बिहार : प्राइवेट कॉलेजों में नहीं होगी BPSC की परीक्षाएं - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 13 मई 2022

बिहार : प्राइवेट कॉलेजों में नहीं होगी BPSC की परीक्षाएं

bpsc-exam-no-in-privae-college
पटना : बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं प्रारंभिक परीक्षा प्रश्नपत्र लीक होने के मामले में सबसे बड़ी जानकारी निकल कर सामने आ रही है। लोक सेवा आयोग ने भविष्य में किसी भी बीपीएससी परीक्षा का आयोजन प्राइवेट कॉलेजों में नहीं करने का फैसला लिया है। बीपीएससी परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि इसके साथ ही परीक्षा में स्वच्छ छवि वाले पदाधिकारियों को ही परीक्षा कार्य में दंडाधिकारी प्रयुक्त करने का निर्देश सभी जिला पदाधिकारियों को जारी किया गया है। इसके साथ ही 67वीं परीक्षा में जिस तरह का मामला प्रकाश में आया है। इसके बाद सभी जिलाधिकारियों को कहा गया है कि ऐसे पदाधिकारियों की सूची तैयार की जाए, जिनका रिकॉर्ड खराब है। उन्हें किसी भी सूरत में परीक्षा के दौरान दंडाधिकारी नियुक्त नहीं किया जाए। जिलाधिकारी स्वच्छ छवि वाले दंडाधिकारी का चयन करें। गौरतलब हो कि, 67 वीं बीपीएससी परीक्षा के लिए 1083 केन्द्र बनाए गए थे। इनमें 30 केन्द्र प्राइवेट कॉलेजों व स्कूलों में बनाए गए थे। वहीं, कई सरकारी कॉलेज परीक्षा कराने से मना कर देते हैं। इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण है शिक्षकों व कर्मियों की संख्या कम है। साथ ही इन परीक्षाओं में कोई रिस्क नहीं लेना चाहता है। इस कारण प्राइवेट कॉलेजों को केंद्र बनाना पड़ता है। बताया गया कि जिस परीक्षा केंद्र से पेपर लीक का संदेह व्यक्त किया जा रहा है, वह भी प्राइवेट कॉलेज है।

कोई टिप्पणी नहीं: