सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 07 मई - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 7 मई 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 07 मई

जनजाति सुरक्षा को लेकर आयोजित की बैठक

  • - 29 मई को डिलिस्टिंग को लेकर सीहोर में निकलेगी महारैली 

sehore news
सीहोर। जिला मुख्यालय के भोपाल नाका स्थित निजी स्कूल में जनजाति सुरक्षा मंच के तत्वावधान में एक बैठक का आयोजन किया गया। इसमें 29 मई को डीलिस्टिंग महारैली को लेकर चर्चा की गई। यह रैली गीता मानस भवन से शुरू होगी। जनजाति वर्ग के उत्थान के लिए जागरूक किया गया। इस मौके पर जनजातीय वर्ग सहित कई अन्य ग्रामीण जन मौजूद रहे। जिसमें प्रमुख रूप से प्रदेश स्तर के अधिकारी योगीराज पर्तें, तिलकराज दांगी, सीहोर जिला संयोजक जय नारायण बारेला, सुनील प्रजापति, सह संयोजक बाबू सिंह ठाकुर, निर्मला बारेला, नीति राठौर, सुनील बारेला आदि बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे। बैठक में सीहोर जिले के 300 गांव में संपर्क कर डीलिस्टिंग विषय को समझाने का निर्णय हुआ व प्रत्येक ग्राम से प्रत्येक परिवार को डीलिस्टिंग महारैली में शामिल होने के लिए योजना बनाई गई। ज्ञात हो कि 29 मई सुबह 10.30 बजे टाउन हाल बस स्टैंड के पास सीहोर से सभा के बाद शहर के प्रमुख मार्गों से महारैली निकालकर डीलिस्टिंग की मांग को मनवाने के लिए हजारों की संख्या में जनजाति समाज इकट्ठा होगा।


भगवान परशुराम जयंती के पावन अवसर पर आज निकाली जाएगी भव्य शोभा यात्रा

  • 70 किलो मावे की गुलाब जामुन, दो क्विंटल बेसन की चक्की और सात क्विंटल से अधिक आटे से बनाई जाएगी पूड़ी
  • राधा-कृष्ण की झांकी के अलावा भगवान शिव और परशुराम की झांकी निकाली जाएगी

sehore news
सीहोर। सत्य के रक्षक, शस्त्र व शास्त्र के ज्ञाता, महा पराक्रमी योद्धा, भगवान विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम का जन्मोत्सव पूरी श्रद्धा एवं आस्था के साथ मनाया जा रहा है। इस तीन दिवसीय महोत्सव में शनिवार को महिला मंडल के तत्वाधान में शाम को पांच बजे कलश एवं पूजन थाली सजावट प्रतियोगिता का आयोजन किया इस मौके पर बड़ी संख्या में महिलाओं ने भजन कीर्तन के साथ प्रतियोगिता में भाग लिया। वहीं रविवार को पांच बजे भगवान परशुराम की भव्य शोभा यात्रा निकाली जाएगी। इस मौके पर महिलाओं द्वारा पिंक साड़ी धारण की जाएगी और पुरुषों के द्वारा कुर्ता-पजामा धारण किया जाएगा। चल समारोह के अध्यक्ष प्रवीण तिवारी के हवाले से जानकारी देते हुए समाज के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि ने बताया कि पिछले दो सालों से कोरोना महामारी के कारण कोई भी बड़ा कार्यक्रम नहीं हो पाया था, लेकिन अब  गाइड लाइन के शिथिल होने के बाद इतिहास में पहली बार ब्राह्मण समाज के द्वारा भव्य रूप से शोभा यात्रा निकाली जाएगी। शोभा यात्रा शाम को पांच बजे शहर के सर्व ब्राह्मण समाज के तत्वाधान में खजांची लाइन स्थित धर्मशाला से निकाली जाएगी और शाम को सात बजे से शहर के जिला उद्योग केन्द्र के सामने गार्डन में भंडारे का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि चल समारोह के लिए विशेष रूप से भजन गायक सचिन जैन, रवि नागर आदि की आकर्षटा समारोह में शामिल होगी, इसके अलावा समारोह में शामिल होने वालों के लिए 1000 से अधिक साफे, 1000 से अधिक गमछे आदि की व्यवस्था की गई है।


भंडारे में लगाया जाएगा मावे की गुलाब जामुन और बेसन की चक्की का भोग

रविवार की रात्रि में होने वाले भंडारे की तैयारियां गार्डन में चल रही है। मटर-पनीर की सब्जी के साथ सात क्विंटल आटे की पूड़ी के अलावा मावे की गुलाब जामुन और बेसन की चक्की का भोग लगाया जाएगा। भंडारे के लिए शहर सहित आस-पास के सभी विप्रजनों और क्षेत्रवासियों को आमंत्रित किया गया है। पिछले एक माह से जन-जन में आमंत्रण पत्र आदि देकर भंडारे और चल समारोह में आने की अपील भी की गई है।


भगवान शिव और परशुराम की झांकी निकाली जाएगी

शोभा यात्रा में रविवार की शाम को शहर के खजांची लाइन में बाहर से आने वाले कलाकारों को राधा-कृष्ण, भगवान शिव, भक्त हनुमान और भगवान परशुराम की झांकी सजाकर यात्रा में शामिल किया जाएगा। इसके अलावा डोरेमान आदि भी मुख्य आर्कषण का केन्द्र रहेंगे। होत्सव का आयोजन सर्व ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष बालमुकुन्द पालीवाल, महिला संठगन की अध्यक्ष नीलम शर्मा, ग्रामीण इकाई अध्यक्ष सुभाष शर्मा, कार्यकारी अध्यक्ष सुदीप व्यास, चल समारोह समिति के अध्यक्ष प्रवीण तिवारी, चल समारोह की महिला अध्यक्ष निर्मला शर्मा, युवा अध्यक्ष चल समारोह नितिन उपाध्याय और चल समारोह प्रभारी रमाकांत समाधिया, संस्था के अध्यक्ष मनोहर शर्मा आदि पदाधिकारियों ने सभी क्षेत्रवासियों से यात्रा में शामिल होने की अपील की है। 


हरे रामा हरे कृष्णा भजन की मनमोहन प्रस्तुति से भक्त भक्ति में डूबे, सिद्ध हनुमान मंदिर समिति और हिन्दु उत्सव समिति ने किया सम्मान


सीहोर। इस्कान मंदिर संस्थान के भक्तों द्वारा श्री सिद्ध हनुमान मंदिर सब्जी मण्डी में मनमोहक भजनों की प्रस्तुति दी गई। हरे रामा हरे कृष्णा भजन के माध्यम से भक्तिरस की गंगा में छावनी के अनेक भक्तों ने डुबकी लगाई। भक्त मण्डली का मंदिर समिति और हिन्दु उत्सव समिति द्वारा सम्मान किया गया।


एक सीए दूसरा इंजीनियर की पढ़ाई छोड़ धर्मकार्य में जुड़ गये

इस अवसर पर पत्रकार आनंद गॉधी ने भक्त मण्डली का परिचय कराते हुए बताया कि आज इस्कान मंदिर संस्था के श्री सात्विक दास जी व उनके साथी प्रणव जी, आदित्य जी, अरुण जी व मोहित जी ने हरे रामा हरे कृष्णा भजन की प्रस्तुति दी है। धर्म का प्रचार-प्रसार कर रहे इनमें सात्विक दास जी सीए की पढ़ाई बीच में छोडक़र धर्मानुरागी हो गये थे अभी इनकी उम्र मात्र 24 वर्ष है। इसी प्रकार आदित्य दुबे जो इंजीनियर थे और टीसीएस जैसे बड़ी कम्पनी में कार्यरत थे, उन्होने भी पिछले साल नौकरी छोड़ धर्म का मार्ग अपनाया और यहॉ सेवा कार्य में लग गये, इनकी भी उम्र 24 वर्ष है। आप लोगों की भजन प्रस्तुति को सभी ने सराहा। श्री सिद्ध हनुमान मंदिर की और से आपका सम्मान किया गया। ओम राय द्वारा मण्डली को भेंट राशि भी प्रदान की गई। हिन्दु उत्सव समिति के अध्यक्ष आशीष गुप्ता व साथियों द्वारा समिति की और इन अतिथियों को उपरना पहनाकर स्वागत किया गया तथा शहर में धर्म का प्रचार करने के लिये सराहना की गई। 


श्रमिक विधिक सेवा सप्ताह के अंतर्गत श्रमिकों हेतु आयोजित हुआ विधिक विषेष स्वास्थ्य परीक्षण षिविर 

  • अगर हमें खुद को स्वस्थ रखना है तो शरीर को परिश्रम की भी जरूरत पडती है: मुकेष कुमार दांगी सचिव

sehore news
मध्य प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार माननीय प्रधान जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष महोदय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर श्री आर.एन. चंद के मार्गदर्शन में दिनांक 01 मई 2022 से 07 मई 2022 तक श्रमिक विधिक सेवा सप्ताह के अंतिम दिन बाल बिहार ग्राउण्ड सीहोर में दिनांक 07.05.2022 को श्रमिकों हेतु विषेष स्वास्थ्य परीक्षण षिविर का आयोजन हुआ। गौरतलब है कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा नगर पालिका विभाग सीहोर, श्रम विभाग सीहोर, स्वास्थ्य विभाग, सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं पैरालीगल वालेन्टियर्स के सहयोग एवं समन्वय से दिनांक 01 मई 2022 से 07 मई 2022 तक श्रमिक विधिक सेवा सप्ताह मनाया गया। उक्त विधिक सेवा सप्ताह के अंतर्गत विभिन्न कार्यक्रम यथा विधिक जागरूकता षिविर, श्रमिकों हेतु आयुष्मान कार्ड एवं श्रमिक कार्ड/पंजीयन कराया जाना, झुग्गी झोपड़ी व बस्तियों में डोर-टू-डोर अभियान के माध्यक से श्रमिकों की समस्याओं का निराकरण कराया जाना आदि कार्य प्रमुख रूप से किये गये। विधिक सेवा सप्ताह के अंतर्गत 65 श्रमिकांे के आयुष्मान कार्ड व 35 श्रमिक कार्ड बनवाये गये।   श्रमिक विधिक सेवा सप्ताह के अंतिम दिवस में बाल बिहार ग्राउण्ड में स्वास्थ्य विभाग के सहयोग व समन्वय से विषेष स्वास्थ्य परीक्षण षिविर प्रारंभ किया गया। डाक्टर चिराग विजयवर्गीय के नेतृत्व के डाक्टर्स की टीम द्वारा उपस्थित मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाकर उन्हे दवाईयों वितरित की गई। उक्त षिविर में लगभग 150 मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। श्री मुकेष कुमार दांगी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा व्यक्त किया गया कि अगर हमें स्वस्थ्य रखना है तो शरीर को परिश्रम की भी जरूरत पडती है। साथ ही यह भी व्यक्त किया गया कि काम कोई भी छोटा नही होता है और न ही काम करने वाले छोटे होते है चाहे वह मालिक हो या नौकर सबका अलग-अलग महत्व होता है। उपस्थित श्रमिकों को समय-समय पर स्वास्थ्य का परीक्षण कराने को कहा गया। 


पंचायत एवं ग्रामीण विकास के प्रमुख सचिव ने किया मनरेगा एकीकृत पार्क का निरीक्षण, स्वसहायता समूह की महिलाओं द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की


sehore news
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव श्री उमाकांत उमराव ने ग्राम पंचायत बडनागर एवं ढाबलामाता में प्रगतिरत अमृत सरोबर का निरीक्षण किया। प्रमुख सचिव श्री उमराव ने भाऊखेड़ी पहुंचकर आजीविका एकीकृत पार्क का निरीक्षण किया। उन्होंने समूह की महिलाओं से विस्तृत चर्चा की एवं उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की। जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह ने  प्रमुख सचिव श्री उमराव को जानकारी दी कि स्व सहायता समूह की 184 महिलाओं की स्थाई आजीविका विकसित करने के लिए मनरेगा आजीविका एकीकृत पार्क में कुल 17 प्रकार की गतिविधियां संचालित की जा रही है। आजीविका पार्क में गौशाला चारागाह, सामुदायिक पोषण वाटिका, तुलसी कानन, सामुदायिक वृक्षारोपण, मछली तालाब, पोखर, निर्मल नीर, देवारण्य उपयोजना के तहत औषधि पौधों का रोपण, सीएलएफ एवं सामुदायिक स्वच्छता परिसर का निर्माण किया गया है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप बनाए गए इस मनरेगा आजीविका एकीकृत पार्क का मुख्य उद्देश्य स्थाई परिसंपत्ति के सृजन के साथ ही स्वसहायता समूह की महिलाओं की स्थाई आजीविका विकसित करना है।


लाडली लक्ष्मी उत्सव कार्यक्रम आज टाउन हॉल में


प्रदेश में दो मई से 11 मई तक आयोजित किए जा रहे लाड़ली लक्ष्मी उत्सव कार्यक्रम के तहत जिले में आज लाड़ली लक्ष्मी उत्सव स्थानीय टाउन हॉल में शाम 05 बजे से आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम में लाड़ली लक्ष्मियों को उनके अभिभावकों सहित एक रैली के रूप में स्थानीय वाद्य यंत्रों की संगीतमय प्रस्तुती के साथ लाया जाएगा। सभी को तिलक कर उनका स्वागत किया जाएगा एवं रैली के दौरान स्थानीय समूहों द्वारा लाडलियों तथा उनके अभिभावकों पर पुष्प वर्षा की जाएगी। साथ ही कार्यक्रम में उत्कृष्ट क्षेत्र में कार्य करने वाली बालिकाओं का प्रमाण पत्र भी वितरित किए जाएंगे। इस कार्यक्रम  में राज्य स्तर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी दिखाया जाएगा।


लाडली लक्ष्मी उत्सव कार्यक्रम आज होगा आयोजित

  • बाद्ययंत्रो के साथ लाड़लियो की निकाली जाएगी रैली, उत्कृष्ट क्षेत्र में कार्य करने वाली बालिकाओं को किए जाएंगे प्रमाण पत्र वितरित

प्रदेश में दो मई से 11 मई तक लाड़ली लक्ष्मी उत्सव मनाया जा रहा है। लाडली लक्ष्मी उत्सव का राज्य स्तरीय कार्यक्रम 08 मई को लाल परेड ग्राउन्ड भोपाल में आयोजित किया जाएगा। जिसका सीधा प्रसारण सभी नगरीय निकायों एवं ग्राम पंचायतो में देखा जाएगा। जिले में लाड़ली लक्ष्मी उत्सव कार्यक्रम स्थानीय टाउनहॉल में शाम 05 बजे से आयोजित किया गया है। कार्यक्रम स्थल पर लाड़ली लक्ष्मियों को उनके अभिभावकों सहित एक रैली के रूप में स्थानीय वाद्य यंत्रों की संगीतमय प्रस्तुती के साथ लाया जाएगा। सभी को तिलक कर उनका स्वागत किया जाएगा एवं रैली के दौरान स्थानीय समूहों द्वारा लाडलियों तथा उनके अभिभावकों पर पुष्प वर्षा की जाएगी। कार्यक्रम में उत्कृष्ट क्षेत्र में कार्य करने वाली बालिकाओं का प्रमाण पत्र भी वितरित किए जाएंगे। जिला, ग्राम पंचायत एवं वार्ड स्तर के कार्यक्रमों में शाम 6.30 से 07 बजे तक विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। ग्राम पंचायत एवं शहरी जोनल, वार्ड के स्थानीय कार्यक्रमों में स्थानीय व्यक्ति, महिला, जिन्होंने समाज में व्यापक बदलाव का कार्य किया हो, उनका 10 मिनट का उदबोधन रखा गया है। कार्यक्रम में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में स्थानीय परंपरा अनुसार सभी लाडली परिवारों को आंगनवाडी कार्यकर्ता एवं अन्य विभागों के मैदानी अमलों द्वारा आमंत्रित किया गया है। नगरीय निकायों एवं ग्राम पंचायतों के अलावा संबंधित ग्रामों में भी कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। ताकि लाडली लक्ष्मियों को अधिक दूरी न तय करना पडे़। स्थानीय स्तर पर कार्यक्रम के सम्मानीय अतिथि सभी लाडलियों एवं उनके अभिभावको को स्थानीय सहयोग से प्रसाद, लडडु, मिठाई, स्वल्पाहार वितरण किया जाएगा।


पीले चावल देकर किया जा रहा कार्यक्रम में आमंत्रित

लाड़ली लक्ष्मी उत्सव के तहत आयोजित कार्यक्रम के लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा घर घर जाकर लाड़ली लक्ष्मियों के अभिभावकों को पीले चावल एवं आमंत्रण पत्र देकर कार्यक्रम में आने के लिए आमंत्रित किया जा रहा है। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में रंगोलियां बनाकर भी कार्यक्रम की महत्वता को बढ़ाया जा रहा है।


बाद्या बॉर्डर यात्रा से कंचन की सीमा पर जाने की ख्वाहिश हुई पूरी


sehore news
प्रदेश सरकार की लाडली लक्ष्मी योजना के तहत लाडली लक्ष्मी उत्सव कार्यक्रम में 02 मई से 11 मई तक विभिन्न कार्यक्रमों आयोजित किए जा रहे है। एक ओर जहां बालिकाओं के सम्मान के कार्यक्रम हो रहे है, वहीं दूसरी और देश-भक्ति का जोश और जुनून जागृत करने के लिये उन्हें देश की सुरक्षा में लगे प्रहरियों की गतिविधियों को जानने के लिये शासकीय खर्च पर देश सीमा वाघा बार्डर भी भेजा गया। बालिकाओं को वाघा-हुसैनीवाला बार्डर, जलियावाला बाग, अमृतसर सहित अन्य प्रमुख स्थानों को भ्रमण कराया गया। बालिकाओं में इस यात्रा के लिए काफी उत्साह देखा गया। ऐसी ही लाडली लक्ष्मियों में से एक है नगर के रानी मोहल्ला वार्ड क्रमांक 10 में रहने वाली कंचन राठौर। जिन्हें प्रदेश सरकार की माँ तुझे प्रणाम योजना अंतर्गत बाघा बॉर्डर पर भ्रमण के लिए चयनित किया गया। लाडली लक्ष्मी कंचन ने बताया कि वे वर्तमान में कक्षा 12 वीं में पढ रही है। उन्होंने बताया कि इस तरह का मौका उन्हें पहली बार मिला था। कंचन कहती है कि मेरी ख्वाहिश थी कि एक बार देश की सीमा पर जाकर देश के रक्षकों से मुलाकात करूँ, उन्हें देखूँ और उन्हें धन्यवाद दूँ। मेरी इस ख्वाहिश को पूरा करने के लिए मैं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का धन्यवाद करती हूँ कि उन्होंने मामा बनकर हम लाड़लियों को यह अवसर प्रदान किया।


पढ़ाई के साथ साथ खेलकूद में भी अव्वल है जिले की लाडो आशा


sehore news
प्रदेश सरकार की अनूठी योजनाओं से लाडली बालिकाएं अब सभी क्षेत्रो में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर देश एवं प्रदेश का गौरव बढ़ा रही है। शासन की ऐसी ही महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक लाड़ली लक्ष्मी योजना बालिकाओं के आर्थिक सशक्तिकरण, कौशल संवर्धन तथा उन्हें आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में कारगर सिद्ध हुई है। नगर के चद्दरपुल वार्ड क्रमांक 29 में रहने वाली आशा चावरिया जिले की अन्य लाडलियों में से है जो शासन की इस योजना से लाभान्वित हुई है। आशा के माता पिता ने बताया कि बचपन से ही उसकी रूचि पढ़ाई के साथ साथ खेलकूद में थी। माता पिता ने उसकी प्रतिभा को पहचानकर उसे उसी दिशा में प्रोत्साहित किया। जिसके फलस्वरूप आशा को कराटे प्रशिक्षण के लिए मास्टर ऑफ ताओ एसोसिएशन ऑफ मास्टर आर्ट इंडिया में ऐडमिशन दिलाया गया, जिससे आशा को सही दिशा मिली। आशा ने कराटे प्रतियोगिता में येलो बेल्ट, ओरेन्ज बेल्ट, ब्ल्यू  बेल्ट एवं ग्रीन बेल्ट प्राप्त किये। आशा वर्तमान में कक्षा 10 वीं में अध्ययनरत है। आशा को कक्षा 6 में 2000 रूपए एवं कक्षा 9 वीं मे 4000 रूपए लाडली लक्ष्मी योजना अंतर्गत छात्रवृति का लाभ प्राप्त हुआ। आशा 2 से 11 मई तक आयोजित लाडली लक्ष्मी उत्सव अंतर्गत बाघा बॉर्डर पंजाब के भ्रमण पर गई थी, जिसमे आशा को स्वर्ण मंदिर अमृतसर एवं जलियाबाला बाग का भ्रमण कराया गया। आशा कराटे प्रतियोगिता के लिए 22 मई को नेपाल जा रही है एवं आगे भी अपनी प्रतिभा को बढ़ानें में प्रयासरत है। इसके साथ ही आशा की रूचि स्केचिंग में भी है। 


स्वयं को स्वस्थ रखने शारीरिक परिश्रम भी आवश्यक - सचिव श्री दांगी

श्रमिकों के लिए विधिक विशेष स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित

प्रधान जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री आरएन चंद के निर्देश पर एक से 07 मई तक आयोजित श्रमिक विधिक सेवा सप्ताह के अंतिम दिन बाल बिहार ग्राउण्ड सीहोर में श्रमिकों के लिए विशेष स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया गया। जिसमें डाक्टर्स की टीम द्वारा मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हे दवाईयों वितरित की गई। शिविर में लगभग 150 मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। विधिक सेवा सप्ताह के अंतर्गत 65 श्रमिकों के आयुष्मान कार्ड व 35 श्रमिक कार्ड बनवाये गये।    इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने कहा कि अगर हमें स्वयं को स्वस्थ रखना है तो शरीर को परिश्रम की भी जरूरत पडती है। उन्होंने कि काम कोई भी छोटा नही होता है और न ही काम करने वाले छोटे होते है चाहे वह मालिक हो या नौकर सबका अलग-अलग महत्व होता है। उन्होंने श्रमिकों को समय-समय पर स्वास्थ्य का परीक्षण कराने को कहा गया। उल्लेखनीय है कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा नगर पालिका विभाग सीहोर, श्रम विभाग सीहोर, स्वास्थ्य विभाग, सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं पैरालीगल वालेन्टियर्स के सहयोग एवं समन्वय से दिनांक 01 से 07 मई तक श्रमिक विधिक सेवा सप्ताह मनाया गया। विधिक सेवा सप्ताह के अंतर्गत विभिन्न कार्यक्रम जिसमें विधिक जागरूकता शिविर, श्रमिकों के लिए आयुष्मान कार्ड एवं श्रमिक कार्ड, पंजीयन कराया जाना, झुग्गी झोपड़ी एवं बस्तियों में डोर-टू-डोर अभियान के माध्यम से श्रमिकों की समस्याओं का निराकरण कराया जाना आदि कार्य प्रमुख रूप से किये गये।


किसानो से फसल का अधिकतम मूल्य, सही तौल एवं नगद भुगतान का लाभ लेने की अपील


कृषि उपज मंडी समिति सीहोर में कृषि उपज विक्रय करने आने वाले कृषकों से अपील की गई है कि सभी किसान भाई अपनी कृषि उपज खुले घोष विक्रय में नीलामी के द्वारा प्रतिस्पर्धात्मक मूल्य पर ही मंडी के अनुज्ञप्तिवारी व्यापारियों को मध्य प्रदेश कृषि उपज मंडी अधिनियम 1972 की धारा 37 के तहत अनुबंध निष्पादित करके ही फसल का विक्रय करें। यदि आपके द्वारा विक्रय की गई कृषि उपज का भुगतान उसी दिन व्यापारी द्वारा नहीं किया जाता है तो उसकी सूचना तत्काल मंडी प्रागंण में स्थापित शिकायत कक्ष में दर्ज कराए। ताकि उसी दिन कृषि उपज का भुगतान कराया जा सके।


नेट पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन 20 तक


उच्च शिक्षा विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर, लायब्रेरियन, स्पोर्ट्स ऑफिसर आदि के रूप में कॅरियर बनाने और अनुसंधान हेतु जूनियर रिसर्च फैलोशिप प्राप्त करने के लिए यूजीसी की नेट एग्जाम उत्तीर्ण करना आवश्यक है। दिसम्बर 2021 एवं जून 2022 के दोनों चक्रों की एनटीए-नेट एग्जाम एक साथ मर्ज कर दी गई है। इसमें सम्मिलित होने के लिए 20 मई ऑनलाइन आवेदन किये जा सकते हैं। अंतिम तिथि की प्रतीक्षा किये बिना शीघ्र ही आवेदन कर दें। अभी परीक्षा की तिथि नहीं घोषित की गई है। इस परीक्षा में कुल दो प्रश्न पत्र होते हैं। पहला प्रश्न पत्र शिक्षण और अनुसंधान अभिवृत्ति का होता है। द्वितीय प्रश्न पत्र ऐच्छिक विषय का होता है।


एक ही परिवार को हितग्राही मूलक लाभ देने की सीमा


पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की विभिन्न हितग्राहीमूलक योजनाओं में अधिक राशि का लाभ, परिवारों को दिया जाता है जिनमें कपिलधारा, नंदन फलोद्यान, मेरा खेत मेरी माटी जैसी उपयोजनाएं सम्मिलित हैं। साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना, डीडीयूजीकेवाय, मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना जैसी योजनाओं में भी सीमित संख्या में परिवारों को व्यक्तिगत लाभ देने का प्रावधान है। इन योजनाओं में सभी पात्र परिवारों को एक साथ लाभ देना संभव नहीं है, वहां यह ध्यान रखना आवश्यक है कि उपलब्ध संसाधन से अधिक से अधिक परिवार लाभान्वित हो सकें। इसलिए जब तक कि ग्राम पंचायत में सभी पात्र परिवारों को समान लाभ नहीं मिल जाता, एक परिवार को दिये जा रहे लाभ की राशि को सभी हितग्राहीमूलक योजनाएं मिलाकर 03 लाख रूपये तक सीमित करने के निर्देश दिए गए है। हितग्राहियों के चयन एवं प्राथमिकता निर्धारण में यह ध्यान दें कि ऐसी योजनाओं में एक ही परिवार को एक ही वित्तीय वर्ष में एक से अधिक योजनाओं के लाभ देने से पूर्व परीक्षण कर किया जाए कि ग्राम में उनसे अधिक पात्र हितग्राही तो उपलब्ध नहीं है। प्रयास यह होना चाहिए कि अधिक पात्र परिवार लाभान्वित हो सके तथा योजनाओं के अंतर्गत लाभ अधिक विस्तारित हों।


योजनाएं जिनमें यह लागू होगा

हितग्राहीमूलक योजनाओं में एक ही परिवार को लाभ देने की सीमा महात्मा गांधी नरेगा-व्यक्तिगत योजनाएं, आवास योजनाएं - मुख्यमंत्री आवास योजना एवं प्रधानमंत्री आवास योजना, मध्यप्रदेश राज्य आजीविका मिशन - आर्थिक कल्याण योजना स्वरोजगार योजना एवं आजीविका मिशन की अन्य योजनाएं स्वच्छ भारत मिशन शौचालय निर्माण आदि योजनाओं पर लागू की जाएगी।


कृषि विकास विभाग द्वारा किसानों को जैविक खेती अपनाने की सलाह


किसान-कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने कहा हैं कि जैविक और प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के लिए सरकार सभी संभव उपाय करेगी। कृषि विभाग ने कहा हैं कि मध्यप्रदेश की खेती- किसानी में बढ़ते पेस्टिसाइड और रासायनिक खाद के उपयोग को रोकने के जैविक खाद निर्माण की प्रक्रिया को बढ़ाया जाएगा। इसके लिए सरकार पशुपालन विभाग के साथ मिलकर एक नए मॉडल को विकसित कर लागू करेगी। कृषि विभाग ने कहा कि गौशालाओं में निजी भागीदारी भी सुनिश्चित करने के प्रयास करेंगे, जिससे जैविक खाद निर्माण में और अधिक बेहतर परिणाम प्राप्त हो सके। पशुपालन विभाग के साथ  कृषि विभाग के वैज्ञानिक अनुसंधान कर प्रदेश की गौशालाओं को आत्म-निर्भर बनाएंगे। निजी सहभागिता से चलने वाली गौशालाओं की सतत निगरानी की जाएगी, जिससे गौशालाओं का व्यवस्थित संचालन हो। गोबर और गोमूत्र का उपयोग हो और किसानों को गुणवत्तापूर्ण खाद मिल सके। 


किसान प्राकृतिक खेती को अपनाएं - मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री ‍शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि गाँव को साफ रखना है तो ग्रामवासियों को हाथ बढ़ाना होगा। सरकार यह कार्य अकेले नहीं कर सकती। किसान भाई नरवाई नहीं जलाए। नरवाई के साथ बहुत से जीव-जंतु नष्ट होते हैं। मिट्टी की उत्पादन क्षमता भी कम होती है। उन्होंने प्राकृतिक खेती को अपनाने के लिए किसानों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि फर्टिलाइजर खेती जमीन को 50 सालों में बंजर कर देगी। जहरीली खेती से बचने के लिए किसान प्राकृतिक खेती अपनाएँ। प्राकृतिक खेती में पानी भी कम लगता है। इसमें फर्टिलाइजर खाद की आवश्यकता नहीं होती है। किसान भाई शुरूआत में प्रयोग के तौर एक एकड़ या आधा एकड़ में प्राकृतिक खेती शुरू कर सकते हैं। इसके बाद लाभ मिलने पर खेती का रकबा बढ़ाया जा सकता है।


खाद्य तेल एवं तिलहन व्यापारियो को निर्धारित मात्रा में स्टॉक करने के आदेश


खाद्य तेल एवं तिलहन की उचित मूल्य पर उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा मध्यप्रदेश खाद्य तेल एवं तिलहन व्यापारी (नियंत्रण) आदेश जारी किया गया है। जारी आदेशानुसार कोई भी व्यापारी या उसका अभिकर्ता, सेवक तथा उसकी ओर से कार्य करने वाला कोई अन्य व्यक्ति खाद्य तेल, तिलहन के संबंध में निर्धारित की गई अधिकतम स्टॉक सीमा से अधिक स्टॉक का संग्रहण नहीं करेगा। व्यापारी के लिए एक साथ सभी खाद्य तेल की स्टॉक सीमा में खाद्य तेल फुटकर व्यापारी के लिए 30 क्विंटल, थोक व्यापारी के लिए 500 क्विंटल एवं बड़े पैमाने पर उपभोक्ता (फुटकर व्यापारियों की दुकानों की बड़ी चैन) के लिए फुटकर दुकाने 30 क्विंटल एवं डिपो 1000 क्विंटल की मात्रा निर्धारित की गई है। इसी प्रकार खाद्य तिलहन की स्टॉक सीमा में फुटकर व्यापारी के लिए 100 क्विंटल एवं थोक व्यापारी के लिए 2000 क्विंटल निर्धारित की गई है। लेकिन भारत सरकार द्वारा नियत समयावधि तथा अधिकतम स्टॉक सीमा में संशोधन किए जाने पर अधिसूचित किए जाने के दिनांक से तदानुसार समयावधि एवं स्टॉक सीमा राज्य में प्रभावशील होगी। किसी भी व्यापारी या उसके अभिकर्ता या सेवक या उसकी ओर से कार्य करने वाला कोई अन्य व्यक्तियों को आदेश का उल्लंघन नहीं करने के आदेश दिए गए है।


संनिर्माण कर्मकार कल्याण के हितग्राहियों को कन्या विवाह योजना में हितलाभ दिया जाएगा


श्रम पदाधिकारी द्वारा बताया गया है कि मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल की विवाह सहायता योजना में हितग्राहियों की सामाजिक न्यायालय विभाग की मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत आयोजित होने वाले सामूहिक विवाह कार्यक्रमों में सम्मिलित होकर विवाह करने पर ही हितलाभ प्राप्त होगा। योजना अंतर्गत हितग्राहियों को हितलाभ मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के प्रावधान अनुसार प्रदाय किया जाएगा। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत आयोजित होने वाले सामूहिक विवाह कार्यक्रमों के अतिरिक्त अन्य किसी भी प्रकार से विवाह करने पर मण्डल की विवाह सहायता योजना अंतर्गत हितलाभ की पात्रता नहीं होगी।


जिले के सभी शासकीय सेवक का ईएसएस प्रोफाइल अपडेशन के निर्देश


शासकीय सेवकों का ईएसएस (एम्प्लॉई सेल्फ सर्विस) प्रोफाइल अपडेशन का कार्य हर हाल में एक मई तक पूर्ण करने के निर्देश सभी शासकीय कार्यालयों के आहरण एवं संवितरण अधिकारियों को दिए गए हैं। इस काम की धीमी प्रगति पर आयुक्त कोष एवं लेखा ने नाराजगी जताई है। आईएफएमआईएस सॉफ्टवेयर के अंतर्गत हर शासकीय सेवक का ईएसएस प्रोफाइल अपडेशन किया जाना है। ईएसएस प्रोफाइल अपडेशन एवं अन्य कठिनाईयों के निराकरण के लिये जिला कोषालय में एक सेल का भी गठन किया गया है। ईएसएस प्रोफाइल अपडेशन न होने से सेवानिवृत और मृत कर्मचारी के पेंशन आदि स्वत्वों के निराकरण में कठिनाई आती है और देरी भी होती है। इस वजह से सभी विभागों के अधिकारियों को हर हाल में एक मई तक यह काम पूर्ण करने के लिए ताकीद किया गया है।


वन अधिकार धारको को पचास हजार तक शार्ट टर्न लोन बिना गारंटी के उपलब्ध होगा


अनुसूचित जाति, जनजाति एवं अन्य परम्परागत वनवासी को वन अधिकारों की मान्यता अधिनियम 2006 के तहत वन अधिकार पत्रधारक प्रदाय किए गए है। ऐसे सभी वन अधिकार धारको को पचास हजार रूपए तक का शार्ट टर्म लोन बिना गारंटी के उपलब्ध कराया जाएगा। जिले के ऐसे सभी वन अधिकार धारक जिनको अब तक शार्ट टर्म लोन उपलब्ध नहीं कराया गया है। उन सबको शीघ्रतिशीघ्र नियमानुसार लोन बिना गारंटी के मुहैया कराए जाने के प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। वन अधिकारों की मान्यता के नियम अंतर्गत गठित राज्य स्तरीय निगरानी समिति की बैठक में लिए गए निर्णय अनुसार पचास हजार रूपए तक का शार्ट टर्म लोन बिना गारंटी के सुलभ उपलब्धता कराने हेतु बैंको से प्रभावी समन्वय स्थापित कर शीघ्र क्रियान्वयन कराने के निर्देश प्रसारित किए गए है। ततसंबंध में भारतीय रिजर्व बैंक के द्वारा भी दिशा निर्देश बैंकों को जारी किए गए है।

कोई टिप्पणी नहीं: