मधुबनी : जिले में मनाए जा रहे है बाढ़ सुरक्षा सप्ताह - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 जून 2022

मधुबनी : जिले में मनाए जा रहे है बाढ़ सुरक्षा सप्ताह

  • सभी विद्यालयो मे वाद-विवाद,पेंटिंग,निबंध प्रतियोगिता का हुआ आयोजन।

flood-safy-week-madhubani
मधुबनी, बाढ़ पूर्व तैयारियो के आलोक में जिले में विभिन्न विभागों के द्वारा 1 जून से 7 जून तक बाढ़ सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है,इसी क्रम में जिला शिक्षा पदाधिकारी की अगुआई में जिले के विद्यालयो में पेंटिंग,वाद-विवाद ,निबंध, भाषण आदि प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। गौरतलब हो कि आपदा प्रबंधन विभाग मधुबनी के द्वारा विभिन्न विभागों के सहयोग से बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के तहत व्यापक जागरूकता कार्यक्रम चलाई जा रही है। आज शिक्षा विभाग द्वारा विद्यालयो में चलाए जा रहे कार्यक्रमों के तहत बच्चों को वज्रपात से बचने, सर्प दंश,डूबने की घटनाओं से बचाव, बाढ़ पूर्व ,बाढ़ के समय एवम बाढ़ के बाद क्या करे और क्या नही करे आदि की विस्तृत जानकारी दी गई है।बताया गया कि बिजली गिरने की संभावना होने पर जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी सुरक्षित मकान में शरण ले। बिजली चमकने पर पेड़ के नीचे से हट जाएं। तलाब नदी तट आदि जैसे जल निकाय से दूर रहें ,छत पर नहीं जाएं ।यदि आप खुले में बाहर है तो मोबाइल फोन का प्रयोग नहीं करें। सर्पदंश से बचाव एवं सर्प दंश के बाद क्या करें और क्या नहीं करें इसकी भी विस्तृत जानकारी भाषण एवं वाद विवाद प्रतियोगिता के माध्यम से दी गई। बताया गया कि सांप के रहने के स्थल कहां कहां होते हैं, बरसात के मौसम में बूट जूता द्वारा पांव को ढकना ,जमीन पर नहीं सोना, मुर्गी कबूतर खरगोश इत्यादि छोटे पालतू जानवरों को घरों से दूर रखना जरूरी है। सर्पदंश के बाद कटे हुए स्थान को साबुन से धोएं, कटे हुए स्थान को स्थिर करें और  कटे हुए अंग को  पट्टी बांधे, बर्फ या गर्म पदार्थ कटे हुए स्थान पर नही लगाएं आदि जानकारी को दी गई ।

कोई टिप्पणी नहीं: