झारखंड को 16 हजार करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं की सौगात - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 12 जुलाई 2022

झारखंड को 16 हजार करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं की सौगात

  • देवघर एयरपोर्ट का किया उद्घाटन

16-thousand-crores-to-jharkhand
देवघर 12 जुलाई, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देवघर में मंगलवार को 16 हजार करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने देवघर एयरपोर्ट का भी आज उद्घाटन किया। इस मौके पर प्रधानमंत्री श्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि झारखंड को हाईवे, रेलवे, एयर-वे व वाटर-वे से कनेक्ट कर विकास को गति देने की कोशिश की जा रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कनेक्टिविटी के साथ-साथ देश के आस्था और आध्यात्म से जुड़े महत्वपूर्ण स्थलों पर सुविधाओं के निर्माण पर भी केंद्र सरकार बल दे रही है। इनसे झारखंड की आधुनिक कनेक्टिविटी,ऊर्जा, स्वास्थ्य, आस्था और पर्यटन को बहुत अधिक बल मिलने वाला है। श्री मोदी ने कहा कि राज्यों के विकास से राष्ट्र का विकास, देश पिछले 8 वर्षों से इसी सोच के साथ काम कर रहा है। पिछले 8 वर्षों में हाईवे, रेलवे, एयरवे और वाटरवे हर प्रकार से झारखंड को कनेक्ट करने की कोशिश की गयी। उन्होंने कहा कि आज केंद्र सरकार के प्रयासों का लाभ पूरे देश में दिख रहा है। उन्होंने कहा कि उड़ान योजना के तहत पिछले 5-6 सालों में लगभग 70 नए स्थानों को एयरपोर्ट्स, हेलीपोर्ट्स और वॉटर एयरोडोम्स के माध्यम से जोड़ा गया है। 400 से ज्यादा नए रूट्स पर आज सामान्य से सामान्य नागरिक को हवाई यात्रा की सुविधा मिल रही है। बाबा बैद्यनाथ धाम में भी प्रसाद योजना के तहत आधुनिक सुविधाओं का विस्तार किया गया है। पीएम ने कहा- हम सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मंत्र पर चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश कर विकास के, रोज़गार-स्वरोज़गार के नए रास्ते खोजे जा रहे हैं। केंद्र सरकार ने विकास की आकांक्षा पर बल दिया है, आकांक्षी जिलों पर फोकस कियाा। प्रधानमंत्री ने कहा कि देवघर में एयरपोर्ट बनने से क्षेत्र में लाखों लोगों का जीवन आसान होगा। व्यापार-कारोबार, र्प्यटन, रोजगार-स्वरोजगार के लिए नये अवसर बनेंगे। एयरपोर्ट बनने से अनेक क्षेत्रों को सीधा लाभ होगा,पूर्वी भारत के विकास को गति मिलेगी। आज जिन सड़क परियोजनाओं की सौगात मिली है, 13 हाईवे परियोजनाओं से देश के संपर्क मार्ग में बढ़ोतरी होगा। सड़क मार्ग और हाईवे में बढ़ोत्तरी से झारखंड के विकास के साथ ही पूरे देश को फायदा मिलेगा, झारखंड के औद्योगिक विकास का रास्ता खुला है। प्रधानमंत्री ने कहा कि चार साल पहले देवघर एयरपोर्ट शिलान्यास का उन्हें मौका मिला, कोरोना संकट की मुश्किलों के बाद तेजी से काम हुआ, देवघर एयरपोर्ट से हर साल 5 लाख यात्रियों का आवागमन हो सकेगा। उन्होंने कहा कि 400 से ज्यादा रूट पर आज सामान्य से सामान्य नागरिकों को हवाई यात्रा की सुविधा मिल रही है, उड़ान योजना के तहत एक करोड़ लोगों ने काफी कम पैसे में हवाई यात्रा की। उन्होंने कहा कि झारखंड में आने वाले समय में कनेक्टिविटी में बढ़ोत्तरी होने वाली है। बाबाधाम में भी प्रसाद योजना के तहत आधुनिक सुविधा का विस्तार किया गया है। धार्मिक पर्यटन के विकास से लोगों को रोजगार मिलता है, आदिवासी बहुल क्षेत्र में इस को बहुत फायदा मिलेगा।


प्रधानमंत्री ने कहा कि क्षेत्र में पाइप लाइन के माध्यम से सस्ती गैस मिलेगी, अन्य उद्योगों को भी फायदा मिलेगा, आर्थिक विकास में तेजी आएगी। आधारभूत संरचना में निवेश कर विकास के रास्ते खोजे जा रहे है, आकांक्षी जिलों पर फोकस किया है, इसका भी लाभ झारखंड के कई जिलों को मिल रहा है। पहाड़ी और जंगल से घिरे क्षेत्रों के विकास पर केंद्र सरकार विशेष ध्यान दे रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि एम्स की आधुनिक सुविधा झारखंड के साथ-साथ बिहार और पश्चिम बंगाल के कई क्षेत्रों को भी मिलेगा। विकास के कई अवसर बनते है, यही सही विकास है, ऐसे ही सही विकास को मिलकर आगे बढ़ाना है। इससे पहले मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि आज देवघर के साथ ही झारखंड के लिए ऐतिहासिक दिन है। 2010 में देखा गया सपना आज साकार हुआ। आज सपने साकार हो रहे हैं जिसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को है। उन्होंने कहा कि किसी भी राज्य या राष्ट्र के विकास में मार्गाे के विकास की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। झारखंड में जल मार्ग भी बनकर तैयार है, पीएम के प्रयास से यह संभव हो पाया है, इसके लिए प्रधानमंत्री जी को आभार। केंद्र सरकार का सहयोग रहेगा, तो अगले पांच से सात सालों में झारखंड देश के अग्रणी राज्यों में रहेगा। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री ने एयरपोर्ट स्थापित करने के लिए परिभाषा को बदला,एयरपोर्ट जहां भी स्थापित होता है, उस क्षेत्र के विकास की गति में तेजी आती है। प्रधानमंत्री ने धार्मिक आस्था के स्थल को भी हवाईमार्ग से जोड़ने का निर्णय है। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि आज देवघर से कोलकाता तक की हवाईयात्रा सुविधा की गयी है, जल्द ही देवघर से रांची, देवघर से पटना और देवघर से दिल्ली तक की हवाई सेवा की शुरुआत की जाएगी। उन्होंने कहा कि झारखंड में जल्द ही दो से बढ़ाकर 5 हवाईअड्डे होंगे, केंद्र सरकार जल्द ही झारखंड के बोकारो, दुमका और जमशेदपुर हवाईअड्डे को भी विकसित करेगी। हवाई चप्पल पहनने वालों तक हवाई जहाज की सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। सांसद डॉ0 निशिकांत दूबे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के देवघर आगमन पर स्वागत करते हुए कहा कि वर्ष 2014 के बाद से उनके गोड्डा संसदीय क्षेत्र में केंद्र सरकार की ओर से एक लाख करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मंजूरी दी गयी। इसके लिए वे प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते है। इधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देवघर से रांची को भी करोड़ों रुपये की योजनाओं की सौगात देने वाले हैं। रांची में ऑनलाइन कार्यक्रम में राज्य के वित्तमंत्री डॉ0 रामेश्वर उरांव, सांसद संजय सेठ, महुआ मांजी और विधायक सीपी सिंह समेत अन्य उपस्थित रहे।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देवघर में 16800 करोड़ रुपये से अधिक योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसमें से 13 योजनाओं का उद्घाटन और 12 योजनाओं का शिलान्यास किया। देवघर एयरपोर्ट परिसर में आयोजित समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य द्वारा 25 महत्वपूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन- शिलान्यास समारोह के अवसर पर राज्यपाल रमेश बैस, मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, केन्दीय मंत्री अर्जुन मुंडा, केंद्रीय मंत्री अन्नपूर्णा देवी,राज्य सरकार के मंत्री बादल और हफीजुल हसन एवं स्थानीय सांसद निशिकांत दूबे उपस्थित रहे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देवघर में 6565 करोड़ रुपये की योजनाओं की आधारशिला रखी, जबकि 10,270करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री जिन योजनाओं का उद्घाटन किया, उनमें पर्यटन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की एक योजना, रेलवे की दो, 401.03 करोड का देवघर एयरपोर्ट, 39 करोड़ का बाबा बैजनाथ धाम का विकास, 1790.3 करोड़ का गोरहर से खैरा टुंडा सिक्स लेन, 1332.8 करोड का खैरा टुंडा से बरवाअड्डा सिक्स लेन सड़क, 519 करोड का रांची महोलिया फोरलेन सड़क, 284.7 करोड का चौका से साहेरबेरा फोरलेन सड़क, 1144 करोड का गोविंदपुर चास वेस्ट बंगाल बॉर्डर फोरलेन सड़क, 2500 करोड़ का बोकारो अंगुल जगदीशपुर हल्दिया पाइपलाइन, 161.5 करोड का बरही में नया एलपीजी प्लांट, 93.4 करोड़ का बोकारो में एलपीजी प्लांट, 886 करोड का गढ़वा महुरिया रेलवे डबलिंग प्रोजेक्ट, 35 करोड़ का हंसडीहा गोड्डा रेलवे इलेक्ट्रिफिकेशन, 1103 करोड़ का देवघर में एम्स शामिल है। प्रधानमंत्री श्री मोदी जिन योजनाओं की आधारशिला रखी, उनमें सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के 8 प्रोजेक्ट, रेलवे के तीन, पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस का एक प्रोजेक्ट शामिल हैं। प्रधानमंत्री चार फोर लेन सड़क समेत एनएच 75 और एनएच 133 पर पेव्ड शोल्डर के साथ टू लेन सड़क, झरिया ब्लॉक सरफेस फैसिलिटी और पाइपलाइन, जसीडीह बाईपास न्यू लेन, गोड्डा कोच मेंटेनेंस डिपो के अलावे राजधानी रांची के इटकी इलाके में रेलवे ओवर ब्रिज कचहरी चौक से पिस्का मोड़ तक एलिवेटेड कॉरिडोर ,रांची रेलवे स्टेशन के डेवलपमेंट प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी इन परियोजनाओं की अनुमानित लागत लगभग 835 करोड है।

कोई टिप्पणी नहीं: