'दमन' से डरने की जरूरत नहीं : पवार - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 5 जून 2022

'दमन' से डरने की जरूरत नहीं : पवार

don-fear-sharad-pawaar
पुणे, चार जून, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने शनिवार को कहा कि भाजपा को यह गलतफहमी है कि जांच एजेंसियों के सामने उसके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी ‘‘आत्मसमर्पण’’ कर देंगे, लेकिन इस तरह की रणनीति से डरने की जरूरत नहीं है। पूर्व केंद्रीय मंत्री पवार ने यहां सार्वजनिक साक्षात्कार के दौरान, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की केंद्र सरकार द्वारा प्रवर्तन निदेशालय जैसी केंद्रीय एजेंसियों के कथित दुरुपयोग के बारे में पूछे जाने पर यह बात कही। पवार ने कहा, 'वे जो कर रहे हैं, वह सही नहीं है। उन्हें लगता है कि राजनीतिक विरोधी आत्मसमर्पण कर देंगे। याद रखें, मुझे ईडी का नोटिस मिला था। मैंने अगली सुबह ईडी के कार्यालय जाने का फैसला किया, और उनके अधिकारी मेरे पास आए और मुझसे वहां नहीं जाने का अनुरोध किया।' उन्होंने कहा, 'अगर हम दृढ़ और सच्चे हैं, तो दमन से डरने की जरूरत नहीं है। हमें उनके खिलाफ खड़े होने की जरूरत है।' पवार ने भाजपा का नाम लिए बिना कहा कि इसके नेताओं ने जीवन में किसी भी संघर्ष का सामना नहीं किया है, और उन्हें लगता है कि उनकी तरह, दूसरों को भी कभी किसी कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ा है (इसलिए वे दबाव में आने पर हार मान लेंगे)।' पवार की पार्टी के दो नेता अनिल देशमुख और नवाब मलिक धनशोधन के आरोपों में फिलहाल जेल में बंद हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: