त्रिपुरा में 11 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 16 मई 2022

त्रिपुरा में 11 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली

11-minister-oath-in-tripura
अगरतला, 16 मई, त्रिपुरा में माणिक साहा की अगुवाई वाली नयी सरकार में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के नौ तथा आईपीएफटी के दो विधायकों ने सोमवार को कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली। राज्यपाल एस एन आर्य ने यहां राजभवन में भाजपा-आईपीएफटी की गठबंधन सरकार के नव नियुक्त मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी। जिन विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली है उनमें भाजपा के जिष्णु देव वर्मा, रतनलाल नाथ, प्रणजीत सिंह रॉय, मनोज कांति देब, संताना चकमा, राम प्रसाद पॉल, भगवान दास, सुशांत चौधरी, रामपाड़ा जमातिया और इंडीजिनियस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) के एनसी देब बर्मा और प्रेम कुमार रियांग शामिल हैं। शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मुख्यमंत्री माणिक साहा, केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव और प्रतिमा भौमिक तथा पूर्व मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब मौजूद रहे। सरकारी सूत्रों ने बताया कि कैबिनेट मंत्रियों के विभागों की घोषणा बाद में की जाएगी। इन 11 मंत्रियों में से भाजपा के रामपाड़ा जमातिया और आईपीएफटी के प्रेम कुमार रियांग ही ऐसे मंत्री हैं जो बिप्लब कुमार देब के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में नहीं थे। साहा नीत मंत्रिमंडल से आईपीएफटी के मेवेर कुमार जमातिया को हटाया गया है। सुशांत चौधरी ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद कहा कि नया मंत्रिमंडल ‘‘पूर्व मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के अधूरे सपनों’’ को पूरा करेगा। उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘सबकुछ सही दिशा में चल रहा है...इस दौरान केवल तीन दिन का अंतराल आया। हमें नयी ऊर्जा और उत्साह के साथ काम फिर से शुरू होने की उम्मीद है।’’ पूर्व मंत्रिमंडल में सूचना एवं सांस्कृतिक मामलों के मंत्री रहे चौधरी ने कहा कि शपथ लेने वाले लगभग सभी विधायक पहले भी मंत्री रह चुके हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मंत्रिमंडल में केवल दो नए चेहरे शामिल किए गए हैं क्योंकि उन्हें इस काम के लिए सक्षम पाया गया है।’’

कोई टिप्पणी नहीं: