आज की कांग्रेस आधुनिक मुस्लिम लीग : तेजस्वी सूर्या - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 अप्रैल 2022

आज की कांग्रेस आधुनिक मुस्लिम लीग : तेजस्वी सूर्या

congress-become-muslim-leage-surya
करौली 13 अप्रैल, भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने आज की कांग्रेस को आधुनिक मुस्लिम लीग करार देते हुए कहा है कि आजादी से पहले मुस्लिम लीग हिन्दुओं को बांटने एवं अत्याचार का जो काम करती थी वह आज सोनिया गांधी, राहुल गांधी एवं अशोक गहलोत की कांग्रेस पार्टी कर रही हैं। करौली आने के दौरान सीमा पर पुलिस द्वारा हिरासत में लेकर छोड़ने के बाद करौली पहुंचे श्री सूर्या ने प्रेस कांफ्रेंस में यह बात कही। उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तुलना औरंगजेब से करते हुए कहा कि औरंगजेब से प्रताड़ित हिन्दुओं ने मथुरा-वृंदावन से मदन मोहन मंदिर से भगवान की मूर्ति लेकर करौली में आकर इसलिए स्थापित की थी कि यहां उनका मंदिर सुरक्षित रहेगा लेकिन अब औरंगजेब तो नहीं है मगर उनकी जगह श्री अशाेक गहलोत आ चुके है। हमारे पूर्वजों ने जो उम्मीद हिंदुओं के संरक्षण की लगाई थी उसे श्री गहलोत जैसे औरंगजेब तोड़ने का काम कर रहे है जो चिंताजनक बात है। उन्होंने कहा कि यह राजस्थान है अफगानिस्तान नहीं, भारत संविधान के अनुसार चलेगा और हिन्दुओं के साथ दूसरे नम्बर का नागरिक की तरह सलूक करना बंद करना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि वह पहले बिहार में जंगलराज के बारे में केवल पढ़ते एवं सुनते ही थे लेकिन राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कुशासन में जंगलराज क्या होता है, वास्तविकरुप में आज देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजस्थान में कानून व्यवस्था पूरी तरह विफल हो चुकी है और तुष्टिकरण की राजनीति के कारण गहलोत सरकार कानून व्यवस्था बनाये रखने में पूर्णत असफल हो गई है। श्री सूर्या ने कहा कि करौली में हिन्दु समाज के संगठनों के जुलुस पर मारपीट एवं पथराव हुआ और इनमें घायल हुए लोग जयपुर के एसएमएस अस्पताल में भर्ती है। उन्होंने कहा कि हिन्दुओं पर जानलेवा हमला अलग अलग जगहों पर हुए लेकिन करौली इसका ताजा उदाहरण है। उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक संगठन भाजयुमों के आवाज उठाने पर राज्य सरकार ने पूरी तरह तानाशाही दिखाते हुए लाठीचार्ज करके दबाने का काम किया। कांग्रेस सरकार पीएफआई जैसे संगठन को जुलूस निकालने की अनुमति देती है, लेकिन जब हिंदू संगठन अनुमति मांगते हैं तो धारा 144 लगाकर लोकतांत्रिक अधिकारों को छीनने का प्रयास किया जाता है। उन्होंने कहा कांग्रेस सरकार दंगा पीड़ित के ऊपर एफआईआर दर्ज करती है और जो लोग दंगा करते हैं उन्हें छोड़ देती हैं। युवा मोर्चा ऐसे में चुप नहीं बैठेगा। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे आंदोलन करे इसका पूरा नेतृत्व भाजयुमो करेगा। इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने कहा कि करौली हिंसा के बाद सात परिवार घर छोड़ चुके है। हम चाहते थे कि इस घटना का दोषी पकड़ा जाये, निर्दोष को प्रताड़ित होने से बचाये जाये एवं नुकसान की भरपाई की मांग कर रहे थे। भाजपा का प्रतिनिधिमंडल करौली आकर जायजा लिया और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर पुलिस महानिदेशक को तलब करने एवं राज्य कानून व्यवस्था कायम करने के लिए सरकार को कहने की मांग की गई, आखिर कब तक यह सहती रहेगी। डा पूनियां ने कहा कि राज्य की जनता सब देख रही है और यह तो आगाज हैं अंजाम कांग्रेस मुक्त से होगा। 

कोई टिप्पणी नहीं: