करौली जा रहे सूर्या व पूनिया को पुलिस ने रोका - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 अप्रैल 2022

करौली जा रहे सूर्या व पूनिया को पुलिस ने रोका

rajasthan-police-stop-surya-and-punia
जयपुर, 13 अप्रैल, भाजपा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां के नेतृत्व में करौली जा रहे भाजपा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बुधवार को करौली-दौसा सीमा पर रोक दिया। भाजपा नेता और कार्यकर्ता करौली में अग्निकांड एवं हिंसा से पीड़ित लोगों से मिलने जा रहे थे। करौली जाने की मांग पर अडिग भाजपा पदाधिकारियों ने पुलिस द्वारा रोके जाने पर वहीं धरना देना शुरू कर दिया। पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच धक्का मुक्की हुई। भाजपा नेता नहीं माने तो पुलिस ने युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या एवं भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां व सांसद मनोज राजोरिया को हिरासत में ले लिया। करौली दौसा मार्ग सीमा पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। पुलिस के अनुसार करौली में कर्फ्यू और धारा 144 के चलते भाजपा नेताओं को वहां जाने से रोका गया है। इससे पहले सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ सूर्या के करौली बॉर्डर पर पहुंचने पर पुलिस ने बैरिकेड लगाकर उन्हें रोक दिया । करौली जाने पर अडिग सूर्या व अन्य नेता सीमा पर ही धरने पर बैठ गये। पुलिस के समझाने के बाद भी जब वह वहां से नहीं उठे तो पुलिस ने उन्हें वहां से तितर बितर कर दिया। सूर्या ने इस अवसर कहा,' करौली में क्या हुआ यह सच पूरा प्रदेश देखना चाहता हैं। हम करौली शांतिपूर्ण ढंग से जाना चाहते हैं। युवा मोर्चा शांतिपूर्वक ढंग से जाना चाहता है तो वह हमें क्यों रोक रहे हैं।' उल्लेखनीय है कि करौली में नव संवत्सर के उपलक्ष्य में दो अप्रैल को मोटरसाइकिल रैली पर मुस्लिम बहुल क्षेत्र में कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा पथराव के बाद पैदा हुए सांप्रदायिक तनाव के चलते आगजनी व हिंसा की घटनाएं हुई थीं।

कोई टिप्पणी नहीं: