असम के दिव्यांग चित्रकार ने मोदी को भेंट की उनका चित्र - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 22 जुलाई 2022

असम के दिव्यांग चित्रकार ने मोदी को भेंट की उनका चित्र

divyang-painter-from-assam-presented-his-portrait-to-modi
नयी दिल्ली, 22 जुलाई, असम के दिव्यांग चित्रकार अभिजीत गोटानी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और उन्हें उनका तैल चित्र भेंट किया। संसद भवन में प्रधानमंत्री से मुलाकात के वक्त श्री गोटानी के साथ उनकी मां और असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा भी उनके साथ थे। वह असम के कछार जिले के निवासी हैं। इससे कुछ दिन पहले श्री सरमा ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर उनसे मिलकर उनका तैल-चित्र भेंट करने की दिव्यांग कलाकार की इच्छा के बारे में अवगत कराया था। इस मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे पहले उन्होंने प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखी थी कि दिव्यांग अभिजीत गोटानी बधिर हैं, उन्होंने श्री मोदी का तैल-चित्र बनाया है और वह इसे उन्हें भेंट करना चाहते हैं। श्री गोटानी ने कहा,“ मुझे प्रधानमंत्री कार्यालय से फोन आया और बताया गया कि श्री मोदी मुझसे मिलकर तैल-चित्र लेना चाहते हैं। आज मैं अपनी माता के साथ उनसे मिला और प्रधानमंत्री का चित्र भेंट किया। ” मुख्यमंत्री ने दिव्यांग कलाकार से मिलने और आशीर्वाद देने के लिए प्रधानमंत्री का आभार जताया। श्री गोटानी की प्रसंशा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, “ वह तीन वर्ष की आयु से चित्रकारी कर रहा है। उनकी विशेषता यह है कि वह किसी विशेष विद्यालय से नहीं पढ़े हैं। उन्होंने सामान्य विद्यालय से पढ़ाई करते हुए हाई स्कूल लिविंग सर्टिफिकेट (एचएसएलसी) में 80 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। ” चित्रकार ने प्रधानमंत्री से मुलाकात पर कहा, “ आज, मेरा सपना सच हो गया है। प्रधानमंत्री ने मेरी प्रशंसा की और कहा कि तैल-चित्र बहुत सुंदर है। ” इसके साथ श्री सरमा ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की और उन्हें असम बाढ़ को लेकर चल रहे अभियानों की जानकारी दी। इसके बाद वह उप-राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ से मिले।

कोई टिप्पणी नहीं: