मधुबनी : डीडीसी ने बैठक कर आईसीडीएस का किया समीक्षा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 22 अप्रैल 2022

मधुबनी : डीडीसी ने बैठक कर आईसीडीएस का किया समीक्षा

  • आंगनबाड़ी केंद्रों के सुचारू संचालन को लेकर दिए कई निर्देश।। 

madhubani-ddc-inspacsion-meeing
मधुबनी,  जिलाधिकारी अमित कुमार के निर्देश के आलोक में उप विकास आयुक्त विशाल राज, (भा0 प्र0 से0) की अध्यक्षता मे समाहरणालय स्थित सभा कक्ष में  आईसीडीएस की समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गई। बैठक में उप विकास आयुक्त द्वारा एजेंडावार विभिन्न विषयों पर विस्तार से समीक्षा की गई। समीक्षा के क्रम में उन्होंने निर्देश दिया कि असंचालित आंगनबाड़ी केंद्रों के सुचारू रूप से संचालन को लेकर अविलम्ब अग्रेतर करवाई शुरू करे। गौरतलब हो कि  वर्तमान में जिले में कुल 5145 आंगनवाड़ी केंद्रों के विरुद्ध 4779 आंगनवाड़ी केंद्र पूर्ण रूप से संचालित हैं।  366 आंगनवाड़ी केंद्रों के सुचारू संचालन के लिए आगनवाड़ी सेविकाओं और सहायिकाओं की नई नियुक्तियां  की जानी है। जिसके परिप्रेक्ष्य में नियमानुसार सभी आवश्यक करवाई  को तेज करने का निर्देश उप विकास आयुक्त द्वारा दिया गया। उप विकास आयुक्त ने यह भी निर्देश दिया कि गर्मी को देखते हुए सभी संचालित आंगनवाड़ी केंद्रों पर समुचित पेयजल की सुविधा अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने सभी सीडीपीओ और प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि ऐसे आगनबाड़ी केंद्रों को चिन्हित कर सूची बना कर पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करे।  उन्होंने जिले के 62 मॉडल आंगनवाड़ी केंद्रों पर मूलभूत सुविधाओं यथा पेयजल, शौचालय, टेलीविजन, खेल सामग्रियां आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया साथ ही सीडीपीओ को निर्देश दिया कि स्थलीय निरीक्षण कर जिला मुख्यालय को प्रतिवेदीत करे। इसके अतिरिक्त टेक होम राशन,पोषण अभियान , टीकाकरण आदि की समीक्षा कर कई आवश्यक दिशा निर्देश दिए।समीक्षा के क्रम में डीपीओ शोभा सिन्हा,  ने कहा कि जिले में बढ़ रहे तापमान के मद्देनजर बढ़ती गर्मी को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर ओ आर एस का घोल उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिले के सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर प्रथम गर्भवती महिला को तीन किस्तों में पांच हजार रूपए बैंक खाते के माध्यम से दिए जाते हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी योग्य लाभार्थियों को नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र से संपर्क कर निबंधन करवाने की प्रक्रिया जारी है।  उक्त बैठक में  सारिका, सीडीपीओ, राजनगर,  पिंकी कुमारी, सीडीपीओ, अंधराठाढी,  पुष्पा कुमारी, सीडीपीओ, हरलाखी,  कुमारी रेखा, सीडीपीओ, झंझारपुर,  रूमा झा, सीडीपीओ, रहिका,  जीनत कौशल, सीडीपीओ, लखनौर,  रंजना कुमारी, सीडीपीओ जयनगर, श्री अंजनी झा, डीपीसी, पीएमएमवीवाय,  स्मित प्रतीक, डीसी, एनएनएम आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: