मोदी और बिरला ने डॉ. श्यामा प्रसाद को श्रद्धांजलि दी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 6 जुलाई 2022

मोदी और बिरला ने डॉ. श्यामा प्रसाद को श्रद्धांजलि दी

modi-and-birla-pay-tribute-to-dr-shyama-prasad
नयी दिल्ली 06 जुलाई, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बुधवार को संसद भवन में डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की। श्री मोदी और श्री बिरला ने सुबह संसद भवन जाकर केंद्रीय कक्ष में डॉ. मुखर्जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। उनके साथ अनेक केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों ने भी डॉ. मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी । प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट संदेश में कहा कि डॉ. मुखर्जी को देश के विकास और विशेष रूप से वाणिज्य एवं उद्योग के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है श्री बिरला ने अपने संदेश में कहा,“राष्ट्रवादी विचारधारा के अग्रदूत पूर्व केंद्रीय मंत्री डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी की जयंती पर भावपूर्ण नमन। भारत की एकता और अखंडता के लिए उन्होंने अपना सम्पर्ण जीवन समर्पित किया। उनके सिद्धांत और विचार हमें सदैव प्रेरित करते रहेंगे।“ केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा,“ डॉ. मुखर्जी एक अद्वितीय चिंतक थे जिनका मानना था कि सत्ता का मूल उद्देश्य राज करना नहीं बल्कि राष्ट्र-निर्माण के लिए समर्पित भाव से कार्य करना है। उनका सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का दर्शन और भारत की मूल संस्कृति के अनुरूप नीतियों को अपनाने के विचार हमेशा हमारा पथ प्रदर्शन करते रहेंगे।“ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डॉ. मुखर्जी को श्रद्धांजलि देते हुए कहा,“ भारत माता के सच्चे सपूत डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर मैं उन्हें श्रद्धापूर्वक स्मरण एवं नमन करता हूँ। उन्होंने अपना सारा जीवन देश की एकता और अखंडता को मज़बूत करने के लिए समर्पित कर दिया। उनकी विद्वता, देश के प्रति उनका समर्पण, त्याग और बलिदान हमारे लिए प्रेरणा स्रोत है।“

कोई टिप्पणी नहीं: