नडाल 14वीं बार बने फ्रेंच ओपन चैंपियन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 6 जून 2022

नडाल 14वीं बार बने फ्रेंच ओपन चैंपियन

nadal-won-french-open-14-time
पेरिस, 05 जून, फ्रेंच ओपन के निर्विवाद किंग और रौलां गैरो की लाल बजरी के बीच रोमांस बना हुआ है। नफ़ाल ने नॉर्वे के कैस्पर रुड को रविवार को एकतरफा अंदाज में 6-3,6-3, 6-0 से हराकर 14वीं बार फ्रेंच ओपन का खिताब जीत लिया और इसके साथ ही उन्होंने अपने ग्रैंड स्लेम खिताबों की संख्या 22 पहुंचा दी। नडाल ने 2005, 2006, 2007, 2008, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2017, 2018, 2019, 2020, 2022 में कुल 14 बार फ्रेंच ओपन, 2009 और 2022 में ऑस्ट्रेलियन ओपन, 2008 और 2010 में विम्बलडन तथा 2010, 2013, 2017, 2019 में यूएस ओपन के खिताब जीते। वह फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में जब भी पहुंचे , उन्होंने खिताब जीतकर ही दम लिया। वह आज तक कभी फ़ाइनल में नहीं हारे। फिलिप चैटरियर कोर्ट पर पांचवीं सीड नडाल ने पहले दो सेट आसानी से 6-3,6-3 से जीते और तीसरे सेट में उन्होंने आठवीं सीड रुड को एक भी गेम जीतने का मौका दिए बिना इसे 6-0 से निपटा दिया। टेनिस में नडाल से ज्यादा ग्रैंड स्लैम खिताब सिर्फ मार्गरेट कोर्ट (24), सेरेना विलियम्स (23) और स्टेफी ग्रॉफ (22) के नाम है। राफेल नडाल ने 30 मेजर फाइनल में 22वीं जीत दर्ज की। फेडरर और जोकोविच ने समान 31 बार ग्रैंडस्लैम फाइनल में खेलते हुए समान 20-20 खिताब जीते हैं। 2022 नडाल के लिए सुनहरा साल रहा है। इसी साल जनवरी में उन्होंने दानिल मेदवदेव को हराकर ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीता था। चैंपियन बनने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी : 36 साल के राफेल नडाल फ्रेंच ओपन का खिताब जीतने वाले सबसे उम्रदराज पुरुष खिलाड़ी बन गए हैं। 50 साल पहले आंद्रे गिमेनो ने 34 साल की उम्र में खिताब अपने नाम किया था। अब नडाल ने उनका रिकॉर्ड तोड़ दिया है। नडाल ने इससे पहले साल का पहला ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन भी जीता था। यह पहला मौका है, जब उन्होंने साल के पहले दोनों ग्रैंड स्लैम को अपने नाम किया। यह राफेल नडाल का 92 सिंगल्स टाइटल भी है। इस मामले में अभी तीन खिलाड़ी उनसे आगे हैं। टक्कर भी नहीं दे पाए रूड: नॉर्वे के कैस्पर रुड राफेल नडाल को ही अपना आदर्श मानते हैं। उन्होंने नडाल के साथ काफी ट्रेनिंग की है। इसके बाद भी 23 साल के रुड उन्हें टक्कर नहीं दे पाए। नडाल ने मुकाबले को 2 घंटे और 18 मिनट में ही लगातार सेटों में अपने नाम किया। दूसरे सेट में एक समय रुड 3-1 से आगे थे, लेकिन लगातार 5 गेम जीतकर नडाल ने सेट को अपने नाम किया। तीसरे सेट में रुड एक गेम भी नहीं जीत सके और उनका चैंपियन बनने का सपना टूट गया। राफेल नडाल ने 2005 में यहां पहली बार खिताब जीता था। उसके बाद से वह 13 बार फ्रेंच ओपन के विजेता चैंपियन बने। फ्रेंच ओपन क्ले कोर्ट पर खेला जाता है और इसी वजह से नडाल को 'क्ले कोर्ट के किंग' के नाम से भी जाना जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं: