ईडी के जरिए विपक्ष के नेताओं को अपमानित किया जा रहा : संजय सिंह - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 5 जून 2022

ईडी के जरिए विपक्ष के नेताओं को अपमानित किया जा रहा : संजय सिंह

opposition-leaders-being-humiliated-sanjay-singh
नयी दिल्ली, 04 जून, आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि वर्तमान में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ऐसी संस्था बनती जा रही है जिसके जरिए विपक्ष के नेताओं को अपमानित किया जा रहा है और जेल में डाला जा रहा है जबकि सत्तापक्ष के लोगों को बचाया जा रहा है। श्री सिंह ने शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ईडी ने उच्च न्यायालय में कहा है कि सत्येंद्र जैन के खिलाफ कोई एफआईआर और शिकायत नहीं है। भारतीय जनता पार्टी शासित केंद्र सरकार की एजेंसी ईडी एक ऐसी संस्था बनती जा रही है, जिसके जरिए विपक्ष के नेताओं को अपमानित किया जा रहा है और जेल में डाला जा रहा है। मोदी सरकार की ईडी विजय माल्या, ललित मोदी, नितिन सन्देसरा, येदियुरप्पा, व्यापम के घोटालेबाजों, ईश्वरप्पा जैसों पर कार्रवाई नहीं करती है। भाजपा को केजरीवाल सरकार और सत्येंद्र जैन से परेशानी यह है कि कैसे मोहल्ला क्लीनिक बना रहे हैं? दिल्ली के हेल्थ सिस्टम की चर्चा क्यों पूरे देश में हो रही है? उन्होंने कहा कि कई दिनों से बीजेपी के लोग, उनकी केंद्रीय मंत्री और बड़े नेता चिल्ला चिल्लाकर कह रहे थे कि सत्येंद्र जैन भ्रष्टाचारी है। उनको सूली पर चढ़ा दो। उनकी 10 दिन की रिमांड ली गई लेकिन कल हाईकोर्ट में ईडी ने कहा कि उनके खिलाफ न कोई एफआईआर है और न कोई शिकायत है। लेकिन स्मृति ईरानी सत्येंद्र जैन को देश का गद्दार कह रही हैं। उन्होंने कहा कि क्या ईडी बिग बॉस का घर है कि एक मंत्री को जबरदस्ती अपनी गिरफ्त में रखा हुआ है कि आओ बैठकर बातचीत करेंगे। आज ईडी ऐसी संस्था बनती जा रही है, जिसके जरिए विपक्ष के नेताओं को अपमानित किया जा रहा है। हमारे नेताओं पर एक नहीं, एक हजार बार कार्रवाई हुई, लेकिन सबको क्लीनचिट मिली। उपमुख्यमंत्री के घर पर छापा पड़ा, हमारे 34 विधायकों पर 140 मुकदमे लगे, 72 मामलों में वे बरी हो गए हैं। कई मंत्रियों पर ईडी/सीबीआई का छापा पड़ा। केजरीवाल सरकार की 400 फाइलों की जांच कराई, लेकिन खुद कहा कि इसमें कुछ नहीं निकला। आप के नेता ने कहा कि इन्हें दर्द यह है कि कैसे सत्येंद्र जैन मोहल्ला क्लीनिक बना रहे हैं? कैसे हेल्थ सिस्टम की चर्चा पूरे देश में हो रही है। आज स्मृति ईरानी और बीजेपी को देश के सामने आकर माफी मांगनी चाहिए। सत्येंद्र जैन के खिलाफ सर्विसेज से जुड़ा एक मामला था। उसमें सीबीआई ने 2018 में एफआईआर भी दर्ज की और चार साल बाद कह दिया कुछ नहीं निकला, क्लीनचिट दे दिया। ईडी का 0.4 फीसदी अपराध साबित होने का रेट है। इसपर जो पैसा बर्बाद हो रहा है, वो सिर्फ आप नेताओं को जेल में डालने के लिए हो रहा है। वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि केंद्र सरकार ने खुद ही कोर्ट में बोल दिया कि सत्येंद्र जैन ‘आरोपी’ नहीं हैं। जब आरोपी ही नहीं हैं तो भ्रष्ट कैसे हुए?

कोई टिप्पणी नहीं: