आईआईएमसी फिल्म फेस्टिवल का आगाज चार मई से - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 2 मई 2022

आईआईएमसी फिल्म फेस्टिवल का आगाज चार मई से

iimc-film-festival
नयी दिल्ली 02 मई, ‘आजादी के अमृत महोत्सव’ के अवसर पर भारतीय जन संचार संस्थान एवं फिल्म समारोह निदेशालय, भारत सरकार के संयुक्त तत्वावधान में चार से छह मई तक तीन-दिवसीय ‘आईआईएमसी फिल्म फेस्टिवल’ एवं ‘राष्ट्रीय लघु फिल्म निर्माण प्रतियोगिता’ का आयोजन किया जाएगा। इस समारोह में बॉलीवुड अभिनेत्री शर्मिला टैगोर और अभिनेता विवेक अग्निहोत्री सहित फिल्म जगत की कई बड़ी हस्तियां भी शिरकत करेंगी। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के नयी दिल्ली कैंपस में आयोजित होने वाले इस फेस्टिवल की थीम ‘स्पिरिट ऑफ इंडिया’ रखी गई है। राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन और जल शक्ति मंत्रालय भी इस आयोजन का हिस्सा होंगे। फिल्म फेस्टिवल के संरक्षक एवं आईआईएमसी के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने बताया कि फेस्टिवल में पद्म भूषण से सम्मानित मशहूर फिल्म अभिनेत्री शर्मिला टैगोर विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगी। प्रसिद्ध फिल्म निर्माता, निर्देशक एवं आईआईएमसी के पूर्व छात्र विवेक अग्निहोत्री आयोजन के मुख्य अतिथि होंगे। इस अवसर पर सुप्रसिद्ध अदाकारा पल्लवी जोशी भी विद्यार्थियों से रूबरू होंगी। अभिनेता-निर्माता आशीष शर्मा और अर्चना टी. शर्मा अपनी फिल्म ‘खेजरी’ के साथ आयोजन में शिरकत करेंगे। सुप्रसिद्ध वन्यजीव फिल्म निर्माता एस. नल्लामुथु की फिल्म ‘मछली’ भी महोत्सव में दिखाई जाएगी। कांस फिल्म फेस्टिवल में एंगेनीयुक्स एक्सेल लेंस प्रॉमिसिंग सिनेमैटोग्राफर अवॉर्ड अपने नाम कर चुकी सुप्रसिद्ध सिनेमैटोग्राफर मधुरा पालित भी समारोह में विद्यार्थियों से संवाद करेंगी। पालित की फिल्म ‘आतोर’ समारोह की शुरुआत में दिखाई जाएगी। बड़े पैमाने पर सराही जा रही राजीव प्रकाश की फिल्म ‘वेद’ की स्क्रीनिंग भी इस दौरान की जाएगी। महोत्सव के पहले दो दिन चार एवं पांच मई को फिल्मों की स्क्रीनिंग की जाएगी, जबकि तीसरे दिन राष्ट्रीय लघु फिल्म निर्माण प्रतियोगिता के विजेताओं का नाम घोषित किया जाएगा एवं विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा। इस तीन दिवसीय आयोजन के तहत विभिन्न तकनीकी एवं संवादपरक सत्र भी आयोजित किए जाएंगे, जहां विद्यार्थी अपने सवालों को फिल्म जगत की बड़ी हस्तियों के समक्ष रखकर उनके जवाब पा सकेंगे। फिल्म फेस्टिवल की संयोजक एवं अंग्रेजी पत्रकारिता विभाग की पाठ्यक्रम निदेशक प्रो. संगीता प्रणवेन्द्र ने बताया कि राष्ट्रीय लघु फिल्म निर्माण प्रतियोगिता हेतु देशभर से प्रविष्टियां प्राप्त हो रही हैं। प्रतियोगिता के परिणाम समारोह के अंतिम दिन यानी छह मई को घोषित किए जाएंगे। प्रो. प्रणवेंद्र ने बताया कि फिल्म महोत्सव के प्रथम दो दिनों में 15 फिल्मों की स्क्रीनिंग की जाएगी। समारोह में फिल्म प्रभाग की छह फिल्में भी दिखाई जाएंगी। फेस्टिवल के सह प्रायोजक ‘द डैप्स किचन’ हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: