द. कोरिया के नए राष्ट्रपति ने उ. कोरिया से परमाणु निरस्त्रीकरण की अपील की - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 10 मई 2022

द. कोरिया के नए राष्ट्रपति ने उ. कोरिया से परमाणु निरस्त्रीकरण की अपील की

south-korea-new-president-appeal
सियोल, 10 मई, दक्षिण कोरिया के नए राष्ट्रपति यून सुक येओल ने मंगलवार को उत्तर कोरिया से परमाणु निरस्त्रीकरण की अपील की। उन्होंने कहा कि अगर उत्तर कोरिया परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए तैयार हो जाता है तो वह उसकी अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए एक ‘‘मजबूत योजना’’ पेश करेंगे। दक्षिण कोरिया के रुढ़िवादी नेता यून ने मंगलवार को देश के नए राष्ट्रपति के रूप में कार्यभार संभाला। उन्होंने सियोल में अपने शपथ ग्रहण समारोह में कहा कि उत्तर कोरिया के परमाणु खतरों से निपटने के लिए बातचीत के दरवाजे खुले रहेंगे। यून के मुताबिक, उनकी सरकार ‘‘एक मजबूत योजना’’ पेश करने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ काम करने को तैयार रहेगी, ताकि उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था को उल्लेखनीय रूप से मजबूती मिल सके और उसके नागरिकों की आजीविका में सुधार आ सके। उत्तर कोरिया के खिलाफ हमेशा कड़ा रुख दिखाने वाले यून अपने संबोधन में उसकी परमाणु परीक्षण संबंधी तैयारियों को लेकर उत्पन्न चिंताओं के खिलाफ कुछ भी कड़ा संदेश देने से बचते दिखे। वहीं, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि उत्तर कोरिया यून की पेशकश को स्वीकार करेगा या नहीं, क्योंकि उसने इससे पहले भी परमाणु निरस्त्रीकरण संबंधी प्रस्तावों को खारिज किया है। यून ने पांच वर्षों का राष्ट्रपति कार्यकाल शुरू करने के साथ ही देश की 5.55 लाख जवानों वाली सेना की कमान भी संभाल ली है। इस मौके पर सैन्य प्रमुख ने देश के नए राष्ट्रपति को सेना की स्थिति से अवगत कराया। ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ वोन इन-चूल ने एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में यून को बताया कि अगर उत्तर कोरिया के नेता परमाणु किम जोंग उन मंजूरी देते हैं तो उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण करने के लिए तैयार है। यून ने ऐसी स्थिति में सैन्य कमांडरों को मजबूत सैन्य तैयारी बनाए रखने का आदेश देते हुए कहा कि ‘‘कोरियाई प्रायद्वीप में सुरक्षा की स्थिति बहुत गंभीर है।’’

कोई टिप्पणी नहीं: