बिहार : परशुराम जयंती में शामिल होंगे तेजस्वी यादव - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 2 मई 2022

बिहार : परशुराम जयंती में शामिल होंगे तेजस्वी यादव

tejaswi-yadav-will-join-parshuram-jayanti
पटना : बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव इन दिनों नई राजनीतिक समीकरण बनाने पर अधिक ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। तेजस्वी की पार्टी इन दिनों बदलाव की राजनीति के साथ आगे बढ़ रहे हैं। दरअसल, राजद नेता तेजस्वी यादव बिहार में नई धारा की राजनीतिक राह पर चल रहे हैं। तेजस्वी ने नया फॉर्मूला ए टू जेड का फार्मूला दिया है। अब तेजस्वी भी इसके साथ आगे मजबूती दिखाना चाहते हैं। यही वजह है कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव परशुराम जयंती समारोह में शामिल होने जा रहे हैं। राजधानी पटना में आगामी 3 मई को बापू सभागार में परशुराम जयंती का आयोजन किया जा रहा है। इसको लेकर भूमिहार ब्राह्मण एकता फाउंडेशन की तरफ से तेजस्वी यादव को आमंत्रण दिया गया है। जिसके बाद तेजस्वी भी इस कार्यक्रम में शामिल होने का मन बना चुके हैं। जानकारी हो कि, आगामी 3 मई को ईद का त्योहार भी है इस कारण तेजस्वी यादव की व्यस्तता है, ऐसे में संभव है कि तेजस्वी यादव परशुराम जयंती समारोह में थोड़ा कम वक्त दें लेकिन, वह परशुराम जयंती में शामिल होकर भूमिहार समाज को एक संदेश देना चाहते हैं। क्योंकि तेजस्वी चाहते है कि अबतक जो राजद को एमवाई समीकरण का दल बोला जाता था इसे हटा कर अब ए टू जेड की बात करती है। इसी कारण अगर तेजस्वी परशुराम जयंती समारोह में शामिल होते हैं तो आने वाले दिनों में बीजेपी और जेडीयू जैसी पार्टियों के लिए एक कड़ी चुनौती होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: