झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 25 अप्रैल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 25 अप्रैल 2022

झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 25 अप्रैल

हिन्दू सनातन धर्म एवं जैन संत समागम में सदभावना मैत्री सम्मेलन सम्पन्न

  • ऐतिहासिक जुलूस के साथ सनातन हिन्दू व जैन धर्मावलंबियों ने दिया एकता का परिचय

jhabua news
थांदला। संत तपो भूमि थांदला नगर में परोपकार सम्राट आचार्य देवेश श्रीमद्विजय ऋषभचन्द्रसुरिश्वरजी म. सा. के शिष्य रत्न मुनि पियूषचन्द्रविजयजी म. सा. एवं जिनचन्द्रविजयजी म.सा. तथा हिन्दू सनातन धर्म के विश्व प्रसिद्ध पिपलखुटा तीर्थ प्रेरक दाड़की वालें बाबा के अनुयायी 1008 आचार्य श्री दयारामदासजी महाराज, बावड़ी मन्दिर के नारायणदासजी महाराज, शांति आश्रम के सुखरामजी महाराज, चिन्मयानंदजी महाराज, प्रमानन्दजी महाराज आदि सन्तों के सानिध्य में सदभावना मैत्री सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसमें हिन्दू व जैन संघ के सैकड़ो गुरुभक्त शामिल हुए। दोनों समाज के संत प्रमुख के साथ धर्मावलंबियों ने नगर के प्रमुख मार्गों से विशाल मैत्री जुलूस निकाला जो स्थानीय गणेश मन्दिर तथा बावड़ी मन्दिर होता हुआ कार्यक्रम स्थल जिन मन्दिर पहुँचकर धर्म सभा में परिवर्तित हो गया। धर्म सभा को सम्बोधित करते हुए आचार्य श्री दयारामदासजी महाराज ने कहा कि घर के व्यक्तिगत आयोजन में आमंत्रित अतिथि ही आते है जबकि मन्दिर तो सबका होता है वहाँ तो सभी आते है इसलिए मन्दिर में भेदभाव होना सही नही है यह आने वाली पीढ़ी के लिए भी खतरनाक है। उन्होनें कहा कि भारत में सभी को धर्म प्रवर्तन का अधिकार दिया गया है लेकिन किसी की भावनाओं को ठेस पहुँचानें का अधिकार किसी को नही दिया है इसलिए सभी को हिलमिल कर एक दूसरें के धर्म का सम्मान करते हुए अपने अपने धर्म की ध्वजा को मजबूत करना चाहिए यही राष्ट्र को मजबूत बनाने का भी उपाय है। इस अवसर पर आशीर्वचन देते हुए मुनि पियुषविजयजी महाराज साहेब ने कहा कि वर्ष 2007 में परोपकार सम्राट गुरुदेव ने मन्दिर के जीर्णोद्धार का संकल्प लेकर इसका विसर्जन किया था जिसके बाद कुछ भ्रांतियों ने व दोनों समाज के आपसी समन्वय आभाव के कारण मन्दिर निर्माण में 15 वर्षों का विलम्ब हो गया। लेकिन दोनों ही पक्षों के मन्दिर निर्माण के प्रयास होते रहे जिससे जो दोनों पक्षों की कटुता थी वह दूर हुई और आज उसकी नींव सद्भावना मैत्री सम्मेलन में देखने को मिल रही है। आज परोपकार सम्राट की 11वीं मासिक पुण्यतिथि पर उनका दिव्यशीष ही कहे कि राष्ट्र संत भक्त मलुकदासजी महाराज की सर्व समाज समन्वय की धरोहर को पुनः उनके द्वारा स्थापित मन्दिर की तरह ही नव निर्माण किया जाएगा। मन्दिर निर्माण कार्य अहमदाबाद के पुण्यशाली दानदाता भूषण भाई शाह के साथ नगर के अनेक पुण्यशाली गुरुभक्तों के अर्थ सहयोग से किया जाएगा। उन्होनें कहा कि आगामी 4 मई अक्षय तृतीया के दिन इसका मुहूर्त किया जाएगा वही जून माह में शिलान्यास भूमि पूजन कर मन्दिर निर्माण अविराम गति से चलेगा। कार्यक्रम में अध्यक्षीय उदबोधन देते हुए कमलेश जैन दायजी ने सकल जैन समाज के साथ सनातन धर्म के सदस्यों का स्वागत करते हुए मन्दिर निर्माण में अपेक्षित सहयोग की भावना व्यक्त की। सनातन धर्म के संरक्षक अशोक अरोड़ा ने भी मन्दिर निर्माण में आये वैचारिक मतभेदों की बात कर आपसी समन्वय से भव्य मंदिर की परिकल्पना के लिए सभी को धन्यवाद दिया। धर्म सभा में उपस्थित सनातन धर्म प्रेमीजनों जैन श्रीसंघ, भारतीय जनता पार्टी व कांग्रेस पार्टी पदाधिकारियों तथा स्थानीय पत्रकारगणों ने मुनि द्वय को काम्बली व शाल ओढ़ाकर बहुमान कर उनका आशिर्वाद लिया। धर्म सभा प्रभावना का लाभ सानिया मयूर वर्धमान तलेरा परिवार द्वारा लिया गया। कार्यक्रम का संचालन संघ के वरिष्ठ सदस्य संजय फुलफगर ने किया वही प्रफुल्ल पोरवाल ने सबके प्रति आभार माना। इस अवसर पर भाजपा अजजा प्रदेशाध्यक्ष अध्यक्ष कलसिंह भाभर, जिलाध्यक्ष लक्ष्मण नायक, वरिष्ठ नेता श्यामा ताहेड़, नगर परिषद अध्यक्ष बंटी डामोर, उपाध्यक्ष मनीष बघेल, गगनेश उपाध्याय, लक्ष्मण राठौड़, समर्थ उपाध्याय, विनीत शर्मा, सचिन सौलंकी, वत्सल आचार्य जैन स्थानकवासी संघ अध्यक्ष जितेंद्र घोड़ावत, सचिव प्रदीप गादिया, दिगम्बर संघ अध्यक्ष अरुण कोठारी, विजय भिमावत, तेरापंथ सभा अरविंद रुनवाल, संतोष जैन, भारतीय प्रेस आयोग के समकित तलेरा, पवन नाहर, जैन श्रीसंघ के वरिष्ठ सदस्य कमल पीचा, मूलचंद लुणावत, कनकमल भण्डारी, अनोखीलाल मोदी, यतीश छिपानी, समकित तलेरा, आनंदीलाल पोरवाल, उमेश बी पीचा, रमणलाल मुथा, अर्पित लुणावत आदि की गरिमामय उपस्थिति रही। इस अवसर पर थांदला के अलावा जावरा, खाचरौद व विभिन्न स्थानों से आये श्रीसंघों ने गुरुदेव के समक्ष अक्षय तृतीया पारणे व आगामी चातुर्मास की पुरजोर विनन्ति की गई।


‘‘गांजे की खेती करने वाले के विरूद्ध झाबुआ पुलिस की बड़ी कार्यवाही‘‘


jhabua news
झाबुआ । दिनांक 24.02.2022 को पेटलावद पुलिस को अपने विश्वसनीय मूखबीर से सूचना मिली कि दिनेश पिता कानाजी हामड निवासी पेटलावद ने अपने झौसर के पास बईडिया वाले खेत में आल के बीच में अवैध रूप से मादक पदार्थ गांजे के पौधे लगा रखे है। दिनेश हामड अवैध रूप से गांजे का व्यवसाय एवं सप्लाई का काम करता है।  उक्त सूचना पर थाना पेटलावद की पुलिस टीम द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए दिनेश हामड़ के बईडिया खेत पर पहुंचे। वहां जाकर देखा तो उक्त आल के खेत में गांजे के पौधें लगे हुए थे। दिनेश के आल के खेत से अवैध मादक पदार्थ गांजे के पौधों को उखाड़कर गिनती करने पर 44 पौधे पाये गये। जिनका तोल करने पर 9 किलो 400 ग्राम होना पाया गया। जिनका मुल्य करिब 1,00,000रुपए हें जिन्हें विधिवत जप्त किया गया। आरोपी दिनेश को पुलिस गिरफ्त में लिया गया। जिस पर थाना पेटलावद में धारा 8ध्20 छक्च्ै ।बज. में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।    संपुर्ण घटनाक्रम का खुलासा करने में थाना प्रभारी पेटलावद निरी. सुरेन्द्र सिंह गाडरिया, उनि लोकेन्द्र चौधरी, उनि रामेश्वर गामड, प्रआर. 24 साबिर, आर. 57 अनिल, आर. 486 शंकर, आर. 645 शिवभानु, मआर. 654 कलम चौहान, आर. 363 संजय  का सराहनीय योगदान रहा। उक्त सराहनीय कार्य पर पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा पुरूस्कृत करने की घोषणा की।


वश्व मलेरिया दिवस’’ के अन्तर्गत रैली एंव नुक्कड़ नाटक का आयोजन


jhabua news
झाबुआ । ’’विश्व मलेरिया दिवस’’ दिनांक 25 अप्रैल 2022 के आयोजन के अन्तर्गत मलेरिया रोग के बचाव संबंधी रैली एंव नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया। रैली एंव नुक्कड़ नाटक के माध्यम से मलेरिया उन्मूलन को ध्यान में रखते हुए जन समुदाय में मलेरिया बीमारी के कारण, लक्षण एंव उनसे बचाव के संबंध में जन-जागृति लाकर रोग की रोकथाम की जानकारी दी गई। जन-जागरूकता रैली को मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी जिला झाबुआ, डॉ.जे.पी.एस .ठाकुर द्वारा रैली को हरी झंडी दिखाकर प्रचार-प्रसार हेतु रवाना किया गया। जागरूकता रैली स्थानीय झाबुआ शहर के राजवाड़ा चौक से प्रारंभ होकर शहर के मुख्य मार्गो से निेकलकर बस स्टेण्ड पर सम्पन्न की गई। जागरूकता रैली में मेगा माईक से मलेरिया रोग के नियंत्रण संबंधी प्रचार-प्रसार किया गया एंव पोस्टर,पम्पलेट्स का वितरण किया गया। रैली के दौरान स्थानीय राजवाड़ा चौक एंव बस स्टेण्ड पर जनरल नर्सिग प्रशिक्षण केन्द्र की स्टॉफ प्रशिक्षणार्थी (जी.एन.एम) द्वारा मलेरिया रोग के कारण, बचाव व निदान के संबंध में नुक्कड़ नाटक का प्रदर्शन किया गया। नुक्कड़ नाटक के प्रदर्शन को बस-स्टेण्ड पर उपस्थित नागरिकों के द्वारा देखा गया। आयोजित रैली में जिला स्वास्थ्य अधिकारी, डॉ.एस.एस.गडरिया, डॉ. जितेन्द्र बामनिया, जिला क्षय अधिकारी,.जिला चिकित्सालय झाबुआ, जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री आर.आर. खन्ना, जिला मलेरिया अधिकारी श्री डी.एस.सिसोदिया, श्री जितेन्द्र बघेल, व्हीबीडी जिला सलाहकार ,सहायक मलेरिया अधिकारी श्रीमती किरण मंडलौई, उपस्थित रहें । जनरल नर्सिग प्रशिक्षण केन्द्र की सभी प्रशिक्षणार्थी (जी.एन.एम/बीएसी) द्वारा मलेरिया रोग के कारण, बचाव व निदान के संबंध में नारें का वाचन कर पम्पलेट्स एंव पोस्टर का प्रदर्शन कर जन-जागरूकता का प्रयास किया गया ।


25 अप्रैल 2022 को उड़ान एकेडमी झाबुआ के छात्रों के लिए नालसा (नशा पीड़ितों को विधिक सेवाऐं एवं नशा उन्मूलन के लिए विधिक सेवाऐं) योजना-2015 अंतर्गत विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन


झाबुआ । मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के द्वारा प्रेषित वार्षिक कार्य-योजना 2022-2023 के पालन में माननीय प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमान मोहम्मद सैय्यदुल अबरार जी के मार्गदर्शन तथा प्राधिकरण के सचिव/जिला न्यायाधीश श्रीमान लीलाधर सोलंकी जी के नेतृत्व में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ के द्वारा नशा मुक्ति जन जागरूकता अभियान के तहत दिनांक 25.04.2022 को उड़ान एकेडमी झाबुआ के छात्रों के लिए नालसा (नशा पीड़ितों को विधिक सेवाऐं एवं नशा उन्मूलन के लिए विधिक सेवाऐं) योजना-2015 अंतर्गत विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री मुकेश कौशल द्वारा किया गया। शिविर में नशा पीड़ितों को विधिक सेवाऐं एवं नशा उन्मूलन के लिए विधिक सेवाऐं्र योजना के तहत जानकारी दी गई। श्री कौशल ने बताया कि जिन परिवारों में मादक पदार्थो का उपयोग करते है सामान्यतः देखा गया है कि वह बच्चे नशे की गिरफ्त में आ जाते है और वे नशे के लत में पड़ जाते है। नशे की लत को मिटाया जा सकता है, इसके लिए हम सभी को प्रयास करना होगा नशे से पीड़ित की मानसिक पीड़ा का उपचार किया जा सकता है। नशा मुक्ति केन्द्र या पुनर्वास केंद्र जैसी भी स्थिति हो उनमें नशे के आदी व्यक्ति को दाखिल कराया जा सकता है। नवयुवको, किशोरों एवं बालकों में ड्रग तस्करी एवं दुरूपयोग की असाधरण बढोतरी गंभीर व जटिल निहितार्थ सूचित करती है जो राष्ट्रीय स्वास्थ्य एवं अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित करती है। इसकी रोकथाम राज्य के साथ-साथ समाज की सर्वोत्तम प्राथमिकता है। नशे के चलते होने वाले अपराधों और उससे होने वाली सजा की कानूनी जानकारी दी। श्री कौशल जी ने कहा कि दृढ़ इच्छाशक्ति ही नशे की लत से मुक्ति पाई जा सकती है। साथ ही कोंचिग छात्रों से उनका लक्ष्य जानकर उस लक्ष्य तक किस प्रकार पहंुचा जाए, क्या किया जाए आदि बातों की जानकारी दी। छात्रों में कई प्रकार के तर्कशक्ति प्रश्नों से रोचकता उत्पन्न कर भविष्य में उनको लक्ष्य प्राप्ति के लिए आने वाली परीक्षा के लिए तैयारी का मार्ग दिखाया। कार्यक्रम में उड़ान एकेडमी संचालक श्री कपिल बसेर एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ के कर्मचारीगण उपस्थित रहें।


झाबुआ को स्वच्छ और सुंदर बनाने की कवायद का शुभारंभ


झाबुआ । कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा झाबुआ नगर पालिका क्षेत्र में पिछले 2 दिन में जो अतिक्रमण हटाया गया है और अब जो स्थिति निर्मित हुई है , उसका अवलोकन एवं व्यवस्था का जायजा लेने डीआरपी लाइन के सामने पहुंचे ! यहां पर जो अतिक्रमण था, उसे पूरी तरह हटाया जा चुका है! अब झाबुआ को सुंदर और स्वच्छ बनाने की लिए नई पहल किस तरह से की जाए कि आमजन कुछ बेहतर अनुभव कर सकें , इस मुहिम को मूर्त रूप देने के लिए  आज अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एल एन गर्ग, सीएमओ श्री एलएस डोडिया, तहसीलदार श्री आशीष राठौर उपस्थित थे , जिन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई कि इस चौराहे को बहुत ही व्यवस्थित और सुंदर बनाया जाए !


झाबुआ के राजगढ़ नाका चौराहे को स्वच्छ और सुंदर बनाने की कवायद का शुभारंभ


झाबुआ । दिनांक 24 अप्रेल  को दोपहर पश्चात कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा झाबुआ नगर पालिका क्षेत्र में पिछले 2 दिन में जो अतिक्रमण राजगढ़ नाका क्षेत्र से हटाया गया है और अब जो स्थिति निर्मित हुई है , उसका अवलोकन एवं व्यवस्था का जायजा लेने राजगढ़ नाका क्षेत्र  पीएचई ऑफिस के सामने पहुंचे ! यहां पर जो अतिक्रमण था, उसे पूरी तरह हटाया जा चुका है! यहां पर नगर पालिका गार्डन और पीएचई के कार्यालय के समीप जो जगह रिक्त है, वहां पर नवीन दुकाने निर्मित कर पात्र लोगों को देने के लिए कार्य योजना बनाकर उसके अनुसार कार्य करने के निर्देश दिए! जिससे स्थानीय लोगों को रोजगार प्राप्त हो सके।  इसके अतिरिक्त अब झाबुआ को सुंदर और स्वच्छ बनाने की लिए नई पहल किस तरह से की जाए कि आमजन कुछ बेहतर अनुभव कर सकें , इस मुहिम को मूर्त रूप देने के लिए  आज अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एल एन गर्ग, सीएमओ श्री एलएस डोडिया, तहसीलदार श्री आशीष राठौर उपस्थित थे, जिन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई कि इस राजगढ़ नाका चौराहे को बहुत ही व्यवस्थित और सुंदर बनाया जाए।        


झाबुआ के टंट्या मामा चौराहे को स्वच्छ और सुंदर बनाने की कवायद का शुभारंभ


झाबुआ । कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा झाबुआ नगर पालिका क्षेत्र में पिछले 2 दिन में जो अतिक्रमण टंट्या मामा चौराहा क्षेत्र से हटाया गया है और अब जो स्थिति निर्मित हुई है , उसका अवलोकन एवं व्यवस्था का जायजा लेने  पहुंचे ! यहां पर जो अतिक्रमण था, उसे पूरी तरह हटाया जा चुका है।    अब झाबुआ को सुंदर और स्वच्छ बनाने की लिए नई पहल किस तरह से की जाए कि आमजन कुछ बेहतर अनुभव कर सकें , इस मुहिम को मूर्त रूप देने के लिए  आज अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एल एन गर्ग, सीएमओ श्री एलएस डोडिया, तहसीलदार श्री आशीष राठौर उपस्थित थे , जिन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई कि टंट्या मामा चौराहे को बहुत ही व्यवस्थित और सुंदर बनाया जाए !                 


प्रशासन आपके द्वार‘‘ में  ग्राम कईडावद बड़ी (वि. ख. झाबुआ) में शुक्रवार रात्रि चौपाल के लिए कलेक्टर एवं जिला अधिकारी पहुंचे

  • शिविर स्थल पर कलेक्टर महोदय के द्वारा दो लोगों को डिजिटल ऋण पुस्तिका दी गई एवं तीन लोगों को आदेश की प्रति दी गई एवं वृद्धावस्था पेंशन की स्वीकृति आदेश दो हितग्राहीयों को दिए                                     
  • अपूर्ण प्रधानमंत्री आवास तत्काल पूर्ण करने के निर्देश दिए - कलेक्टर

jhabua news
झाबुआ, 25 अप्रैल,2022। जिला प्रशासन की एक अभिनव पहल ‘‘प्रशासन आपके द्वार‘‘ जिसके अंतर्गत चयनित दूरस्थ ग्राम में प्रति सप्ताह पहुंच कर ग्रामीणों की समस्या का निराकरण स्थानीय स्तर पर ही किया जाना एवं ग्रामीणों को विभिन्न विभागों द्वारा संचालित की जाने वाली योजनाओं से रूबरू करवाना एवं ग्रामीणों को विभिन्न विभागों की योजनाओं का लाभ किस तरह प्राप्त हो रहा है। इसकी समीक्षा इस शिविर में की गई। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा द्वारा इस अभिनव पहल का मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण एवं विभागीय योजनाओं से अवगत कराना था। इस हेतु विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी एवं झाबुआ अनुभाग के अधिकारी 24 अप्रैल शनिवार को रात्रि 7 बजे के लगभग पहुंचे ! यहां ग्राम कईडावद बड़ी में ग्रामीणों के साथ रूबरू चर्चा करने के लिए उपस्थित हुए। कलेक्टर श्री मिश्रा ने यहां बड़ी संख्या में उपस्थित ग्रामीणों से रूबरू चर्चा की एवं उनकी समस्याओं को सुना एवं उनकी समस्याओं का शिविर में ही निराकरण किया । शिविर स्थल  ग्राम पंचायत  कईड़ावद बड़ी में कलेक्टर महोदय के द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना जो हितग्राहियों के द्वारा अभी तक पूर्ण नहीं किए गए हैं जिसके कारण अन्य लोगों के आवास स्वीकृत होने के पश्चात भी  नहीं दे पा रहे  है ऐसी स्थिति में ग्रामीणों को समझाया कि आप अपने आवास जिसकी राशि आपको प्राप्त हो चुकी है तत्काल पूर्ण करें जिससे दूसरे लोगों का नंबर तत्काल आ सकते हैं यदि आपके द्वारा समय पर पूरा नहीं किया गया तो प्रशासन आपके विरुद्ध सख्त कार्यवाही करेगी और आपका दिया गया आवास भी निरस्त कर अन्य को दे दिया जाएगा कृपया इसे गंभीरता से ले ले ग्रामीणों ने आश्वासन दिया कि हम तत्काल आवास पूर्ण कर लेंगे कृपया हमें एक सप्ताह का समय दे दीजिए यदि हम पूरा नहीं करते हैं तो हमारा आवास निरस्त कर दिया जाए। यहां पर आयुष्मान कार्ड शत प्रतिशत बनाए जाने के लिए लोगों को जागरूक किया एवं संबंधित को निर्देश दिए कि यहां पर कैंप लगाकर शत प्रतिशत आयुष्मान कार्ड बनाएं। कलेक्टर महोदय द्वारा स्वच्छता अभियान के अंतर्गत यहां पर लोगों को स्वच्छता के बारे में लोगों को जागरूक किया! उपस्थित ग्रामीणों से रूबरू चर्चा करते हुए पूछा कि आपको यहां पर उचित मूल्य का राशन समय पर प्राप्त हो रहा है या नहीं या निर्धारित मात्रा में प्राप्त हो रहा है या नहीं ! ग्रामीणों ने एक स्वर में कहा कि हमें उचित मूल्य की दुकान पर समय पर अनाज और निर्धारित मात्रा के अनुसार ही अनाज प्राप्त हो रहा है !कलेक्टर महोदय द्वारा इस पर उचित मूल्य की दुकान के सेल्समैन को बधाई दी। श्री मिश्रा ने कहा कि हम आपकी समस्याओं का निराकरण करने के लिए ही आपके गांव में आए हैं। आपको झाबुआ नहीं आना पडे इसके लिए प्रशासन स्वयं आपके द्वार पर उपस्थित है। आपकी जो भी समस्याए है उसके निराकरण के लिए आगे आए। कलेक्टर महोदय द्वारा दो लोगों को डिजिटल हस्ताक्षर वाली ऋण पुस्तिका प्रदान की जिसमें श्री करिया पिता श्री नागु डामोर , द्वितीय श्री सकरिया पिता बुचा को दिया गया और बाकी तीन आदेश श्रीमती संगीता पति श्री नेतियां डामोर , श्रीमती प्रियाल  पति भारत सिंह, श्री पुलकित पिता महेंद्र सिंह डामोर को फौती नामांतरण  के आदेश दिए गए  ! यहां पर वृद्धावस्था  पेंशन ₹600 प्रतिमाह स्वीकृति के दो आदेश जिसमें श्रीमती लीला वक्ता एवं श्रीमती शारदा बाई को प्रदान किए। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के आवास प्लस में जोड़ने की सूची के अलावा स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत स्वच्छता अभियान के संबंध में  जो जिलाधिकारी आए थे उनके द्वारा विभाग से संबंधित सूचनाओं को वाचन/ उद्बोधन ग्रामीणों को दिया और आह्वान किया कि आप इन योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ लें और अपनी आजीविका स्तर एवं शिक्षा के स्तर को आगे बढ़ाएं। इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एलएन गर्ग ,अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री दिनेश वर्मा, सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग श्री प्रशांत आर्य, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत झाबुआ श्री अर्पित गुप्ता द्वारा मनरेगा योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना के संबंध में ग्रामीणों को विस्तृत रूप से जानकारी उपलब्ध करावाई गई। यहां पर प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत 207 अपूर्ण आवास है एवं 696 आवास प्लस में लिए गए हैं। कलेक्टर श्री मिश्रा ने ग्रामीणों से आव्हान किया कि जो लोग प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास लेने से छुट गए है वे लोग आवास प्लस में अपना आवेदन प्रस्तुत करे। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन के द्वारा यहां पर निर्मित हो रहे आवासों को तत्काल पूर्ण किए जाने के निर्देश दिए। तहसीलदार श्री आशिष राठौर द्वारा बताया गया कि जिले में भू अभिलेख  राजस्व विभाग  के माध्यम  आप किसी भी प्रकार की समस्या जो आपके भूमि संबंधित है उसका निराकरण कर सकते है। ग्रामीण लोग फोती नामांतरण, भूमि स्वामी नाम सुधार, खसरा रकबा एवं नक्शा संबंधि त्रुटियों आदि में सुधार किया तत्काल किए जाने की व्यवस्था निर्धारित कर दी गई है आप इसका लाभ लें।  पटवारी के द्वारा इ1 बी -1 का वाचन भी किया गया। कृषि विभाग के उप संचालक श्री नगीन रावत द्वारा कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में विस्तृत रूप से ग्रामीणों को अवगत कराया। इसी तरह उद्यान विभाग, पशुचिकित्सा विभाग, मध्यप्रदेश राज्य विद्युत मण्डल, स्वास्थ्य विभाग, खाद्य विभाग, सिचाई विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, जन जाति कार्य विभाग, शिक्षा विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, राजस्व विभाग, वन विभाग द्वारा अपने विभाग की योजनाओं से ग्रामीणों को अवगत करवाया। कलेक्टर श्री मिश्रा ने यहां के ग्राम पंचायत सचिव को इस ग्राम पंचायत की जानकारी के संबंध में तलब किया एवं ग्राम पंचायत में मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास एवं अधोसंरचना के कार्यो के बारे में कलेक्टर महोदय द्वारा जानकारी प्राप्त की गई एवं ग्रामीणों से इस संबंध में रूबरू वास्तविक स्थिति प्राप्त की गई। इस दौरान मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, वनमण्डलाधिकारी श्री हरिसिंह ठाकुर, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एल.एन.गर्ग,  तहसीलदार श्री आशिष राठौर, बीएमओ, उप वन मण्डलाधिकारी श्री प्रदीप कछावा, सहायक यंत्री पीएचई श्री राहुल रघुवंशी, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्यविभाग श्री प्रशांत आर्या, कार्यपालन यंत्री मध्यप्रदेश राज्य विद्युत मण्डल श्री सुखदेव मण्डलोई, जिला आयुष अधिकारी श्रीमती प्रमिला चौहान, प्रभारी पीआरओ श्री सुधीर कुशवाह, बीईओ झाबुआ श्रीमती वर्षा चौरे झाबुआ जनपद पंचायत के सदस्य श्री  हेमचंद्र भाई डामोर ग्राम पंचायत कईडॉवद बड़ी के सरपंच एवं बडी संख्या में जिला अधिकारी एवं ग्रामीण उपस्थित थे।


समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक आयोजित, संजीवनी हेल्थ कैम्प में सिलिकोशिस एवं फ्लोरोशिस की जांच भी अनिवार्य रूप से की जावे -कलेक्टर


झाबुआ । कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में समयावधि पत्र (टीएल) की बैठक आयोजित की गई। कलेक्टर महोदय द्वारा बैठक में निर्देश दिए कि जिले में रोजगार मेला प्रतिमाह लगाया जाए। संजीवनी हेल्थ कैम्प जो आयोजित हो रहे है। उसमें सिलिकोशिस एवं फ्लोरोशिस की जांच भी अनिवार्य रूप से की जावे। यहां पर संजीवनी हेल्थ कार्ड अनिवार्य रूप से देवे। ग्रामीणजन अनिवार्य रूप से अपना स्वास्थ्य परीक्षण करवा कर संजीवनी हेल्थ कार्ड बनवाए एवं ग्रामों में शतप्रतिशत आयुष्मान कार्ड स्वयं का एवं अपने परिवार को अनिवार्य रूप से बनवाए। स्कूलों में बच्चों को निर्धारित मेनु के अनुसार मध्यान्ह भोजन प्राप्त हो एवं उचित मुल्य की दुकान पर पर्याप्त राशन हो एवं सही समय पर ग्रामीणों को उपलब्ध हो, मेरे द्वारा भ्रमण पर यह पाया की उचित मुल्य की दुकानों पर खाद्यान समय पर वितरण नहीं हो रहा है। इस संबंध सख्त कार्यवाही की जावेगी। माननीय मुख्यमंत्री महोदय के द्वारा भी राशन समय पर ग्रामीणों को उपलब्ध हो ऐसे निर्देश है। सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणो में यदि कोई भी शिकायत विभाग में समाधान पोर्टल पर लंबित रहती है तो उसका तत्काल निराकरण करें। विलंब के लिए सख्त कार्यवाही की जावेगी। सीएम हेल्पलाइन में एल-1 एल-2 पर ही निराकरण संतुष्टिपूर्वक कर देवें। सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निराकरण अधिकतम 07 दिवस के अन्दर किया जाना सुनिश्चित किया जावे। इस बैठक में कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन के द्वारा सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में उत्कृष्ट कार्य करने पर 14 जिला अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। जनसुनवाई के प्रकरणों में प्रकरणवार समीक्षा की एवं माननीय मुख्यमंत्री जी को प्रस्तुत आवेदन पत्रों कि समीक्षा की गई। सभी जिला अधिकारियों को निर्देश दिये कि आगामी सप्ताह मे सभी प्रकरणों का संतुष्टिपूर्वक निराकरण किया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर महोदय इस सप्ताह से निरंतर शहर के वार्डो का निरीक्षण एवं व्यवस्था का जायजा लेगें। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं नगर पालिका अधिकारी शहर मे हो रहे अतिक्रमण पर तत्काल कार्यवाही करे। कृषि विभाग फसल बीमा की राशि के भुगतान में प्राप्त सीएम हेल्पलाइन का निराकरण तत्काल किया जाना सुनिश्चित करें। गर्मी को देखते हुए पीएचई देखें कि जहां पर वाटर लेवल कम हुए वहां पर हैंडपंप का खनन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसकी सतत मानिटरिंग करें। अवैध अतिक्रमण के लिए एक दस्ता प्रथक से बनाया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में सीईओ जनपद पंचायत को बनाया जाए और शहरी क्षेत्र में मुख्य का नगर पालिका अधिकारी के निर्देश में बनाया गया है। जिस पर राजस्व अमला तत्काल कार्यवाही भी करें। जिले में जो भी जर्जर मकान हो चुके हैं उन्हें तत्काल डिस्मेंटल किया जाए। बरसात के पूर्व यह कार्यवाही पूरा हो जाना चाहिए। दुकानों के बाहर सामग्री रखे जाने पर तत्काल कार्यवाही करें ,इससे सड़क बाधित होती है, इसके अतिरिक्त बस स्टेशन एवं आवागमन रोड पर अवैध रूप से सब्जी या फल विक्रेता अपनी दुकान लगाए रहते हैं, जिससे आवागमन बाधित होता ही है साथ ही दुर्घटना का खतरा बना रहता है। इसलिए यहां के अतिक्रमण तत्काल हटाए जाएं और जो लगा रहे हैं, उन पर कार्रवाई करें जुर्माना जी करें। मेरे भ्रमण के दौरान यदि इस तरह की अव्यवस्था दिखती है तो संबंधित सीईओ जनपद पंचायत या नगरपालिका अधिकारी के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। न्यायालय प्रकरण में समय सीमा में विभाग अपना जवाब प्रस्तुत कर दें। सीएम हेल्पलाईन के यदि 500 दिवस से उपर एवं 300 दिवस एवं 100 दिवस से अधिक लंबित प्रकरणों का तत्काल निराकरण सुनिश्चित करे। लंबित प्रकरणों की जानकारी भी अनिवार्य रूप से लावे एवं प्रतिवेदन को पोर्टल पर दर्ज करे। आगंनवाडी केन्द्रो को जिन विभाग के अधिकारियों के द्वारा गोद लिया गया है वहां पर बच्चों के पोषण का विशेष ध्यान रखें। कलेक्टर महोदय द्वारा निर्देश दिए की जिला अधिकारी भी आंगनवाडी गोद ले। इसके अतिरिक्त जनप्रतिनिधियों एवं वरिष्ट नागरिकों से भी आव्हान करें कि अपने क्षेत्र में चल रही आंगनवाडी को गोद ले एवं यहां पर बच्चों को पोषण की पर्याप्त व्यवस्था, बिजली की पर्याप्त व्यवस्था, शुद्ध पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था, खिलोने आदि बच्चों के मंनोरंजन आदि की व्यवस्था करे एवं आंगनवाडी व्यवस्थित रूप से आकर्षक हो ऐसे प्रयास किए जाए। भू-माफिया, शराब माफिया एवं मिलावट खोरों, खनिज माफिया के लिए निरंतर छापामार कार्यवाही की जावे। अतिक्रमणों एवं गुण्डा तत्वों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जाए। इस सप्ताह में अतिक्रमण हटाने की मुहिम चलाई जाए। फसलों को किसान के आधार से लिंक करवाए। जिससे किसानों को अपनी फसल को बचने में सुविधा हो यह कार्य गिरधावर एवं पटवारी प्रथम प्राथमिकता से करें। यह उनकी व्यक्तिगत जवाबदारी है। दतिया मॉडल पर कार्यवाही सुनिश्चित करें। कड़कनाथ मुर्गो की आनलाइन खरीदी का पोर्टल व्यवस्थित करें। केवीके से सम्पर्क करें। इसमें वेंडर को भी जोडे एवं डिस्टीबुटर से भी समन्वय करें। बैठक में पोषण पुर्नवास केन्द्र (एन.आर.सी.) पर बच्चों की भर्ती शतप्रतिशत हो जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग इसकी सतत समीक्षा करें एवं जिला अधिकारी भी अपने भ्रमण के दौरान इन एन.आर.सी. सेंटर का अवलोकन करें। बच्चों की माता को भी उचित पोषण आहार उपलब्ध हो, ऐसी सुविधा सुनिश्चित करें। किसी भी प्रकार की लापरवाही होने पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। जल जीवन मिशन के अंतर्गत कार्यो की सतत समीक्षा की जावे। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं तहसीलदार कार्यो का सत्यापन करे। सत्यापन करते समय यह देखे की जल जीवन मिशन का जहां पर कार्य लिया गया है। वहां पर जल स्त्रोत बेहतर हो, पानी की टंकी को देखे, पाईप लाईन को देखे, नल से पानी दिया जा रहा है या नहीं घरो में नल पर टोटी लगी हो, पानी व्यर्थ नहीं बह रहा हो, बिजली की पर्याप्त व्यवस्था हो। स्कूल वैक्सीनेशन की स्थिति अत्यन्त खराब है। संजीवनी हेल्थ कैम्प एवं स्वास्थ्य मेले में बच्चों के लिए विशेष सुविधा उपलब्ध करवा कर वैक्सीनेशन किया जाए। राणापुर क्षेत्र में अच्छा काम हुआ है। 12 से 14 वर्ष के बच्चों को आगामी दो दिवस में कम से कम 50 प्रतिशत टीकाकरण हो जाए। जिले में संजीवनी हेल्प कैंप का आयोजन किया जाए। 375 ग्राम पंचायतों में लगभग 45 दिवस में हेल्थ कैंप पूर्ण हो जाए। ग्रामों में जहां संजीवनी कैम्प का आयोजन हो रहा है वहां पर अनिवार्य रूप से आयुष्मान कार्ड बनाए जाए। आयुष्मान कार्ड परिवार के सभी सदस्यों के बनाए जाए। किसी भी स्थिति में लापरवाही बरदाश्त नहीं की जाएगी। एक जिला एक उत्पाद जिसमें कडकनाथ एवं टमाटर उत्पादन लिया गया है। इन दोनों योजना में किसानों को कितना लाभ हुआ है। इसका भी आकलन किया जाए। बैठक में पीपीटी के माध्यम से मनरेगा, पीएम आवास प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना की समीक्षा की गई। मनरेगा लेबर बजट में सबसे अच्छा कार्य जनपद पंचायत पेटलावद में किया गया है एवं सबसे खराब परर्फामेंस जनपद पंचायत मेघनगर का होने पर एपीओ मेघनगर को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, संयुक्त कलेक्टर श्री सुनील झा, डिप्टी कलेक्टर श्री तरूण जैन, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एल.एन.गर्ग, अतिरिक्ति मुख्य कार्यापालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा, एवं समस्त जिला अधिकारी उपस्थित थे। वीडियों कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत,  थांदला श्री अनिल भाना, मेघनगर श्रीमती अंकिता प्रजापति, समस्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत समस्त तहसीलदार समस्त बीएमओ समस्त सीएमओ समस्त सीईओ जनपद पंचायत जुडे थे।


‘‘किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी’’ अभियान

  • जिले में 26 अप्रेल को कृषि मेले का आयोजन, आजादी के अमृत महोत्सव के तहत जिले में कृषि मेले का आयोजन, प्राकृतिक खेती विषय पर कृषि मेले में कृषक वैज्ञानिक परिचर्चा और संवाद अयोजन

झाबुआ,। भारत सरकार द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव को जन भागीदारी उत्सव के रूप में मनाये जाने के लिये विभिन्न कार्यक्रमों का श्रंखलाबद्ध आयोजन किया जा रहा है। कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा विभिन्न मंत्रालयों और विभागो के सहयोग समन्वय से आजादी का अमृत महोत्सव के तहत 25 अप्रेल से 30 अप्रेल 2022 के दौरान ‘‘किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी’’ अभियान का आयोजन किया जा रहा है। ‘‘किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी’’ अभियान के दौरान प्रतिदिन विभिन्न क्षेत्रको पर केन्द्रीत कार्यक्रमो का चरण बद्ध रूप से पृथक-पृथक आयोजन नियोजित है। किसानों पर केन्द्रीत तकनीकी कार्यक्रम, कार्यषाला और कृषि मेलों का आयोजन किया जा रहा है। इसी अभियान की कड़ी में जिले में 26 अप्रेल को अन्नदाता किसानों की सहभागिता के साथ ’’किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी अभियान’’ अन्तर्गत प्राकृतिक खेती केन्द्रीत कृषि मेले का आयोजन कार्यक्रम नियोजित है। खेती किसानी आधारित आजीविका उन्नयन की दृष्टि से प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देना, कम लागत की नवीन कृषिगत तकनीक, युक्तियों, उत्पादों, केन्द्रीय एवं राज्य पोषित योजनाओं की जानकारी, और कृषि के क्षेत्र में हो रहे परिवर्तनों से सुपरिचित करवाने के उद्देश्य से जिले में जिला स्तर पर स्थानीय कृषि विज्ञान केन्द्र प्रक्षेत्र पर कृषि मेला दिनांक 26 अप्रैल 2022 को आयोजित किया गया है। मेले में ग्रामीणजनों के कल्याणार्थ भारत सरकार और मध्यप्रदेष शासन की संचालित योजनाओं की जानकारी प्रसारण के साथ-साथ योजनाओं का लाभ लेने हेतु अभिप्रेरण एवं नवीनतम उन्नत तकनीक, उच्च गुणवत्तायुक्त आदानों की जानकारी और अन्य उपयोगी ज्ञान और सूचना प्रसारण इत्यादि हेतु विभिन्न शासकीय, अशासकीय विभागों की योजनाओं, कृषि क्षेत्र से जुडी संस्थाओं और उद्यमियों के उत्पादों और नवीन तकनीक से संबंधित जानकारी से कृषकों को सुपरिचित करवाने के उद्देश्य से स्टॉल के रूप में प्रदर्शनी लगायी जाना है।  स्टॉल/प्रदर्शनी के माध्यम से ग्रामीणजनों को कृषिगत तथा आजीविका उन्नयन आधारित नवीनतम तकनीक की जानकारी एवं उत्पादों की जानकारी से परिचित करवाते हुये उन्हें योजनान्तर्गत प्रावधानित लाभ/सामग्री का वितरण एवं चयन करने का अवसर सुलभ कराया जावेगा।  कृषि विज्ञान केन्द्र और कृषि विभाग के सयुक्तावधान में आयोजित इस मेले में कृषक कृषकों के साथ वैज्ञानिको और विषेषज्ञो की परिचर्चा और संवाद कार्यक्रम भी आयोजित किया जावेगा। जैविक खेती व प्राकृतिक खेती के विभिन्न आयामो के साथ-साथ किसान समुदाय और आमजन को होने वाले फायदो तथा विपणन के विभिन्न पहलुओं पर विष्लेषणात्मक चिंतन किया जावेगा। एक जिला एक उत्पाद के तहत झाबुआ जिले के लिये चिन्हीत विषय पर भी परिचर्चा की जावेगी। जनप्रतिनिधियों और शासन के अधिकारीयों द्वारा खेती किसानी के साथ-साथ किसान समुदाय के विकास और कल्याण के लिये सरकार की प्राथमिकताओं, संवेदनषीलता और नीति नियोजन दृष्टिकोण से भी किसानो को आमुख किया जावेगा। मेले मंे कृषि विज्ञान केन्द्र, कृषि विभाग, पषुपालन विभाग, उद्यानिकी विभाग, मत्स्य पालन विभाग, कृषि अभियांत्रिकी विभाग सहित कृषिगत और ग्रामीणजनों से जीवन्त सम्पर्क रखने वाले विभागो और संस्थाओ द्वारा सहभागिता की जावेगी। जिले के उप संचालक कृषि नगीन सिंह रावत तथा कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. आई.एस.तोमर ने जिले के किसानो और कृषि क्षेत्र में कार्यरत मैदानी अमले से मेले में सक्रिय सहभागिता कर लाभान्वित होने के लिये आग्रह किया है।

  

झाबुआ का जी.आई.टेग प्राप्त कड़कनाथ अब बनेगा धोनी के फार्म की शान


jhabua news
झाबुआ। श्री महेन्द्रसिंह धोनी के इजा फार्म रॉंची के लिए श्री विनोद मेड़ा ग्राम रूण्डीपाडा विकासखण्ड थांदला 2000 कड़कनाथ चूजे लेकर रवाना हुए। जिन्हें कलेक्टर महोदय द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। श्री मेड़ा, धोनी के फार्म पर कड़कनाथ चूजे ले जाने के लिए काफी उत्साहित है। उनका कहना है कि इससे झाबुआ के कड़कनाथ को एक नई पहचान मिलेगी एवं जिले का नाम पुरे देश में रोशन होगा। लगभग 1.5 वर्ष पहले धोनी के मैनेजर डॉ. एस.एस. कुल्लू एवं कृषि विज्ञान केन्द्र के डॉ. चंदन कुमार के बीच में कड़कनाथ पालन के संबंध में बात हुई थी। फाइनल डील 2000 चूजे प्रति चूजा 90 रू. के मान से कुल 1.80 लाख में तय हुई थी। चूजे विनोद मेड़ा द्वारा उनके फार्म से भेेजे जाने थे। लेकिन बर्ड फ्लू के कारण उस समय डिलीवरी नही हो पाई थी। जिन्हें अब भेजा जा रहा है। पशुपालन विभाग के उपसंचालक डॉ. विलसन डावर ने बताया कि कड़कनाथ में वसा एवं कोलेस्ट्रोल बहुत कम होता है। तथा प्रोटीन एवं जरूरी फेटी एसिड अधिक होते है, जिसके कारण कड़कनाथ की मांग अधिक है। श्री मेड़ा के आशीष कड़कनाथ फार्म पर उपलब्ध कड़कनाथ चूजों का टीकाकरण डॉ. अमित कुमार दोहरे के मार्गदर्शन में किया गया। आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के तहत कड़कनाथ को एक जिला एक उत्पाद के लिये चयनित किया गया है। कड़कनाथ को बढ़ावा देने के लिए जिला प्रशासन द्वारा कड़कनाथ के प्रचार-प्रसार एवं विक्रय हेतु वेबसाईट भी तैयार की गई है। अब तक वेबसाईट के माध्यम से देश के विभिन्न शहरों में 6.00 लाख की कड़कनाथ खरीदी ऑनलाईन की गई है। कड़कनाथ के व्यवसाय से अब युवा भी जुड़ रहे है। कड़कनाथ फार्म एवं हेचरी स्थापित करने के लिए केन्द्र शासन की राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना संचालित है। जिसकी इकाई लागत 34.00 लाख है। इय योजना में जिले के 06 लोगों ने ऑनलाईन आवेदन किये है। श्री विनोद मेड़ा द्वारा भी आवेदन किया गया है। इस योजना के क्रियान्वयन से कड़कनाथ उत्पादन और बढे़गा एवं लगभग 50 लोगों को रोजगार मिलेगा।


27 अप्रेल को इन स्थानों पर संजीवनी स्वास्थ्य शिविर आयोजित होंगे

  • शिविर स्थल पर ग्रामीणजन निःशुल्क अपने स्वास्थ्य की जांच, ईलाज, आयुष्मान कार्ड, संजीवनी कार्ड बना सकेंगे

झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा निर्देश दिए गए हैं कि संजीवनी कैम्प 27 अपै्रल को जिले के सभी विकास खण्डों मे निर्धारित स्थान पर आयोजित किए जाए। जिसके लिए पर्याप्त व्यवस्था डॉक्टर्स की उपलब्धता सुनिश्चित कर ली जावे। ग्रामीण क्षेत्रों में इन कैम्पों के माध्यम से अधिक से अधिक ग्रामीणों का स्वास्थ्य चेकअप किया जाए। बीमारी की अवस्था में ईलाज उपलब्ध कराया जाए। इसके अतिरिक्त महत्वपूर्ण ग्रामीणों के आयुष्मान कार्ड शतप्रतिशत बन जाए। ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। दिनांक 27 अप्रेल को जहां संजीवनी स्वास्थ्य शिविर आयोजित किए जाएगें जिसमें  विकास खण्ड मेघनगर में सजेली मालजी साथ, फुट तालाब, पीपलखूंटा, झाबुआ क्षेत्र में चारोलीपाडा, कालापीपल, डूमपाडा, फूलधावडी, रामा विकास खण्ड में नवापाडा , बावडी, दौलतपूरा, रामा, पेटलावद विकास खण्ड में गेहन्दी छायन वेस्ट, पिठडी, रताम्बा, टेमरिया, राणापुर विकास खण्ड में भुतबयडा, धामनी चमना, कालापन, अबेराव, थांदला विकास खण्ड में झारणी, सेमलिया, बडा जुलवानिया, रनी में आयोजित होंगे। श्री मिश्रा ने आव्हान किया है कि इस संजीवनी कैम्प में अधिक से अधिक ग्रामीण उपस्थित होकर अपना स्वास्थ्य चेकअप करवाए। अपना आयुष्मान कार्ड बनाए। इस संबंध में कोई समस्या हो तो अवगत कराया जा सकता है।


सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में उत्कृष्ट कार्य करने पर 14 जिला अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया

jhabua news

झाबुआ । सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में उत्कृष्ट कार्य करने पर कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन के द्वारा आज टी.एल. बैठक में 14 जिला अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस दौरान अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, संयुक्त कलेक्टर श्री सुनिल झा, डिप्टी कलेक्टर श्री तरूण जैन, अनुविभगीय अधिकारी राजस्व श्री एल.एन.गर्ग, अतिरिक्ति मुख्य कार्यापालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा, एवं समस्त जिला अधिकारी उपस्थित थे।


मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्य 28 अप्रैल को झाबुआ में मानवाधिकार हनन मामलों की सुनवाई करेंगे 29 अप्रैल को अलीराजपुर में वन स्टॉप सेंटर का निरीक्षण करेंगे


झाबुआ। मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के माननीय अध्यक्ष न्यायमूर्ति श्री नरेन्द्र कुमार जैन एवं माननीय सदस्य श्री सरबजीत सिंह 28 एवं 29 अप्रैल को झाबुआ एवं अलीराजपुर जिले के प्रवास पर रहेंगे। अधिकृत प्रवास कार्यक्रम के मुताबिक माननीय अध्यक्ष न्यायमूर्ति श्री जैन एवं माननीय सदस्य श्री सिंह बुधवार (27 अप्रैल) को दोपहर 1.15 बजे भोपाल से प्रस्थान कर रात 8 बजे झाबुआ पहंुचेंगे एवं रात्रि विश्राम यहीं करेंगे। आपद्वय गुरूवार (28 अप्रैल) को सुबह 10.15 बजे से कलेक्टर कार्यालय, झाबुआ के सभाकक्ष में मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग में झाबुआ जिले के पहले से लंबित एवं मौके पर प्राप्त नये प्रकरणों की सुनवाई करेंगे। आपद्वय इसी दिन दोपहर 1ः30 बजे झाबुआ से प्रस्थान कर शाम 5ः30 बजे केवड़िया (गुजरात) पहुंचेंगे एवं रात्रि विश्राम वहीं करेंगे। आपद्वय शुक्रवार (29 अप्रैल) को दोपहर 2.30 बजे केवड़िया (गुजरात) से प्रस्थान कर रात्रि 8 बजे धार पहुंचेंगे एवं रात्रि विश्राम यहीं करेंगे। केवड़िया से धार वापसी के दौरान आपद्वय वन स्टॉप सेंटर (सखी केन्द्र) अलीराजपुर का निरीक्षण भी करेंगे। आपद्वय शनिवार (30 अप्रैल) को सुबह 8 बजे धार से प्रस्थान कर दोपहर 2 बजे भोपाल पहुंचेंगे।


मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना की समीक्षा बैठक, प्रतिमाह रोजगार मेलों का भी आयोजन होगा- कलेक्टर


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा आज टी.एल. की बैठक की अध्यक्षता करते हुए आज मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना की भी समीक्षा की इस योजना का मुख्य उद्देश्य शिक्षित युवाओं को स्वयं का उद्ययम/ स्वरोजगार स्थापित करने के लिए बैंकों के माध्यम से कॉलेटरल फ्री ऋण उपलब्ध कराने तथा ब्याज अनुदान सहायता के माध्यम से युवाओं को कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराकर परियोजना की व्यवहार्यता बढ़ाना है। इस योजना के लिए पात्र आवेदक मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी हो, आयु सीमा 18 से 40 वर्ष हो, शैक्षणिक योग्यता न्यूनतम 12वीं पास हो, आय सीमा परिवार की वार्षिक आय रूपए 12 लाख से अधिक ना हो, परिवार से आश्य आवेदक के अविवाहित होने पर आवेदक स्वयं एवं उसके माता-पिता से है जिन पर वह आश्रित है अथवा आवेदक के अविवाहित होने पर पति/पत्नी एवं आश्रित बच्चों (आश्रित एवं अविवाहित बच्चों की उम्र का कोई बंधन नहीं) से है। यदि आवेदक का परिवार यदि आयकर दाता है तो वह उनकी पिछले 3 वर्षों की आयकर विवरणियां इनकम टैक्स रिटर्न आवेदन के साथ संलग्न करेगा। किसी बैंक अथवा वित्तीय संस्था जैसे एम एफ आई, एनबीएफसी, एसएफबी, पीएसीएस आदी का स्वयं डिफाल्टर न हो, वर्तमान में राज्य व केंद्र सरकार की स्वरोजगार योजना का हितग्राही ना हो। योजना का क्रियान्वयन मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का क्रियान्वयन पूर्णता ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किया जाएगा। आवेदक द्वारा पोर्टल के माध्यम से संबंधित बैंक शाखा में ऑनलाइन आवेदन प्रेषित किया जाएगा। बैंक शाखा द्वारा अधिकतम 6 सप्ताह में आवेदन पर निर्णय लिया जाएगा। प्रकरण स्वीकृत किए जाने की दशा में बैंक शाखा द्वारा एक माह के भीतर वितरण किया जाकर पोर्टल पर प्रविष्टि की जाएगी। मुख्य विशेषताएं ट्रेडिंग को भी ऋण सुविधा, योजना अंतर्गत कमर्शियल वाहनों के लिए ऋण उपलब्ध। सेवा एवं खुदरा व्यवसाय के लिए 1 लाख से 25 लाख तक की सहायता। निर्माण इकाई के लिए 1 लाख से 50 लाख तक की सहायता बैंक लोन के लिए कोई कॉलेटरल सिक्योरिटी नहीं बैंक द्वारा वितरण लोन पर 3 प्रतिवर्ष की दर से 7 वर्ष तक ब्याज अनुदान। महाप्रबंधक उद्योग श्री विरेन्द्र सिंह इस्किया द्वारा बैठक में पीपीटी के माध्यम से योजना के बारे में विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की। सभी जिला अधिकारी उपस्थित थे।


झाबुआ के बहादुर सागर तालाब को स्वच्छ और सुंदर बनाने का संकल्प

               

झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा झाबुआ नगर पालिका क्षेत्र में पिछले 4 दिन में जो अतिक्रमण बहादुर सागर तालाब एवं श्री राम शरणम के सामने के क्षेत्र से हटाया गया है और अब जो स्थिति निर्मित हुई है , उसका अवलोकन एवं व्यवस्था का जायजा लेने  पहुंचे । यहां पर जो अतिक्रमण था, उसे पूरी तरह हटाया जा चुका है।   इस अतिक्रमण हटाओ अभियान के पूर्व बहादुर सागर तालाब को जन सहयोग से साफ-सफाई स्वच्छ किया गया था। यह मुहिम अभी भी जारी है। अब यहां का अतिक्रमण पुरी तरह से हटाया गया है। नई सोच नये संकल्प के साथ इस क्षेत्र को सुंदर और स्वच्छ बनाने की लिए नई पहल किस तरह से की जाए कि आमजन कुछ बेहतर अनुभव कर सकें , इस मुहिम को मूर्त रूप देने के लिए  अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एल एन गर्ग, सीएमओ श्री एलएस डोडिया, तहसीलदार श्री आशीष राठौर उपस्थित थे, जिन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई कि झाबुआ कॉलेज रोड एवं सर्कित हाउस को बहुत ही व्यवस्थित और सुंदर बनाया जाए।                  


झाबुआ के राजवाडा क्षेत्र को स्वच्छ और सुंदर बनाने का संकल्प


झाबुआ । कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा झाबुआ नगर पालिका क्षेत्र में पिछले 4 दिन में जो अतिक्रमण राजवाडा क्षेत्र से हटाया गया है और अब जो स्थिति निर्मित हुई है , उसका अवलोकन एवं व्यवस्था का जायजा लेने पहुंचे। यहां पर जो अतिक्रमण था, उसे पूरी तरह हटाया जा चुका है।   इस अतिक्रमण हटाओ अभियान के बाद अब यहां का अतिक्रमण पुरी तरह से हटाया गया है। नई सोच नये संकल्प के साथ इस क्षेत्र को सुंदर और स्वच्छ बनाने की लिए नई पहल किस तरह से की जाए कि आमजन कुछ बेहतर अनुभव कर सकें , इस मुहिम को मूर्त रूप देने के लिए यहां पर स्थानीय लोगो से रूबरू चर्चा की एवं अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एल एन गर्ग, सीएमओ श्री एलएस डोडिया, तहसीलदार श्री आशीष राठौर उपस्थित थे , जिन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई कि राजवाडा क्षेत्र को बहुत ही व्यवस्थित और सुंदर बनाया जाए।                  


झाबुआ के बस स्टेशन को स्वच्छ और सुंदर बनाने का संकल्प


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा झाबुआ नगर पालिका क्षेत्र में पिछले 4 दिन में जो अतिक्रमण बस स्टेशन क्षेत्र से हटाया गया है और अब जो स्थिति निर्मित हुई है , उसका अवलोकन एवं व्यवस्था का जायजा लेने पहुंचे। यहां पर जो अतिक्रमण था, उसे पूरी तरह हटाया जा चुका है। बस स्टेशन पर सुलभ शौचालय एवं जल व्यवस्था का भी कलेक्टर महोदय के द्वारा अवलोकन किया गया। यहां पर बसें व्यवस्थित रूप से खडी रहे। इसके अतिरिक्त दो पहिया वाहन के लिए लाईन डालकर एक व्यवस्थित रूप से पार्किंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।   नई सोच, नये संकल्प के साथ इस क्षेत्र को सुंदर और स्वच्छ बनाने की लिए नई पहल किस तरह से की जाए कि आमजन कुछ बेहतर अनुभव कर सकें , इस मुहिम को मूर्त रूप देने के लिए यहां पर स्थानीय लोगो से रूबरू चर्चा की एवं अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एल एन गर्ग, सीएमओ श्री एलएस डोडिया, तहसीलदार श्री आशीष राठौर उपस्थित थे , जिन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई कि बस स्टेशन क्षेत्र को बहुत ही व्यवस्थित और सुंदर बनाया जाए। 

कोई टिप्पणी नहीं: