बिहार : गंगा घाटों को स्वच्छ बनाना है संकल्प, सभी के प्रयासों से होगा संभव : चौबे - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 2 अप्रैल 2022

बिहार : गंगा घाटों को स्वच्छ बनाना है संकल्प, सभी के प्रयासों से होगा संभव : चौबे

need-o-make-ganga-gha-clean-chaube
पटना/बक्सर, 2 अप्रैल, केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन तथा उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने अपने संसदीय क्षेत्र अंतर्गत रामरेखा गंगा घाट बक्सर में भारतीय नववर्ष के शुभारंभ के अवसर पर बक्सरवासियों, स्कूली बच्चों व सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ गंगा तटों की सफाई की। केंद्रीय राज्यमंत्री श्री चौबे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नदियों की स्वच्छता के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इसका सकारात्मक असर दिख रहा है। " सबका साथ- सबका प्रयास" इस मूलमंत्र से नदियों की सफाई अभियान को जन आंदोलन में तब्दील करना है। यमुना, झेलम सहित 13 नदियों के संरक्षण का भी संकल्प केंद्र सरकार ने लिया है। बिहार  के बक्सर सहित पटना, सुल्तानगंज, सहित अन्य नदियों के घाटों पर स्वच्छता अभियान चलाकर लोगों को जोड़ा जाएगा।  इस मौके पर केंद्रीय मंत्री श्री चौबे ने बच्चों, सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं रामरेखा घाट पर आए श्रद्धालुओं के साथ योगाभ्यास किया। उन्होंने सभी से अपील की नियमित रूप से स्वच्छता पर बल दे।  स्वस्थ रहने के लिए नियमित योग करें। गंगा में गंदगी ना फैलाएं, गंगा नदी भारत की जीवन रेखा है। इसकी शुद्धता एवं पवित्रता का ख्याल रखें। केंद्रीय राज्य मंत्री श्री चौबे ने रामरेखा घाट स्थित रामेश्वर नाथ मंदिर में पंचवटी पौधारोपण किया। पीपल, बेल, वट, आंवला व अशोक ये पांचो वृक्ष पंचवटी कहलाते हैं। पौधा लगाने व इसके संरक्षण पर उन्होंने बल दिया। श्रद्धालुओं के साथ गंगा में डुबकी भी लगाई।

कोई टिप्पणी नहीं: