बेतिया : असामाजिक तत्वों एवं बिचौलियों पर करें कठोर कार्रवाई - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शनिवार, 23 जुलाई 2022

बेतिया : असामाजिक तत्वों एवं बिचौलियों पर करें कठोर कार्रवाई

  • * जीएमसीएच में मरीजों को नहीं हो कोई परेशानी, इसका विशेष ख्याल रखें अस्पताल प्रबंधन: जिलाधिकारी
  • * बाहर से दवा क्रय करवाने वाली नर्स के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने का निर्देश
  • * जन औषधि केन्द्र नियमित रूप से संचालित कराने का निर्देश

bettiah-dm-news
बेतिया: पश्चिम चंपारण जिले में है जीएमसीएच.यहां की एक नर्स के द्वारा मरीज के परिजनों से बाहर से दवा क्रय करवाने के मामले को जिला प्रशासन द्वारा अत्यंत गंभीरता से लिया गया है. जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार द्वारा शिकायतकर्ता से स्वयं बात की गयी और वस्तुस्थिति की जानकारी ली गयी. शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि जीएमसीएच की एक नर्स के द्वारा अस्पताल में दवा उपलब्ध नहीं रहने तथा बाहर से क्रय करने की बात कही गयी. उन्होंने यह भी बताया कि जीएमसीएच में असमाजिक तत्व एवं बिचौलिया लगातार भ्रमण करते रहते हैं तथा मरीजों तथा उनके परिजनों को दिग्भ्रमित करते हैं. जिलाधिकारी द्वारा जीएमसीएच अधीक्षक को सख्त निर्देश दिया गया कि शिकायतकर्ता से उक्त नर्स की पहचान करते हुए उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाय. साथ ही यह भी निर्देश दिया गया कि जीएमसीएच में मरीजों तथा उनके परिजनों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े, इसका विशेष ख्याल रखा जाय. स्वास्थ्य विभाग द्वारा देय सभी सुविधाएं मरीजों तथा उनके परिजनों को अवश्य मिलनी चाहिए. इसमें कोताही करने वालों के विरूद्ध नियमानुकूल कड़ी कार्रवाई की जायेगी. जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि असामाजिक तत्व एवं बिचौलियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जाय. अस्पताल का सीसीटीवी कैमरा हमेशा फंक्शनल रखें तथा इसकी प्रॉपर निगरानी कराना सुनिश्चित करें. अस्पताल की सुरक्षा में कार्यरत पुलिसकर्मियों को हमेशा अलर्ट रहने के लिए निर्देशित करें तथा बिचौलियों एवं असामाजिक तत्वों को देखते ही तुरंत कार्रवाई करने को निर्देशित करें. अधीक्षक, जीएमसीएच द्वारा बताया गया कि मरीजों तथा उनके परिजनों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिये जाने वाले सुविधाओं से लाभान्वित किया जा रहा है. जीएमसीएच के सी-ब्लॉक में जन औषधि केन्द्र भी संचालित है, जहां सभी प्रकार के एसेंशियल ड्रग उपलब्ध है. साथ ही मरीजों को निःशुल्क दवा और अन्य सुविधाएं मुहैया करायी जा रही है. जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जन औषधि केन्द्र का संचालन नियमित रूप से होना चाहिए तथा मरीजों को इसका लाभ मिले, इसे भी सुनिश्चित किया जाय. अस्पताल में मौजूद दवा हर हाल में मरीजों को मिलना चाहिए. बाहर से दवा खरीदने के मामले को कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. जो भी अस्पताल कर्मी इस प्रकार के कार्य में संलिप्त हैं, उनको चिन्हित करते हुए उनके विरूद्ध कठोर कार्रवाई करें. इस अवसर पर उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, अपर समाहर्ता, श्री नंदकिशोर साह, श्री अनिल राय, अधीक्षक, जीएमसीएच, श्री प्रमोद तिवारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे.

कोई टिप्पणी नहीं: