाग के सहायक संचालक श्री अजयसिंह चौहान- मो.न. 8964077275, श्री बालुसिंह सस्तिया- मो.न. 7869085311, श्रीमती वर्षा चौहान मो.न. 7999096231 पर संपर्क कर सकते है ।


नेशनल लोक अदालत का आयोजन 14 मई-2022 को किया जाएगा


jhabua news
झाबुआ,। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार नेशनल लोक अदालत का आयोजन 14 मई-2022 को किया जाएगा। लोक अदालत में न्यायालय में लंबित राजीनामा योग्य मामलों का निराकरण बड़े की सौहार्दपूर्ण माहौल में किया जाता है। लोक अदालत में आपराधिक, दीवानी, बैंक एवं बिजली से संबंधित मामले, पारिवारिक प्रकरण तथा बैंक से संबंधित ऐसे मामले जो अभी न्यायालय में पेश नहीं हुये है, उनका भी निराकरण किया जाता है। 14 मई को होने वाली नेशनल लोक अदालत की तैयारियां चल रही है इसी क्रम में माननीय प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमान मोहम्मद सैय्यदुल अबरार जी की अध्यक्षता एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव/जिला न्यायाधीश श्री लीलाधर सोलंकी जी तथा नोडल अधिकारी/अपर जिला न्यायाधीश श्री भरत कुमार व्यास जी की उपस्थिति में आगामी लोक अदालत में ज्यादा से ज्यादा मामलों का निराकरण के लिए आज दिनांक 26.04.2022 को ए.डी.आर. भवन जिला न्यायालय परिसर झाबुआ में नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के अधिवक्तागण एवं अधिकारीगण की बैठक आयोजित की गई। माननीय प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमान मोहम्मद सैय्यदुल अबरार जी ने बीमा कंपनी के अधिवक्ताओं को मोटर दुर्घटना दावा प्रकरणों में राजीनामा किये जाने के संबंध में आने वाली समस्याओं पर चर्चा कर समस्याओं का निराकरण करने प्रकरण के आवेदकों के साथ अधिवक्ताओं की प्री-सीटिंग आयोजित कर अधिक से अधिक मामलों को चिंहाकित करते हुए नेशनल लोक अदालत में निपटारा करने के लिए निर्देश दिए। श्री सोलंकी जी ने जानकारी देते हुए कहा कि अप्रैल माह में लगातार नेशनल लोक अदालत बैठकों का आयोजन सभी न्यायालयों व सभी संबंधित विभागों एवं शिविरों के माध्यम से प्रतिदिन कार्यालय दिवस में किया जा रहा है। नोडल अधिकारी/अपर जिला न्यायाधीश श्री भरत कुमार व्यास जी ने कहा कि लोक अदालत के माध्यम से निराकरण प्रकरण में कोर्ट फीस वापसी का प्रावधान है साथ ही लोक अदालत में निराकरण होने वाले प्रकरणों में किसी भी न्यायालय में अपील स्वीकार्य नहीं होता है अधिक जानकारी के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ के दूरभाष नंबर 07392-244414 पर संपर्क कर सकते है। बैठक में बीमा कंपनी एवं आवेदकगण के अधिवक्तागण के मध्य 11 प्रकरणों में लगभग 80 लाख रूपये पर सहमति बनी। नेशनल लोक अदालत को सफल बनाने के लिए आम नागरिकों से अपने राजीनामा योग्य प्रकरणों का निराकरण नेशनल लोक अदालत के माध्यम से कराकर सुलभ, शीघ्र एवं त्वरित न्याय पाकर अपने मामलें को निराकरण कराने की अपील की गई है। उक्त बैठक में जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री मुकेश कौशल, बीमा कंपनी अधिवक्ता श्री एच.पी. अग्निहोत्री, श्री विजय संघवी, श्री हितेश संघवी श्री सत्यम भट्ट, श्री सचिन सिसौदिया, श्री हरिश खतेड़िया, अधिवक्ता श्री मोहम्मद युनूस लोदी, श्री सौरभ सोनी, श्रीमती जया झाला, सुश्री अनिता वसुनिया, राजेन्द्र बिलवाल नेशनल इंश्योरेंस कंपनी के प्रबंधक श्री केतन जैन, श्री अंकित श्रीवास्तव उपस्थित रहें।

कोई टिप्पणी नहीं: