सबसे निचली पायदान पर काबिज मुंबई का केकेआर पर पलड़ा भारी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 8 मई 2022

सबसे निचली पायदान पर काबिज मुंबई का केकेआर पर पलड़ा भारी

mumbai-will-take-kkr
नवी मुंबई, आठ मई, कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) को यदि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपनी धुंधली उम्मीदें जीवंत रखनी हैं तो उसे जल्द से जल्द अदद संयोजन तलाश करके सोमवार को यहां मुंबई इंडियन्स से भिड़ना होगा जो अंतिम पायदान पर होने के बावजूद बढ़े मनोबल के साथ इस मैच में उतरेगा। शीर्ष क्रम में कई संयोजन आजमाना और टीम में लगातार बदलाव करना इस सत्र में केकेआर को भारी पड़ा है। वह तालिका में शीर्ष पर काबिज लखनऊ सुपर जायंट्स से 75 रन से करारी हार झेलने के बाद इस मैच में उतरेगा। दूसरी तरफ मुंबई की टीम दूसरे नंबर की टीम गुजरात टाइटन्स पर पांच रन की जीत के कारण बढ़े मनोबल के साथ मैदान पर उतरेगी। मुंबई प्लेऑफ की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुका है। रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम के 10 मैचों में चार अंक हैं। वह अधिक से अधिक 12 अंक तक पहुंच सकती है जो प्लेऑफ में पहुंचने के लिये पर्याप्त नहीं हैं। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के 12 अंक हैं जबकि तीन अन्य टीम के 16 और 14 अंक हैं। नये कप्तान श्रेयस अय्यर की अगुवाई में केकेआर को शनिवार को लखनऊ सुपर जायंट्स से बड़ी हार झेलनी पड़ी। उसके 11 मैचों में आठ अंक है। वह बाकी बचे तीन मैच में अधिकतम 14 अंक तक पहुंच सकता है लेकिन इससे भी उसकी चौथे स्थान पर रहने की गारंटी नहीं दी जा सकती। विपरीत परिस्थितियों के बावजूद दोनों टीम यहां डीवाई पाटिल स्टेडियम में एक दूसरे को कड़ी चुनौती देने की कोशिश करेंगी। दोनों टीम की निगाह अब अपने अभियान का सकारात्मक अंत करने पर टिकी रहेगी। इन दोनों टीम के बीच अब तक खेले गये मैचों में मुंबई ने 22 और केकेआर ने आठ मैच जीते हैं। मुंबई अपने इस रिकॉर्ड को अधिक बेहतर करने का प्रयास करेगा। मुंबई के लिये अच्छी बात यह है कि उसके दोनों सलामी बल्लेबाजों कप्तान रोहित और ईशान किशन ने टाइटन्स के खिलाफ टीम को अच्छी शुरुआत दिलायी। केकेआर के खिलाफ वे अपनी अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलने की कोशिश करेंगे। रोहित भी मुंबई की तरफ से आईपीएल में 5000 रन पूरे करने से 88 रन दूर हैं और वह सोमवार को इस मुकाम तक पहुंच सकते हैं। मुंबई के बल्लेबाज रोहित, किशन और सूर्यकुमार यादव जहां पावरप्ले का अच्छी तरह से उपयोग करने में माहिर हैं वहीं केकेआर पहले छह ओवरों में रन बनाने के लिये जूझ रहा है जिसे उसके मुख्य कोच ब्रैंडन मैकुलम हार का कारण मानते हैं। मैकुलम ने कहा, ‘‘हम पावरप्ले में संघर्ष करते रहे हैं जो इस पूरे सत्र में हमारे लिये निराशाजनक रहा। पूरे टूर्नामेंट में बीच के ओवरों में हमारा प्रदर्शन अच्छा रहा तथा डेथ ओवरों में भी हमने बुरा खेल नहीं दिखाया।’’

कोई टिप्पणी नहीं: