बिहार : शुक्रवार को मसीही समुदाय गमगीन माहौल में गुड फ्राइडे की अराधना करेंगे - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 15 अप्रैल 2022

बिहार : शुक्रवार को मसीही समुदाय गमगीन माहौल में गुड फ्राइडे की अराधना करेंगे

good-friday-bihar
पटना. प्रभु येसु के क्रूस पर चढ़ाए जाने की याद में शुक्रवार को मसीही समुदाय गमगीन माहौल में गुड फ्राइडे की अराधना करेंगे.आज की धर्मविधि की मुख्य घटना है- पवित्र क्रूस पर, येसु मसीह के दुःखभोग, व मरण की याद करना. इस कारण से, आज के दिन को, शुभ शुक्रवार कहते हैं. वास्तव में, आज, सबसे बड़ा शुभ दिन है, क्योंकि आज के दिन, येसु ने क्रूस पर, अपने प्राणों की आहुति चढ़ाकर, हमारी मुक्ति के शुभ कार्य को, संपन्न किया था. क्रूस पर चढ़ने के बाद भी प्रभु येसु कहते हैं कि हे! प्रभु उनको माफ कर देना वे नहीं जानते क्या कर रहे हैं... प्रभु  येसु  के क्रूस पर चढ़ाए जाने की याद में शुक्रवार को मसीही समुदाय गमगीन माहौल में गुड फ्राइडे मनाएंगे.  येसु   मसीह के कई चमत्कार देखकर कट्टरपंथी यहूदी ईर्ष्या करने लगे. प्रभु के कंधों पर लकड़ी के क्रूस को रखकर पहाड़ी व कटीले रास्ते पर चलाया गया. सिर पर कांटों का ताज पहनाया गया।.प्रभु के हाथों व पैरों में कीलों को ठोका गया.क्रूस पर 6 घंटे लटकाया गया। इस दौरान प्रभु यीशु ने 7 वचन दिये।


पहला-हे पिता इन्हें क्षमा कर क्योंकि ये नहीं जानते कि ये क्या कर रहे हैं?

दूसरा- मैं तुझसे सच कहता हूं कि आज ही तू मेरे साथ स्वर्गलोक में होगा।

तीसरा-हे नारी देख ये तेरा पुत्र है तब उस चेले से कहा यह तेरी माता है।

चौथा-इलोई इलोई लमा शबक्तनी? हे मेरे परमेश्वर, हे मेरे परमेश्वर, तूने मुझे क्यों छोड़ दिया?

पांचवां-मैं प्यासा हूं।

छठा-पूरा हुआ।

सातवां- हे पिता मैं अपनी आत्मा तेरे हाथों में सौंपता हूं।


क्रूस यात्रा की झांकी,लोयला से कुर्जी पल्ली तक सुबह 06ः00 बजे से. मुसीबत गायन कुर्जी पल्ली में 02ः00 बजे दोपहर से. क्रूस रास्ता दोपहर 03ः00 बजे से. पुण्य शुक्रवार की उपासना की धर्मविधि 04ः00 बजे शाम से और पवित्र क्रूस की उपासना 07ः00 से 11 बजे तक रात तक.उपासना,प्रार्थना,दान एवं परहेज का अनिवार्य है पुण्य शुक्रवार 15 अप्रैल. चुहड़ी पल्ली  में  सुबह 06ः00 बजे से क्रूस रास्ता की शुरूआत लोयला मीडिल स्कूल के प्रांगण में. सुबह 08ः30 बजे से 12ः00 तक बाइबल पाठ. दोपहर 03ः00 बजे से प्रभु के दुख भोग एवं मृत्यु का स्मरण तथा क्रूस का चुम्बन.रात 10 बजे तक पवित्र क्रूस की उपासना. पाटलिपुत्र पल्ली  में यहां के सेक्रेट हार्ट चर्च,पाटलिपुत्र में 15 अप्रैल को गुड फ्राइडे के अवसर पर 10ः45 बजे से क्रूस रास्ता होगी. दोपहर 03ः00 बजे से क्रूस रास्ता और प्रभु का दुख भोग के साथ मृत्यु की यादगारी. बेतिया पल्ली  में नैटिविटी ऑफ द ब्लेस्ड वर्जिन मेरी चर्च में सुबह 06ः00  बजे से क्रूस रास्ता चर्च कैम्पस में उसके बाद उपदेश रेलिक की चुमाई. दोपहर 03ः00 बजे से प्रभु की मृत्यु का स्मरण और क्रूस की चुमाई. रात 12 बजे तक क्रूस की उपासना.शुरू होगा. चखनी पल्ली में  यहां पर सुबह 06ः30 बजे से क्रूस रास्ता.गिरजा के अहाते में क्रूस रास्ता होगी.दोपहर 03ः00 बजे से क्रूस की उपासना की धर्म विधि एवं क्रूस चुमाई.

कोई टिप्पणी नहीं: