मजबूत आर्थिक प्रणालियों के लिए नीति बनाने की जरूरत : सीतारमण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 जुलाई 2022

मजबूत आर्थिक प्रणालियों के लिए नीति बनाने की जरूरत : सीतारमण

strong-economic-systems-need-policy-making-sitharaman
नयी दिल्ली 15 जुलाई, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि एक मजबूत आर्थिक प्रणालियों के लिए साक्ष्य आधारित नीति बनाने की अति आवश्यकता है। श्रीमती सीतारमण ने इंडोनेशिया के बाली में आयोजित वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंकों के गर्वनरों की तीसरी जी20 बैठक (एफएमसीबीजी) में यह बात कही। वित्त मंत्रालय ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। वित्त मंत्री ने कहा कि भारत की दीर्घकालिक वृद्धि की संभावनाएं सार्वजनिक पूंजीगत व्यय कार्यक्रमों पर आधारित है और एक मजबूत आर्थिक प्रणाली के लिए साक्ष्य आधारित नीति निर्माण बेहद आवश्यक है। उन्होंने कहा कि सतत वैश्विक विकास जलवायु कार्रवाईयों पर केंद्रित होना चाहिए और जलवायु वित्त तथा हरित परिवर्तनों पर ध्यान दिया जाना चाहिए। वित्त मंत्री ने जी20 एफएमसीबीजी के दूसरे सत्र में वैश्विक महामारी को लेकर तैयारी तथा प्रतिक्रिया प्रणाली समेत ‘जी20 स्वास्थ्य एजेंडा’ पर विचार व्यक्त किये। उन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन को केंद्र में रखते हुए वैश्विक समन्वय प्रणाली बनाने पर भी जोर दिश। उन्होंने कहा कि भारत भविष्य की किसी भी वैश्विक महामारी के खिलाफ तैयारी करने और उससे बचाव करने के लिए सभी प्रयासों में समर्थन देने के लिए प्रतिबद्ध है।

कोई टिप्पणी नहीं: