बिहार : तेजस्वी बिहार का मुख्यमंत्री बनने के लिए छटपटा रहे हैं : आलोक झा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मई 2022

बिहार : तेजस्वी बिहार का मुख्यमंत्री बनने के लिए छटपटा रहे हैं : आलोक झा

bjp-bihar-attack-tejashwi-yadav
पटना : बिहार सरकार में मंत्री और भाजपा नेता आलोक झा ने बिहार विधानसभा में नेता विपक्ष तेजस्वी यादव पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने तेजस्वी यादव द्वारा सवर्णों को लुभाने के लिए चलाए जा रहे हैं हथकंडे को लेकर बड़ा हमला बोला है। दरअसल, भाजपा द्वारा आयोजित सहयोग कार्यक्रम में बिहार सरकार में कला एवं संस्कृति मंत्री और भाजपा के नेता आलोक रंजन झा ने तेजस्वी यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि तेजस्वी बिहार का मुख्यमंत्री बनने के लिए छटपटा रहे हैं। वे चाहते हैं की कैसे भी मुख्यमंत्री के गद्दी पर पहुंचे। इसलिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाने का काम कर रहे हैं। इसके आगे उन्होंने कहा कि जो तेजस्वी और उनके परिवार एक समय में कहते थे कि भूरा बाल साफ करो, अब उस भूरा बाल को माफ करो वाली स्थिति में आ गए हैं। इसके आगे उन्होंने कहा कि आज से 15 साल पहले बिहार में सवर्ण समाज के लोग इनके ही शासन से डर से अपने नाम के पीछे टाइटल तक रखना छोड़ दिए थे। इसके चलते कितनी कठिनाइयों को सहना पड़ा। आज तेजस्वी कह रहे हैं की हमको माफ कर दीजिए और कल जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सवर्ण के लिए 10% आरक्षण देने के लिए बात कर रहे थे तब सबसे प्रखर होकर सवर्ण आरक्षण का विरोध तेजस्वी यादव ही कर रहे थे। मंत्री ने कहा कि तेजस्वी कितना भी जोर लगा ले, लेकिन इसका फायदा होने वाला नहीं है। तेजस्वी को दिन-रात जाति ही दिखाई पड़ रहा है। तेजस्वी और उनके परिवार का शुरू से काम रहा है बिहार राज्य को जातियों में बांटना। लेकिन अब राज्य की जनता दोबारा उनको लौटने नहीं देगी। इधर, अपने विभागीय कामकाज को लेकरएंट्री आलोक रंजन ने कहा कि राज्य में खेल को आगे बढ़ाने के लिए काम किया जा रहा है। हाल के दिनों में खेल के क्षेत्र में स्पोर्ट्स कॉन्क्लेव का आयोजन करके देश भर के बड़े बड़े खिलाड़ी और कोच को बुलाया गया है। इसके अलावा बिहार राज्य का 2028 में खिलाड़ी ओलंपिक में प्रतिनिधित्व करें इसके लिए लक्ष्य रखा गया है और इसको आगे बढ़ाने की तैयारी शुरू कर दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: