लेखन क्षेत्र के वनमाली पुरस्कारों की घोषणा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 15 अप्रैल 2022

लेखन क्षेत्र के वनमाली पुरस्कारों की घोषणा

vanmali-award-announced
भोपाल, 14 अप्रैल,प्रतिष्ठित राष्ट्रीय वनमाली कथा सम्मान के विजेताओं की बृहस्पतिवार को घोषणा की गई। इस साल यह पुरस्कार एनआरआई साहित्य और विज्ञान लेखन सहित आठ श्रेणियों में दिया जाएगा। इस साहित्य पुरस्कार की स्थापना वनमाली सृजन पीठ और रवींद्रनाथ ठाकुर विश्वविद्यालय (आरएनटीयू) द्वारा एक प्रशंसित हिंदी लेखक दिवंगत जगन्नाथ प्रसाद चौबे ‘‘वनमाली’’ की स्मृति में की गई है। प्रथम वनमाली कथा शीर्ष सम्मान प्रोफेसर धनंजय वर्मा को दिया जाएगा जबकि वनमाली राष्ट्रीय कथा सम्मान दिल्ली की लेखिका गीतांजलि श्री को दिया जाएगा। दोनों पुरस्कारों में एक-एक लाख रुपये की नकद राशि, शॉल और एक प्रशस्ति पत्र दिया जाता है। आरएनटीयू के कुलाधिपति और वनमाली सृजन पीठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष चौबे ने आज संवाददाताओं को बताया कि भोपाल में 15 से 17 अप्रैल तक होने वाले तीन दिवसीय राष्ट्रीय वनमाली कथा सम्मान समारोह के दौरान पुरस्कार दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि वनमाली कथा मध्य प्रदेश सम्मान प्रसिद्ध लेखक हरि भटनागर को, वनमाली युवा कथा सम्मान बेंगलुरु के युवा लेखक चंदन पांडे को, वनमाली कथा आलोचना सम्मान दिल्ली के वैभव सिंह और वनमाली साहित्य पत्रिका सम्मान दिल्ली से प्रकाशित मासिक पत्रिका कथादेश को दिया जाएगा। चौबे ने कहा कि दो नई श्रेणियों में पहला वनमाली प्रवासी भारतीय कथा सम्मान लंदन की दिव्या माथुर को और पहला वनमाली विज्ञान कथा सम्मान दिल्ली के विज्ञान लेखक देवेंद्र मेवाड़ी को दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन पुरस्कारों में 51,000 रुपये का नकद पुरस्कार, शॉल और एक प्रशस्ति पत्र दिया जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं: