"रंग जाऊं तेरे रंग में" के 100 एपिसोड पूरे होने पर सेलिब्रेशन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 30 अप्रैल 2022

"रंग जाऊं तेरे रंग में" के 100 एपिसोड पूरे होने पर सेलिब्रेशन

rang-jaoun-ere-rang-men
दंगल टीवी के हाई टीआरपी वाले शो रंग जाऊं तेरे रंग में" ने 100 एपिसोड पूरे कर लिए हैं। इस खास अवसर पर सीरियल के सेट पर शानदार केक काटकर इस सेंचुरी का जश्न मनाया गया। ध्रुव का रोल कर रहे करम राजपाल ने कहा कि 100 एपिसोड कंप्लीट होने पर मैं बहुत खुश हूं, यह जर्नी शानदार रही है। इस शो में रिश्तों के रंग दिखाए गए हैं। धानी का किरदार कर रही मेघा रे ने इस मौके पर अपनी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि सेंचुरी वैसे भी सबको पसन्द होती है। हमारे शो ने भी सेंचुरी पूरी कर ली है, यह एक माइलस्टोन है। लगातार हाई टीआरपी के साथ सौ एपिसोड पूरे करना एक बड़ा अचीवमेंट है। हमने सोचा नहीं था कि इतने कम समय मे हम दंगल टीवी के टॉप शोज़ में शामिल होंगे। इस शो में हर एक का खून पसीना लगा है। मेरा एक पैर टूट गया था, वहीं ध्रुव की पीठ में गहरी चोट लगी थी उसके बावजूद हम सब ऐक्शन सीन करते आ रहे हैं। शो में मेरे किरदार धानी की जर्नी अलग ही रही है। शुरू में पटाखा और मुंहफट लड़की थी। उसने अपने लिए कुछ और प्लान किया था और कुछ और हो गया। यही हमारे शो की थीम भी है कि जो किस्मत में लिखा होता है वही होता है। जब आपके साथ नाइंसाफी हो रही है तो आपको अपना स्टैंड लेना भी जरूरी है, जो इस वक्त धानी कर रही है, वो बिना डरे अपने हक के लिए लड़ रही है। ध्रुव ने नए सीक्वेंस के बारे में कहा कि सृष्टि ने काला धागा बांधा है, धानी मुझे उससे बचाने वाली है। अच्छाई और बुराई के खिलाफ लड़ाई वाली बात है। धानी को भनक लग जाती है कि ध्रुव के साथ कुछ गलत हो रहा है इसलिए वह कुछ कदम उठाती है। काशीनाथ पाण्डे का रोल निभा रहे सुदेश बेरी ने कहा कि सौ एपिसोड की यह जर्नी यादगार रही है। यह कामयाबी दरअसल सबकी कोशिशों का नतीजा है। दंगल शब्द ही हिट है, चाहे फ़िल्म हो या दंगल टीवी चैनल हो, लोगों का फेवरेट है। उसके साथ जो जुड़ेगा वह भी हिट है। पूरी टीम की मेहनत और दर्शकों की दुआओं की वजह से रंग जाऊं तेरे रंग में सुपर हिट हुआ है। सृष्टि का रोल कर रही केतकी कदम ने बताया कि यह ऑडिएंस का बेपनाह प्यार है जिसकी वजह से हमारे शो ने 100 का आंकड़ा पार किया है। मेरा किरदार मुझे बहुत पसन्द है। शुरू में एक सीधी सादी लडक़ी फिर वो बदले का रूप लेती है, थोड़ा नकारात्मक पहलू आता है। हमारा शो इस बारे में है कि किस्मत भी कैसे बदल सकती है, हालात बदल सकते हैं। रिश्ते बदल सकते हैं। शुरू में सृष्टि और धानी एक दूसरे को बहुत पसंद करने वाली बहनें थीं मगर अब दोनों के बीच दरार आ गई है। हालांकि धानी के साथ ऑफ स्क्रीन मेरी बहुत अच्छी दोस्ती है, हम एक दूसरे का ख्याल रखते हैं, खाना शेयर करते हैं। नए सीक्वेंस में सृष्टि कुछ ड्रामा करती है लेकिन धानी पकड़ लेती है। उसके लिए आपको दंगल टीवी पर रात 9:30 बजे रंग जाऊं तेरे रंग में देखना होगा। पूजा पाण्डेय का रोल कर रही दीक्षा धामी ने बताया कि सौ एपिसोड का यह सफर हम सब के लिए मस्ती भरा रहा है, हमें बहुत कुछ सीखने को मिला और कई लोगों से रिश्ते भी बने। बुआ जी के रोल को जी रही मीना मीर ने बताया कि शो की पूरी टीम, तमाम साथी कलाकार, डायरेक्टर, टेक्नीशियन बहुत ही अच्छे हैं। हमारे किरदार बुआ जी को काफी सराहा जा रहा है, हम सब अपने अपने किरदार में रंग गए हैं। रूपा पाण्डेय का रोल कर रही उर्वशी उपाध्याय ने कहा कि मैं सबसे पहले तमाम दर्शकों का शुक्रिया अदा करना चाहूँगी जिन्होंने हमें पसंद किया। हमारे शो में जिंदगी के अलग अलग रंग हैं और उन रंगों को ऑडियंस ने सराहा। उनके प्यार की वजह से ही हमारा धारावाहिक नम्बर वन पोजीशन पर है। दर्शकों ने जिस तरह तमाम किरदारों को पसन्द किया, हम सब उनके आभारी हैं। मैं अपने बड़े बेटे अभिषेक पाण्डेय (उदित शुक्ला) को मिस कर रही हूं जो जेल में है। 

कोई टिप्पणी नहीं: