बेतिया : असामाजिक तत्वों पर करें निरोधात्मक कार्रवाई हो - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 अप्रैल 2022

बेतिया : असामाजिक तत्वों पर करें निरोधात्मक कार्रवाई हो

ake-acion-on-unwaned-aciviy
बेतिया. पश्चिम चम्पारण जिले में आगामी पर्व-त्यौहार रामनवमी, गुड फ्राइडे, महावीर जयंती को शांतिपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराने के लिए आज समाहरणालय सभाकक्ष में जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार की अध्यक्षता में समीक्षात्मक बैठक सम्पन्न हुयी. इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक, बेतिया श्री उपेंद्र नाथ वर्मा, उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, अपर समाहर्ता, श्री नंदकिशोर साह, श्री अनिल राय सहित सभी एसडीएम, सभी एसडीपीओ, सभी बीडीओ, सीओ, एसएचओ आदि उपस्थित रहे. जिलाधिकारी ने कहा कि रामनवमी, गुड फ्राइडे, महावीर जयंती पर्व-त्योहारों को जिले में पूर्ण शांतिपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराना है. सभी प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी सजग एवं सतर्क रहकर अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निवर्हन करेंगे. एहतियातन सभी कार्रवाई ससमय सुनिश्चित करेंगे. उन्होंने कहा कि शांति समिति की बैठक अनिवार्य रूप से सभी जगहों पर कर ली जाय. रामनवमी आदि को लेकर निकलने वाले जुलूस वगैरह के लिए लाइसेंस जरूरी है. बगैर लाइसेंस के कहीं भी जुलूस वगैरह नहीं निकलना चाहिए. साथ ही डीजे संचालन पर पूर्णतया प्रतिबंध है. डीजे संचालकों के साथ बैठक करें तथा आवश्यकतानुसार धारा-107 सहित बाउंडडाउन की कार्रवाई की जाय. उन्होंने कहा कि संवेदनशील स्थानों पर फ्लैग मार्च करें तथा हमेशा अलर्ट रहें. रूट वेरिफिकेशन अत्यंत ही आवश्यक है, सभी प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी इसे सुनिश्चित कराएंगे.उन्होंने कहा कि साईबर सेल सोशल मीडिया पर पैनी नजर बनाकर रखेंगे ताकि किसी भी प्रकार के अफवाहों पर त्वरित कार्रवाई की जा सके. जिलाधिकारी ने कहा कि जिले के जिन धार्मिक स्थलों पर अत्यधिक भीड़ होती है, वहां पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की जाय. साथ ही भीड़ को नियंत्रित करने के लिए बैरिकेडिंग आदि की भी व्यवस्था करायी जाय. उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों पर निरोधात्मक कार्रवाई की जाय ताकि पर्व-त्योहारों पर किसी प्रकार का खलल उत्पन्न नहीं हो. कार्यपालक अभियंता, विद्युत को निर्देश दिया गया कि जुलूस वगैरह निकलने की स्थिति में अलर्ट रहें ताकि हादसों से बचा जा सके. इस के लिए रोस्टर वाइज कर्मियों की प्रतिनियुक्ति करेंगे.

कोई टिप्पणी नहीं: