नडाल 14वीं बार फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 जून 2022

नडाल 14वीं बार फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में

nadal-14th-in-french-open-final
पेरिस, 03 जून, लाल बजरी के बेताज बादशाह स्पेन के राफेल नडाल ने जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव के दो सेट के बाद टखने की चोट से रिटायर हो जाने से वर्ष के दूसरे ग्रैंड स्लेम फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में 14वीं बार प्रवेश कर लिया। ज्वेरेव ने जब मैच छोड़ा तब नडाल 7-6, 6-6 से आगे थे। मुकाबला तीन घंटे से अधिक चल चुका था और दूसरा सेट टाई ब्रेक में प्रवेश करने वाला था लेकिन ज्वेरेव ने मैच छोड़ दिया। जर्मन खिलाड़ी बेसलाइन के पीछे नडाल के फोरहैंड को पकड़ने की कोशिश में अपना दायां टखना चोटिल कर बैठे और उन्हें व्हीलचेयर में कोर्ट से बाहर जाना पड़ा। 36 साल के हो चुके नडाल ने इस तरह 14वीं बार फ़ाइनल में जगह बना ली। ज्वेरेव गिरने के बाद दर्द से कराह उठे और उनके फीजियो तथा उनके पास पहुंचे नडाल ने उन्हें व्हीलचेयर पर बैठाया। विश्व के नंबर तीन खिलाड़ी आंसुओं में कोर्ट पर आये जहां दर्शकों ने खड़े होकर उनका अभिवादन किया। नडाल ने भी ज्वेरेव को गले लगाया। 13 बार के विजेता नडाल ने मैच के बाद कोर्ट पर कहा,'मुझे उनके लिए बहुत दुःख है। वह टूर्नामेंट में अविश्वसनीय प्रदर्शन कर रहे थे। वह एक ग्रैंड स्लेम जीतने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे थे लेकिन इस समय वह दुर्भाग्यशाली हैं। मैं उन्हें जल्द ठीक होने के लिए अपनी शुभकामनाएं देता हूं।' नडाल ने साथ ही कहा कि एक और बार फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में पहुंचना सपना पूरा होने जैसा है। अपना 36वां जन्मदिन मना रहे स्पेन के खिलाड़ी ने पहले सेट के टाई ब्रेक में 2-6 पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए लय पकड़ी और टाई ब्रेक 10-8 से जीतकर यह सेट एक घंटे 31 मिनट में समाप्त किया। दूसरे सेट में 6-6 के स्कोर के बाद ज्वेरेव ने मैच छोड़ दिया। 

कोई टिप्पणी नहीं: