विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 04 मई - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मई 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 04 मई

हरीसिंह मूडरा से किरमची रूसल्ली मार्ग निर्माण प्रस्ताव प्रेषित


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा टीएल बैठक में दिए गए निर्देशों के अनुपालन में एल 56 (हरीसिंह मूडरा) से किरमची रूसल्ली दो किलोमीटर का नवीन सड़क निर्माण कार्य शीघ्र कराए जाने के निर्देश दिए गए थे ततसंबंध में मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण परियोजना क्रियान्वयन इकाई एक विदिशा के द्वारा प्रस्ताव तैयार कर मुख्य महाप्रबंधक भोपाल संभाग को प्रेषित किया गया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि विदिशा विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम किरमची बंधेरा रूसल्ली की राज्य मद के अंतर्गत सम्पर्कता प्रदान करने की कार्यवाही पूरी करने हेतु पत्राचार किया गया है जिसमें इस बात का भी उल्लेख किया गया है कि ग्राम किरमची बंधेरा रूसल्ली वर्तमान में अनकंटेक्ट श्रेणी में है मार्ग निर्माण की मांग को लेकर ग्राम बंधेरा रूसल्ली ग्रामवासियों द्वारा चक्का जाम किया गया है। अतः राज्य मद से निर्माण की सैद्धांतिक अनुमति की कार्यवाही हेतु मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण परियोजना क्रियान्वयन इकाई विदिशा के महाप्रबंधक श्री केसी सोनी के द्वारा कलेक्टर के निर्देश पर पहल की गई है।


राजस्व कार्या की समीक्षा आज


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में राजस्व कार्यो की समीक्षा बैठक गुरूवार पांच मई को आयोजित की गई है यह बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में पूर्वान्ह 11 बजे से शुरू होगी।


स्वास्थ्य गतिविधियों का जायजा


vidisha news
मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रताप सिंह ने बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पीपलखेड़ा मैं पहुंचकर स्वास्थ्य कार्यों की समीक्षा की उन्होंने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पदस्थ एएनएम  की  प्रथक प्रथक समीक्षा की है। सीएमएचओ डॉक्टर एपी सिंह ने बैठक में आरसीएच एवं अनमोल पोर्टल पर अपडेट जानकारी अंकित करने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं उन्होंने कहा कि गर्भवती माताओं एवं प्रसव की ऑनलाइन एंट्री कर उनको गर्व काल एवं प्रसव पश्चात तथा बच्चों को टीकाकरण एवं उनके स्वास्थ्य की देखभाल संबंधी सेवाएं प्रदान की जाती है इन सभी की ऑनलाइन एंट्री आवश्यक है इस दौरान स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र मैं और क्या सुधार संभव है पर उन्होंने विस्तृत मार्गदर्शन दिया है 


चौपाल कार्यक्रम निरस्त


लटेरी जनपद पंचायत के दूरस्थ ग्राम पंचायत कालादेव में छह मई शुक्रवार को आयोजित होने वाली रात्रि चौपाल कार्यक्रम अपरिहार्य कारणों से निरस्त किया गया है कि जानकारी देते हुए जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने बताया कि चौपाल आयोजन की आगामी तिथि पृथक से जारी कर संबंधितों को अवगत कराया जाएगा।


रोड सेफ्टी हेतु ब्लैक स्पॉट चिन्हित


आमजनों की सुरक्षा हेतु पुलिस विभाग द्वारा रोड सेफ्टी के तहत आमजनों से अपील की जा रही है कि वह सड़क हाईवे पर सफर करते समय सावधानी से वाहन चलाएं और अपनी व दूसरों की सुरक्षा कर सहयोग करें और जान माल की हानि से बचें। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव ने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा रोड सेफ्टी के अंतर्गत एक व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाया गया है जिसमें पुलिस अधिकारियों के साथ-साथ अन्य विभागों के अधिकारी विदिशा जिले के सभी थाना प्रभारियों को सम्मिलित किया गया है। ग्रुप के माध्यम से सुझाव लेकर आमजनों की सुरक्षा हेतु विभिन्न गतिविधियों का संचालन कर सड़क सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। एएसपी श्री समीर यादव ने बताया कि विदिशा जिले में सड़क दुर्घटनाओं के संबंध में ब्लैक स्पॉट चिन्हित किए गए हैं जिनमें क्रमशः वर्ष 2019, 2020 एवं 2021 की जानकारी अंकित की गई है। उन्होंने इन ब्लैक स्पॉटों पर सावधानी बरतने की अपील आमजनों से की है।


चिन्हित किए गए ब्लैक स्पोट-

एएसपी श्री समीर यादव ने बताया कि विदिशा जिले में सिविल लाइन क्षेत्र के एनएच 146 के चिन्हित ब्लैक स्पॉट ग्राम पांझ सड़क के सामने सागर रोड पर 2019 में तीन सड़क दुर्घटनाएं हुई जिनमें 4 लोगों की मृत्यु हुई थी। इसके अलावा 2020 में दो सड़क दुर्घटनाएं हुई जिनमें एक मृत्यु तथा 2021 में एक सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति की मृत्यु हुई थी। इस प्रकार इन तीन वर्षों में चिन्हित किए गए इस ब्लैक स्पॉट पर कुल 6 सड़क दुर्घटनाओं में 6 मृत्यु हुई हैं। विदिशा जिले के नटेरन क्षेत्र के एसएच 19 पर चिन्हित किए गए ब्लैक स्पॉट नया गोला पेट्रोल पंप से गुरोद सड़क पर 2020 में दो सड़क दुर्घटनाओं में एक मृत्यु तथा वर्ष 2021 में चार सड़क दुर्घटनाओं में दो मृत्यु हुई थीं। वही विदिशा जिले में देहात बासौदा के अन्य मार्ग के चीन्हित किए गए ब्लैक स्पॉट क्षेत्र बाजारी की माता बरेठ सड़क पर वर्ष 2019 में दो सड़क दुर्घटनाओं में तीन मृत्यु, वर्ष 2020 में दो सड़क दुर्घटनाओं में दो मृत्यु तथा वर्ष 2021 में तीन सड़क दुर्घटनाओं में एक मृत्यु हुई थी इस प्रकार इस क्षेत्र में कुल 7 सड़क दुर्घटनाओं में 6 लोगों की मृत्यु दर्ज की गई थी। विदिशा जिले के ग्यारसपुर के एनएच 146 पर ब्लैक स्पॉट मढिपुर में वर्ष 2019 में दो सड़क दुर्घटनाओं में एक मृत्यु, वर्ष 2020 में 3 सड़क दुर्घटनाओं मे दो मृत्यु तथा वर्ष 2021 में एक सड़क दुर्घटना में एक मृत्यु इस प्रकार इन 3 वर्षों में चिन्हित किए गए ब्लैक स्पॉट पर 6 सड़क दुर्घटनाएं घटित हुई जिनमें कुल 4 मृत्यु दर्ज की गई थी। उन्होंने बताया कि विदिशा जिले के कुरवाई के एस एच 14 पर मुख्य जिला मार्ग पर चिन्हित किए ब्लैक स्पॉट बीना पुलिया से लायरा के बीच वर्ष 2020 में चार सड़क दुर्घटनाओं में नौ मृत्यु तथा वर्ष 2021 में एक सड़क दुर्घटना घटित हुई थी। इसी प्रकार कुरवाई के एस एच 14 के मुख्य जिला मार्ग पर चिन्हित ब्लैक स्पॉट भौंरासा पेट्रोल पंप के पास वर्ष 2019 में 3 सड़क दुर्घटनाओं में तीन मृत्यु, वर्ष 2020 में एक सड़क दुर्घटना में एक मृत्यु तथा वर्ष 2021 में एक सड़क दुर्घटना में एक मृत्यु इस प्रकार इन 3 वर्षों में पांच सड़क दुर्घटनाओं में कुल 5 मृत्यु हुई थी। इसके अलावा कुरवाई के एस एच 14 के मुख्य जिला मार्ग के चिन्हित ब्लैक स्पॉट मेहलुआ चौराहा पर वर्ष 2020 में तीन सड़क दुर्घटनाओं में तीन मृत्यु तथा वर्ष 2021 में 7 सड़क दुर्घटनाओं में चार मृत्यु हुई थी। पुलिस विभाग ने चिन्हित किए गए पूर्व उल्लेखित ब्लैक स्पॉट पर सावधानी बरतने के साथ चालकों को वाहन धीमी गति से चलाए जाने की अपील आमजनों से की है।


मिशन इंद्रधनुष के तहत टीकाकरण शुरू


केन्द्र सरकार के निर्देश पर चल रहे सघन मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम 4.0 के अंतर्गत 2 वर्ष तक के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का किसी भी कारण से छूटे हुए टीकों को लगाना सुनिश्चित करना है। इसी लक्ष्य को पूरा करने की कड़ी में सघन मिशन इंद्रधनुष 4.0 का जिले में तीसरा चरण 2 मई से प्रारंभ हुआ। इस दस दिवसीय कार्यक्रम में  किसी न किसी टीके की ख़ुराक से छूटी गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा गया है। शासन के निर्देशानुसार घर-घर सर्वे करके स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ऐसे छूटे हुए बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं की सूची तैयार कर उन्हें टीकाकरण स्थल तक लाने के लिये प्रेरित किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह एवं जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डी के  शर्मा ने अभियान की महत्ता को बताया तथा अपने बच्चों को पूर्ण टीकाकरण करवाकर जानलेवा बीमारियों से सुरक्षा दिलवाने की अपील की।


नीति आयोग की कंपोजिट स्कोर रैंकिंग में विदिशा ओवरऑल आठवें रैंक पर पहुंचा,, मध्य प्रदेश के आकांक्षी जिलों में दूसरे पायदान पर


नीति आयोग आयोग द्वारा आकांक्षी जिलों में अप्रैल माह के आधार पर संपादित कार्यों की रैंकिंग जारी की गई है।  नीति आयोग के द्वारा स्वास्थ्य एंव पोषण, शिक्षा, कृषि एवं संबंध सेवाएं, वित्तीय समावेशन एवं आधारभूत संरचना के क्षेत्र में किये जाने वाले कार्य के अलग अलग 49 इंडिकेटर के आधार पर  रैंकिंग की जाती है


इस आधार पर होती है विदिशा जिले की रैंकिंग

नीति आयोग द्वारा इन जिलों की रैंकिंग के लिए स्वास्थ्य एवं पोषण को 30 प्रतिशत , शिक्षा को 30 प्रतिशत, कृषि एवं संबद्ध गतिविधियों के लिए 20 प्रतिशत, वित्तीय समावेश के लिए 10 प्रतिशत एवं आधारभूत संरचना हेतु 10 प्रतिशत वेटेज का मापदण्ड निर्धारित किया गया है।नीति आयोग के द्वारा सभी जिलों को विकास कार्य की रिपोर्टिंग के लिए एक रिपोर्टिंग फॉर्मेट दिया गया है।जिसके आधार पर जिला से प्रतिदिन रिपोर्टिंग की जाती है।इसके बाद हरेक महीने नीति आयोग से जिले के नामित नोडल अधिकारी जिले के विकास कार्य की समीक्षा करते हैं। नीति आयोग की समीक्षा के बाद जिले के प्रगति के हिसाब से रैंक तैयार होता है।


विदिशा जिले में आधारभूत संरचना एवं कौशल विकास के क्षेत्र में सुधार :- 

नीति आयोग के द्वारा आधार भूत संरचना  एवम कौशल विकास के लिए दिए गए सभी इंडिकेटर पर बढ़िया काम हुआ है। जिससे की आधारभूत संरचना के क्षेत्र में जिले की रैंकिंग 19 आई हैं और जिले को  78 प्रतिशत अंक मिले,वित्तीय समावेशन व कौशल विकास के क्षेत्र की गतिविधियों की रैंकिंग में काफी सुधार हुआ है।


गर्मी के मौसम में बिजली का बिल घटाने के तरीके


गर्मी का मौसम आते ही जैसे-जैसे पारा चढ़ता है,वैसे-वैसे आपका बिजली का बिल ना बढ़े,इसके लिए मध्यप्रदेश मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा कुछ कारगर तरीके सुझाये है।


ए.सी. इस्तेमाल करने वालों के लिए

ए.सी. के टेम्प्रेचर को 24 से 26 डिग्री के बीच सेट करें। इससे नीचे टेम्प्रेचर करने पर ए.सी. के कंप्रेशर को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। ए.सी. ज्यादा देर तक चलता है, इसलिए बिजली भी ज्यादा खर्च होती है और आपका बिल ज्यादा आता है। ए.सी. के साथ-साथ कमरे में पंखा भी चलाएं। ए.सी. के एयर फिल्टर को हर 10-15 दिनों में अच्छी तरह धोकर साफ करें फिल्टर में धूल जमने में आपको पूरी ठंडक नहीं मिलती और आपको ए.सी. ज्यादा देर तक चलाना पड़ता है। ए.सी. वाले कमरों के खिड़की-दरवाजे ए.सी.चलने के दौरान मजबूती से बंद रखें। यदि दरवाजे-खिड़कियों में झिरियां हों तो उन्हें थर्मोकोल आदि का इस्तेमाल कर सील कर दें।


कूलर इस्तेमाल करने वालों के लिए

कूलर से पूरी ठंडक पाने के लिए जरूरी है कि कूलर जितनी हवा फेंक रहा है उतनी हवा कमरे से बाहर निकलने का भी पूरा इंतजाम हो। कूलर के पैड यदि खराब हो गये हैं तो उन्हें बदलवा लें। कूलर के पंखे और पंप की आइलिंग ग्रीसिंग करा लें। कूलर के पंखे के कंडेंसर की जांच जरूर करायें। कूलर के रेगुलेटर की भी जांच करायें। इलेक्ट्रॉनिक रेगुलेटर से बिजली कम खर्च होती है।


पंखे इस्तेमाल करने वालों के लिए

घर के सब पंखों की सर्विसिंग करा लें। खराब कंडेंसर, बाल बेयरिंग इत्यादि को तुरंत बदलवा लें। पंखे में इलेक्ट्रॉनिक रेगुलेटर का इस्तेमाल करें।


 रेफ्रिजरेटर इस्तेमाल करने वालों के लिए

रेफ्रिजरेटर में कोई खराबी न भी दिखायी दे रही हो तो गर्मी का मौसम ठीक से शुरू होने के पहले रेफ्रिजरेटर की जांच करा लें। रेफ्रिजरेटर का दरवाजा बार-बार ना खोलें। रेफ्रिजरेटर का दरवाजा ज्यादा देर तक न खुला रखें। दरवाजा बार-बार खुलने या ज्यादा देर खुला रहने से कंप्रेशर को फ्रिज का टेम्प्रेचर बनाये रखने में ज्यादा मेहनत लगती है। कंप्रेशर ज्यादा चलने से आपका बिजली बिल बढ़ता है। एकदम गर्मागर्म खाना या दूध फ्रिज में न रखें। ऐसा करने से भी कंप्रेशर को ज्यादा देर चालू रहना पड़ता है और आपका बिजली बिल बढ़ता है।


सबके लिए कुछ जरूरी टिप्स

अपने घर में बिजली की वही वायर और फिटिंग्स इस्तेमाल करें जिन पर आई.एस.आई. का मार्क है। वायरिंग पुरानी, खराब होने से भी बिजली ज्यादा खर्च होती है और घर में आग लगने का खतरा हो सकता है। बिजली की मरम्मत का काम लाइसेंसधारी ठेकेदार, इलेक्ट्रिशियन से ही करायें। सर्टिफिकेट, लाइसेंस देखने की मांग करें। घर में हर जगह ऊर्जा दक्ष एलईडी लाईट का ही इस्तेमाल करें।


सस्ते लोन के चक्कर में फ्रॉड से बचने की सलाह


जिला प्रशासन ने सभी नागरिकों से आह्वान किया कि वे असामान्य रूप से रिटर्न या सस्ते लोन देने वाली गैर-वित्तीय संस्थाओं के प्रति सावधान और सचेत रहने का आग्रह किया है। आम नागरिकों से ऐसी संस्थाओं के पंजीयन के प्रति जागरूक रहने एवं उनकी प्रामाणिकता के संबंध में पहले जाँच पड़ताल करने की अपील की गयी है। तत संबंध में जानकारी प्राप्त होती है तो जिला प्रशासन के संज्ञान में जरूर लाएं।


31 मई तक खेल वृत्ति के आवेदन आमंत्रित


मध्यप्रदेश शासन खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा दिनांक 1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 के मध्य आयोजित अधिकृत राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में पदक विजेता जिले के प्रतिभावान खिलाड़ियों से वर्ष 2022 की राज्य स्तरीय खेलवृत्ति हेतु आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं। अधिकृत राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ी को 10 हजार रूपये, रजत पदक पर 8 हजार रूपये एवं कांस्य पदक पर 6 हजार रूपये खेलवृत्ति राशि प्रदान करने का प्रावधान है। वर्ष 2022 की खेलवृत्ति हेतु आवेदन दिनांक 31 मई 2022 तक स्वीकार किए जा सकेंगे। जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी अधिकारी श्री जॉन्स चाको ने बताया कि आवेदन पत्र एवं उपरोक्त के संबंध में अधिक जानकारी हेतु कार्य दिवसों में कार्यालय जिला खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी जिला खेल परिसर स्टेडियम सांची रोड विदिशा से प्राप्त कर दिनांक 31 मई 2022 तक अनिवार्य रूप से आवेदन जमा करें। दिनांक 31 मई 2022 के पश्चात प्राप्त आवेदन पर विचार नहीं किया जाएगा। खेलवृत्ति  हेतु निर्धारित दिशा निर्देश व नियमावली विभागीय वेबसाइट www.dsywmp.gov.in  पर उपलब्ध है।

कोई टिप्पणी नहीं: