मधुबनी : भाकपा-माले स्थापना की 53 वीं बर्षगांठ पर माले नगर में सम्पन्न - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 22 अप्रैल 2022

मधुबनी : भाकपा-माले स्थापना की 53 वीं बर्षगांठ पर माले नगर में सम्पन्न

  • *कामरेड लेनिन की 152 वीं जयंती एवं भाकपा-माले स्थापना की 53 वीं बर्षगांठ पर माले नगर में सम्पन्न हुआ कार्यक्रम।
  • *भाकपा-माले को फासीवाद-बिरोधी प्रतिरोध के शक्तिशाली केंद्र के रूप में स्थापित करने का लिया संकल्प।
  • *उपेन्द्र साह सहित कई लोगों ने लिया माले की सदस्यता।

cpi-ml-saiblishmen-day-celebraion-madhubani
मधुबनी,  नगर क्षेत्र के अंतर्गत माले नगर अबस्थित पार्टी के जिला कार्यालय में कामरेड लेनिन की 152वीं जयंती एवं भाकपा-माले के 53 वां बर्षगांठ पर सबसे पहले पार्टी का झंडोत्तोलन किया गया। झंडोत्तोलन के बाद मधुबनी नगर पार्टी संयोजक बिशंम्भर कामत की अध्यक्षता में हुई संकल्प दिवस को संबोधित करते हुए भाकपा-माले जिला सचिव ध्रुब नारायण कर्ण ने कहा कि आज देश सबसे ख़तरनाक दौर से गुजर रहा है। मंहगाई आसमान छू रही है और गरीबों मजदूरों और किसानों की आमदनी घट गई है। रोजगार के अवसर कम हो गये है। जिससे सत्तर फीसदी लोगों की जिंदगी बेहाल हो गई है। कारपोरेट घरानों की लूट-खसोट काफी बढ़ जाने और जनता का ध्यान जन मुद्दों से हटाने के लिए मोदी सरकार और भाजपा देश में साम्प्रदायिक बिद्धैष फैलाकर बिरोधी आवाज को दबाने के लिए फासीवादी शासन कायम कर दिया है। इसलिए हम तमाम पार्टी सदस्यों को फासीवाद के खिलाफ संघर्ष चलाने के लिए भाकपा-माले को मजबूत बनाना है। फासीवाद-बिरोधी, प्रतिरोध की ताकत के रूप में माले को बिकसीत करना है।  कार्यक्रम को हरी कामत, शंकर साह, बीरेंद्र पासवान,अरबिंद पासवान,नुसी ठाकुर, शंभू साह ने संबोधित किया। जबकि 50 से अधिक कामरेडों ने भाग लिया। अंत में उपेंद्र साह सहित कई लोगों ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण किया।

कोई टिप्पणी नहीं: