सीतामढ़ी : अपने खेतों में उपजे सब्जियों को मुफ्त में विद्यालय परिवार को देते हैं - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 मई 2022

सीतामढ़ी : अपने खेतों में उपजे सब्जियों को मुफ्त में विद्यालय परिवार को देते हैं

  • इस  विद्यालय को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित किया गया है. यहां के लोग अपने खेतों में उपजे सब्जियों को मुफ्त में विद्यालय परिवार को देते हैं...

free-vegiable-o-school-bihar
सोनबरसा. सीतामढ़ी जिले के सोनबरसा प्रखंड क्षेत्र के इंदरवा पंचायत स्थित नरकटिया गांव में रात्रि चैपाल कार्यक्रम के तहत निति आयोग के जिला प्रभारी पदाधिकारी डॉ एन विजया लक्ष्मी आईएस ने जिले के आला अधिकारियों के साथ समुदायिक उप स्वास्थ्य केन्द्र  का निरीक्षण किया एवं उच्च माध्यमिक विद्यालय इंदरवा पहुँचकर रात्रि  चौपाल  में भाग लिया. जिले के सोनबरसा प्रखंड क्षेत्र के इंदरवा पंचायत स्थित नरकटिया गांव में रात्रि चौपाल कार्यक्रम में डॉ एन विजया लक्ष्मी (आईएस) संयुक्त सचिव कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार-सह- केन्द्रीय प्रभारी पदाधिकारी आंकक्षी जिला कार्यक्रम, सीतामढ़ी. ने जिले के आला अधिकारियों के साथ सामुदायिक उप स्वास्थ्य केन्द्र नरकटिया पहुँचकर उप स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण किया एवं वहाँ उपस्थित चिकित्सक, एनएम, व कर्मचारियों को उप स्वास्थ्य केन्द्र को सुचारू ढंग से चलाने  आवश्यक दिशा-निर्देश दिये. उप स्वास्थ्य केन्द्र निरीक्षण के उपरांत व उच्च माध्यमिक विद्यालय इन्दरवा पहुँचकर रात्रि चौपाल में भाग लिये जहाँ कार्यक्रम का शुभारंभ विद्यालय की छात्राओं  द्वारा स्वागत गान से किया गया.  कार्यक्रम के शुभारंभ होने पर नीति आयोग की जिला प्रभारी’ ’पदाधिकारी डॉ एन विजया लक्ष्मी  ने बताया कि  मैं दिल्ली से चलकर नेपाल सीमा स्थित इंदरवा पंचायत और विद्यालय को देखने आई हूँ. सभी लोग शिक्षित हो, सभी लोग स्वस्थ हो,सभी लोग सुखी हो, यही लोगों को कहने आई हूं. साथ ही उन्होंने चौपाल में आये लोगो से स्वास्थ्य एवं चमकी बुखार के रोकथाम की जानकारी ली.उन्होंने आम’ ’महिला, पुरुष,आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका एवं जीविका दीदी से बातकर सरकार की चल रही विभिन्न योजनाओ का फीडबैक लिया एवं मिल रही बुनियादी सुविधाएं जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, आंगनबाड़ी, कृषि, सड़क सहित अन्य सरकार के द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का लाभ आपके पास पहुंच रही या नहीं इसका भी फीडबैक लिया. साथ ही उन्होंने बाल विवाह पर रोक लगाने को लेकर रात्रि चौपाल में उपस्थित विद्यालय के छात्र-छात्राओ, शिक्षक, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका,’ ’आशा कार्यकर्ता, एवं सैकड़ों ग्रामीणों को बाल-विवाह के खिलाफ शपथ दिलाई. डॉ एन विजया लक्ष्मी ने बताया कि मेरा यहां आने का उद्देश्य नेपाल सीमा से सटे दूर दराज अवस्थित गांवों में लोगों से बात करने,यहां की बुनियादी सुविधाएं,लोगों की आकांक्षाएं, की जानकारी लेनी थी जो मुझे जानकारी दी गई हैं. इस  विद्यालय को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित किया गया है. यहां के लोग अपने खेतों में उपजे सब्जियों को मुफ्त में विद्यालय परिवार को देते हैं.समाज के लोगों व स्कूल की बीच का यह समन्वय सुनने में अच्छा लगा.अपने उद्घोषण में स्कूली छात्राओं, जीविका दीदी,आंगनबाडी’ ’सेविकाओं-सहायिकाओं व ग्रामीणों से अपनी-अपनी आकांक्षाओं को  सुनी जो की काफी अच्छा लगा. कार्यक्रम के अंत मे’ ’उक्त कार्यक्रम में उप विकास आयुक्त विनय कुमार, जिला जन संपर्क पदाधिकारी विजय कुमार पांडेय, जिला शिक्षा पदाधिकारी अवधेश कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी अनिल कुमार, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी आईसीडीएस रोचना माद्री, प्रखंड विकास पदाधिकारी ओमप्रकाश कुमार, थानाध्यक्ष सोनबरसा,विद्यालय के शिक्षक, छात्र-छात्राएं,आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, आशा कार्यकर्ता,एवं सैकड़ों ग्रामीणों ने भाग लिया.’   

कोई टिप्पणी नहीं: