बिहार : ड्रेनेज निर्माण करने वाली एजेंसियों के प्रतिनिधियों को तलब किया - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 29 मई 2022

बिहार : ड्रेनेज निर्माण करने वाली एजेंसियों के प्रतिनिधियों को तलब किया

dm-call-drenez-developer-muzaffarpur
मुजफ्फरपुर. स्मार्ट सिटी के तहत शहर में विभिन्न एजेंसियों द्वारा किये जा रहे ड्रेनेज/नाला निर्माण की अद्यतन स्थिति की समीक्षा जिलाधिकारी द्वारा उनके कार्यालय कक्ष में की गई.बैठक में नगर आयुक्त, नाले के निर्माण से संबंधित विभिन्न एजेंसियों के प्रतिनिधि, स्मार्ट सिटी के सीईओ,दोनों अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राम नरेश पासवान, संबंधित थानों के थाना प्रभारी एवं विद्युत विभाग के कार्यपालक अभियंता इत्यादि उपस्थित थे. शहर के विभिन्न हिस्सों में एजेंसियों के द्वारा नाला निर्माण के क्रम में नाला निर्माण के कारण उत्पन्न कठिनाइयों विशेषकर जगह-जगह जलजमाव की स्थिति तथा जाम लगने के कारण यातायात अवरुद्ध की स्थिति के बाबत जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने ड्रेनेज निर्माण करने वाली एजेंसियों के प्रतिनिधियों को तलब किया. जिलाधिकारी ने वर्तमान स्थिति हालात पर कड़ी नाराजगी प्रकट करते हुए एजेंसियों के प्रतिनिधियों को हिदायत दी कि निर्धारित समय के अंदर नाले के निर्माण की पूर्णता की दिशा में तीव्र गति से कार्य करना सुनिश्चित करें अन्यथा कार्रवाई के लिए तैयार रहें. जिलाधिकारी ने कहा कि एक जगह कार्य पूरा करने के बाद दूसरा जगह कार्य आरंभ करें.कहीं पर काम पूर्ण है कहीं पर गड्ढा कर छोड़ दिया गया है. ऐसे में आम लोगों को कठिनाइयों से दो-चार होना पड़ता है.इसे लेकर उन्होंने एजेंसी के प्रतिनिधियों को कड़ी फटकार लगाई.नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि उक्त कार्यों का सतत अनुश्रवण करना सुनिश्चित करें. कंपनी बाग वाले इलाके में नाले निर्माण को लेकर निर्देश दिया गया कि 25 तारीख तक अधूरे कार्यों को पूर्ण करना सुनिश्चित करें. यदि ऐसा नहीं होता है तो एजेंसी पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी साथ ही उन्हें ब्लैक लिस्ट के लिए लिखा जाएगा.वहीं मोती झील एवं उसके आसपास नाला निर्माण करने वाली एजेंसी को भी चेताया एवं निर्देश दिया कि 27 मई तक हर हाल में अधूरे कार्यों को करना सुनिश्चित किया जाए. इस तरह से कलमबाग चौक, तिलक मैदान ,स्टेशन रोड ,इमली चट्टी इत्यादि इन जगहों पर जहां कार्य अधूरे हैं उसे शीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया गया.जिलाधिकारी ने कहा कि आवश्यक संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ-साथ मैन पावर को बढ़ावे ताकि कार्य तेजी से हो सके. साथ ही कार्य की गुणवत्ता को हर हाल में मेंटेन करना सुनिश्चित करें.जिलाधिकारी ने स्पष्ट कहा कि वर्तमान स्थिति का कारण  योजनाबद्ध तरीके से कार्य नहीं करना है.ऐसी स्थिति में किसी भी तरह की यदि क्षति होती है तो इसके लिए संबंधित एजेंसियों पर जिम्मेदारी तय की जाएगी. नगर आयुक्त ने बताया कि स्मार्ट सिटी के अलावे शहर के बाहरी हिस्सों में  आरसीडी एवं बुडको के द्वारा भी नाला निर्माण का कार्य किया जा रहा है.जिलाधिकारी ने कहा कि शीघ्र ही आरसीडी एवं बुडको के साथ बैठक की जाएगी.स्मार्ट सिटी के सीईओ को निर्देशित किया गया कि शहर में विभिन्न एजेंसियों द्वारा किये जा रहे ड्रेनेज  निर्माण के कार्य का सतत अनुश्रवण करें.

कोई टिप्पणी नहीं: