प्रधानमंत्री मोदी ने डेनमार्क में स्वीडन की प्रधानमंत्री से मुलाकात की - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मई 2022

प्रधानमंत्री मोदी ने डेनमार्क में स्वीडन की प्रधानमंत्री से मुलाकात की

pm-modi-mee-sweden-pm
कोपेनहेगन, चार मई, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को यहां स्वीडन की प्रधानमंत्री मैग्डेलेना एंडरसन से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों को प्रगाढ़ बनाने के तरीकों और संयुक्त कार्य योजना में प्रगति पर चर्चा की। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘‘स्वीडन के साथ संबंधों को और प्रगाढ़ करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और स्वीडन की प्रधानमंत्री मैग्डेलेना एंडरसन ने भारत-स्वीडन दोस्ती में और अधिक विविधता लाने पर व्यापक बातचीत की।’’ तीन यूरोपीय देशों की यात्रा के दूसरे चरण में बर्लिन से मंगलवार को यहां पहुंचे मोदी ने डेनमार्क की राजधानी में दूसरे भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन से इतर एंडरसन से मुलाकात की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट किया, ‘‘नवाचार, प्रौद्योगिकी और निवेश पर स्थापित एक साझेदारी। प्रधानमंत्री मोदी ने स्वीडिश प्रधानमंत्री मैग्डेलेना एंडरसन के साथ द्विपक्षीय वार्ता की। संयुक्त कार्य योजना की प्रगति की समीक्षा की।’’ प्रधानमंत्री मोदी की 2018 की स्वीडन यात्रा के दौरान, दोनों पक्षों ने एक व्यापक संयुक्त कार्य योजना को अपनाया था। बाद में, मोदी डेनमार्क, आइसलैंड, फिनलैंड, स्वीडन और नॉर्वे के प्रधानमंत्रियों के साथ दूसरे भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे, जहां वे 2018 में पहले भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन के बाद से हुए सहयोग की समीक्षा करेंगे। मोदी ने आज के अपने कार्यक्रमों के शुरू होने से पहले ट्वीट किया, 'आज के एजेंडे में भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन और नॉर्डिक नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता शामिल है जिसके बाद मैं फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के साथ बातचीत करने के लिए पेरिस रवाना हो जाऊंगा।' मंगलवार को मीडिया को जानकारी देते हुए, विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने कहा था कि भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन द्विपक्षीय सहयोग के तत्वों पर केंद्रित है जिनमें व्यापार और निवेश संबंध, डिजिटल और नवाचार साझेदारी, हरित साझेदारी और आर्थिक सहयोग के अन्य क्षेत्र शामिल हैं। मोदी ने पहले कहा था, "नॉर्डिक देश भारत के लिए स्थिरता, नवीकरणीय ऊर्जा, डिजिटलीकरण और नवाचार में महत्वपूर्ण भागीदार हैं। यह यात्रा नॉर्डिक क्षेत्र के साथ हमारे बहुआयामी सहयोग को बढ़ाने में मदद करेगी।"

कोई टिप्पणी नहीं: