कानपुर हिंसा मामले में 38 गिरफ्तार - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 6 जून 2022

कानपुर हिंसा मामले में 38 गिरफ्तार

38-arres-in-kanpur-violance
कानपुर, 06 जून, उत्तर प्रदेश में कानपुर के थाना बेकनगंज में गत 03 जून को हिंसा के मामले में पुलिस ने अभी तक 04 मुकदमे दर्ज कर लगभग 38 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। कानपुर के पुलिस आयुक्त विजय सिंह मीणा ने बताया कि शहर के बेकनगंज इलाके में गत सप्ताह शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हुयी हिंसा की वारदात में शामिल रहे नौ अन्य की गिरफ्तारी सोमवार को होनेे के साथ अब तक गिरफ्तार हुए संदिग्ध अभियुक्तों की कुल संख्या 38 हो गयी है। उन्होंने बताया कि हिंसा भड़काने की घटना में 36 लोगों पर नामजद मुकदमा दर्ज किये जाने के साथ 1000 हजार अज्ञात लोगों के खिलाफ कुल 04 एफआईआर दर्ज की गई हैं। पुलिस ने इस वारदात के मास्टर माइंड हयात जफर हाशमी सहित 29 लोगों को रविवार तक पकड़ लिया था। इन सभी को जेल भेजा जा चुका है। मीणा ने बताया कि सीसीटीवी से चिहिन्त हो रहे उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए कई टीमें लगातार दबिश दे रही हैं। इस बीच पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज से चिन्हित पत्थरबाजों के पोस्टर शहर के सार्वजनिक स्थानों पर चस्पा कर स्थानीय लोगों से इनकी पहचान कर इनकी गिरफ्तारी कराने में मदद करने की अपील की है। पुलिस ने इलाके के उस पेट्रोल पंप का भी छह दिन के लिये लाइसेंस निलंबित कर दिया है जिससे हिंसा की वारदात से पहले उपद्रवियों को बोतल में पेट्रोल देने की बात सामने आयी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कानपुर हिंसा मामले में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर डिप्टी पड़ाव पेट्रोल पंप को हिंसा में प्रयुक्त पेट्रोल बम के इस्तेमाल के लिये उपद्रवियों को बोतल में पेट्रोल देने के लिये चिन्हित किया गया है। उन्होंने बताया कि कानपुर हिंसा मामले की निष्पक्ष जांच के लिए पुलिस की 04 एसआईटी टीमें गठित हुई हैं। चारों टीमों को वारदात के अलग अलग पहलुओं की जांच करने को कहा गया है। इस बीच पुलिस प्रशासन ने घटना वाले क्षेत्र के सीसीटीवी फुटेज और सोशल मीडिया पर साझा की गयी जानकारियों को खंगाल कर दंगाइयों की पहचान करके सार्वजनिक स्थलों पर उनके पोस्टर भी चस्पा कराये दिये हैं। पुलिस ने स्थानीय लोगों से पोस्टरों में दर्शाये गये संदिग्धों की सूचना बेकनगंज इंस्पेक्टर के मोबाइल फोन नंबर (9454403715) पर देने की अपील की है। पुलिस ने सूचना देने वालों का नाम गुप्त रखने का ऐलान किया है। इस बीच कानपुर के संयुक्त पुलिस आयुक्त आनंद प्रकाश तिवारी और वारदात के बाद कानपुर तैनात किये गये पुलिस अधिकारी अजयपाल शर्मा, लगातार इलाके में शांति व्यवस्था कायम करने के लिए भारी पुलिस बल व आरएएफ जवानों के साथ पैदल मार्च कर रहे हैं। इसके साथ ही ड्रोन के जरिए बेकनगंज, चमनगंज, बजरिया, अनवरगंज, कर्नलगंज इलाकों में सतत निगरानी रखी जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: