बिहार : स्नातक पास छात्राओं को जल्द मिलेगी प्रोत्साहन राशि - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 12 जून 2022

बिहार : स्नातक पास छात्राओं को जल्द मिलेगी प्रोत्साहन राशि

graduation-pass-girls-will-soon-get-incentive
पटना : स्नातक पास छात्राओं के लिए एक अच्छी खबर निकल कर सामने आ रही है। राज्य सरकार की तरफ से स्नातक पास पौने दो लाख छात्राओं जिनके आवेदन की जांच लंबित पड़ी हुई है, उनके बैंक खाते में प्रोत्साहन राशि भेजने की तैयारी शुरू कर दी गई है। दरअसल, शिक्षा विभाग ने सभी कुलपतियों को पत्र लिखा है। शिक्षा विभाग की ओर से जारी इस पत्र में कहा गया है कि जिन भी विश्वविद्यालय में छात्राओं के आवेदन निलंबित पड़े हैं उनको पोर्टल पर अपलोड करें ताकि आवेदनों के सत्यापन के बाद छात्राओं के खाते में 50-50 हजार रुपए भेज दिए जाएं। मालुम हो कि,  राज्य के विश्वविद्यालयों में स्नातक की परीक्षा पास कर चुकी करीब पौने दो लाख छात्राओं के आवेदन जांच के लिए लंबित पड़े हैं। इसको लेकर शिक्षा विभाग की तरफ से अंतिम बार विश्वविद्यालय के कुलपतियों को निर्देश दिया जा गया है। शिक्षा विभाग ने इसे गंभीर मामला बताया है। इधर, आवेदनों के सत्यापन नहीं होने से शैक्षणिक सत्र 2015-18, 2016-19 और 2017-20 की स्नातक उत्तीर्ण छात्राओं को प्रोत्साहन राशि नहीं मिल सकी है। इन आवेदनों का सत्यापन होने के बाद ही छात्राओं को राशि का भुगतान संभव हो सकेगा। इसके साथ ही शैक्षणिक सत्र 2020-21 एवं 2021-22 की स्नातक पास छात्राओं के आवेदन भी आगामी 7 जुलाई से पोर्टल पर जमा हो सकेंगे, ताकि आवेदनों का समय से सत्यापन हो सके और उन्हें प्रोत्साहन राशि भेजी जा सके। इस बार आवेदन के समय ही आवेदक के नाम, महाविद्यालय और विश्वविद्यालय के साथ ही किस विषय के लिए मान्यता मिली है, उसकी जांच हो जाएगी। पोर्टल पर गलत नाम से आवेदन अपलोड नहीं हो सकेगा।

कोई टिप्पणी नहीं: