मधुबनी : मंहगाई के खिलाफ 30 मई को वामदलों का संयुक्त प्रदर्शन होगा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 28 मई 2022

मधुबनी : मंहगाई के खिलाफ 30 मई को वामदलों का संयुक्त प्रदर्शन होगा

  • राशनकार्ड रद्द करने का तुगलकी फरमान वापस ले सरकार,पंचायत स्तरीय सर्वदलीय अनुश्रवण से अमीरों के नाम हटाने और छूटे हुए गरीबों का नाम जोड़ने का फैसला हो-धीरेन्द्र
  • 5 जून के पटना में आयोजित महागठबंधन के महासम्मेलन में मधुबनी ज़िला की भी भागीदारी होगी, राशन और राशन अधिकार में कटौती के खिलाफ 31मई को गांव गांव में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का पुतला दहन होगा

lef-will-proes-in-madhubani-on-30may
मधुबनी, 28 मई, 2022, भाकपा माले ज़िला कमिटी और खेग्रामस जिला कमिटी की संयुक्त बैठक आज मधुबनी के माले नगर में ध्रुव नारायण कर्ण,उत्तीम पासवान और बेचन राम की संयुक्त अध्यक्षता में हुई जिसमें खेत एवं ग्रामीण मज़दूर सभा का सदस्यता अभियान जोर शोर से चलाने का फैसला लिया गया।9 जून तक ज़िला के 50 पंचायतों में सघन सदस्यता अभियान चलाया जाएगा और उसके बाद शेष पंचायतों-प्रखंडों को लेकर योजना बनायी जाएगी। बैठक से मंहगाई के खिलाफ वामदलों की ओर से आहूत देशव्यापी कार्यक्रम के तहत वामदलों का संयुक्त प्रतिवाद मार्च मधुबनी में भी होगा।भाकपा माले इसमें सक्रियता के साथ भाग लेगी।5जून को पटना में सम्पूर्ण क्रांति दिवस के अवसर पर महागठबंन्धन का महासम्मेलन होगा जिसमें पूरे बिहार से भाकपा माले के नेता कार्यकर्ता भाग लेंगे। संयुक्त समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए भाकपा-माले राज्य कमिटी सदस्य सह जिला सचिव ध्रुब नारायण कर्ण ने कहा कि मधुबनी ज़िला में 90 हज़ार राशन कार्ड सहित पूरे राज्य में 28लाख 79 हज़ार कार्डों को निरस्त करने के सरकार के तुगलकी फरमान की भर्त्सना करते हुए कहा कि माले ने मांग की है कि पंचायत स्तर पर सर्वदलीय अनुश्रवण बैठक हो और वहां से अमीरों के नाम हटाने और गरीबों का नाम जोड़ने पर फैसला हो।बैठक से विश्वनाथ साफी की हत्या की निंदा की गई और हत्यारे को अविलम्ब गिरफ्तार करने की मांग की गई। बैठक को उत्तीम पासवान, श्याम पंडित,मदन चंद्र झा,बिशंम्भर कामत,बेचन राम, अनिल कुमार सिंह, शांति सहनी, योगेन्द्र यादव,नरेश पासवान, कामेश्वर राम, योगेन्द्र महतो, सज्जन सदाय, बीरेंद्र पासवान,अरबिंद पासवान, विपत्ति देवी सदाय ने संबोधित किया। जबकि दर्जनों कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।

कोई टिप्पणी नहीं: