प्रधान मंत्री ‛आइकोनिक वीक’ का उद्घाटन करेंगे। - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 5 जून 2022

प्रधान मंत्री ‛आइकोनिक वीक’ का उद्घाटन करेंगे।

pm-will-inaugurate-icon-of-the-week
भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी 6 जून 2022 को विज्ञान भवन, नई दिल्ली में सुबह 10:30 बजे आजादी का अमृत महोत्सव के तहत ‛आइकोनिक वीक’ का उद्घाटन करेंगे। इस कार्यक्रम का प्रसारण भारत के 75 प्रमुख शहरों में  किया जाएगा। इस कार्यक्रम के दौरान वित्त मंत्रालय और  कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा  देश की आर्थिक उन्नति व आर्थिक क्षेत्र के विकास को शामिल करनेवाले विभिन्न शासकीय सुधारों को प्रदर्शित किया जाएगा। इधर पटना में आयकर विभाग कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। कार्यक्रम साहू जैन हॉल, बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स परिसर, जज कोर्ट रोड, पटना में होगा। प्रधानमंत्री विगत वर्षों में वित्‍त मंत्रालय के महत्वपूर्ण कार्यों को रेखांकित करने वाली एक डिजिटल प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। वे आजादी का अमृत महोत्सव लोगो के साथ विभिन्न मूल्यवर्ग में 5 सिक्कों का एक विशेष संस्करण भी लॉन्च करेंगे। प्रधान मंत्री ‛जन समर्थ पोर्टल’ भी लॉन्च करेंगे जो कि एक एकल एकीकृत राष्ट्रीय पोर्टल है, जो क्रेडिट लिंक्ड सरकारी योजनाओं के सभी लाभार्थियों को आसानी और सुविधा प्रदान करेगा। इस पोर्टल के माध्यम से लाभार्थी अब लॉग ऑन कर सकते हैं और पात्रता के सभी मानदंडों की समीक्षा कर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। माननीय प्रधान मंत्री के सभी प्रयास देश की तीव्र और समग्र प्रगति की दिशा में हैं। इस योजना के तहत एक लघु फिल्म - ‛मनी फ्लो नेशन ग्रो’ दिखाया जायेगा। 6 जून से 11 जून 2022 तक वित्त मंत्रालय और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के विभिन्न विभागों जैसे- केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड, केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड, लेखा महानियंत्रक, अरुण जेटली राष्ट्रीय वित्तीय प्रबंधन संस्थान आदि द्वारा विभिन्न अन्य कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। ‛आजादी का अमृत महोत्सव’ भारत की आजादी के 75 साल और अपने लोगों, संस्कृति व उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास को मनाने के लिए भारत सरकार की एक पहल है। महोत्सव भारत के उन लोगों को समर्पित है, जिन्होंने न केवल भारत की विकास यात्रा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, बल्कि जो  आत्मनिर्भर भारत की भावना से ऊर्जान्वित होकर  प्रधान मंत्री मोदी के दृष्टिकोण ‛ एक्टिवेटिंग इंडिया 2.0 ’ को सक्षम करने की शक्ति और क्षमता भी रखते है। ‛आज़ादी का अमृत महोत्सव’ की आधिकारिक यात्रा 12 मार्च 2021 को हमारी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के लिए 75 सप्ताह की उलटी गिनती से शुरु हुई और 15 अगस्त 2023 को एक वर्ष के बाद समाप्त होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: