मधुबनी : 21 प्रखंडों के चयनित 21 पंचायतों का हुआ औचक निरक्षण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 6 जुलाई 2022

मधुबनी : 21 प्रखंडों के चयनित 21 पंचायतों का हुआ औचक निरक्षण

  • प्रशासन आपके द्वार के तहत पंचायतो में कैंप लगाकर समस्याओं का किया गया ऑन स्पॉट निष्पादन डीएम अरविंद कुमार वर्मा सहित प्रखंडो  के वरीय अधिकारियों ने भी कई पंचायतो का किया निरीक्षण एवम आयोजित कैम्प का भी लिया जायजा।

dm-madhubani-meeting
मधुबनी, जिले के सभी 21 प्रखंडों के चयनित 21 पंचायतों में चल रही योजनाओं का पदाधिकारियो की टीम के द्वारा औचक निरीक्षण किया गया वही पंचायत के पंचायत भवन में कैंप लगाकर समस्याओं का किया गया ऑन स्पॉट निष्पादन।  डीएम अरविंद कुमार वर्मा सहित प्रखंडो  के वरीय अधिकारियों ने भी कई पंचायतो का औचक निरीक्षण किया एवम आयोजित कैम्प का भी जायजा लिया।जिलाधिकारी  ने कलुआही प्रखंड के हरिपुर उत्तरी, खजौली के सराबे, राजनगर के सतघारा और रहिका प्रखंड के सौराठ पंचायत में पहुँचकर निरीक्षण उपरांत संचालित कैंप का जायजा भी लिया। गौरतलब हो की कैंप के आयोजन का मकसद उक्त पंचायत के सभी प्रकार की समस्याओं का स्थल निरीक्षण द्वारा जायजा लेना और पंचायत के लोगों की शिकायतों का ऑन स्पॉट निराकरण करना था। ऐसे  में जिलाधिकारी स्वयं दल बल के साथ इन आयोजनों की सफलता सुनिश्चित करने के लिए कैंप आयोजन स्थलों पर पंहुचे। उन्होंने वर्णित स्थलों पर उपस्थित अधिकारियों से कैंप की सफलता को लेकर चर्चा की और कई आवश्यक निर्देश दिए। कलुआही प्रखंड की वरीय पदाधिकारी के रूप में वरीय उप समाहर्ता निधि राज उपस्थित थीं, जिन्हें आवश्यक निर्देश देने के बाद जिलाधिकारी खजौली और राजनगर प्रखंड पंहुचे। जहां वरीय पदाधिकारी के समय से उपस्थित न होने पर गहरी नाराजगी प्रकट किया। उन्होंने कहा कि जन सरोकार से जुड़े इस प्रकार के कैंपों के आयोजन में वरीय पदाधिकारी के होने से समस्या निराकरण में आसानी होगी।

 

गौरतलब हो कि जिलाधिकारी ने जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी अंचल अधिकारी, सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, सभी प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी सभी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी, सभी कार्यक्रम पदाधिकारी मनरेगा, सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारी, सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, सभी प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी एवं सभी थानाध्यक्षों सहित संबंधित प्रखंड के जिला स्तरीय वरीय पदाधिकारी को निर्देशित किया था कि 6 जुलाई 2022 को जिले के सभी 21 प्रखंडों के अंतर्गत चयनित पंचायतों में समेकित रूप से अपने-अपने विभाग से संबंधित योजनाओं/ कार्यक्रमों का प्रातः 8:00 से 11:00 पूर्वाहन तक भ्रमणशील  स्थलीय जांच कर अपना प्रतिवेदन तैयार कर जिले को भेजेंगे। सभी पदाधिकारियों को यह भी निर्देशित किया गया था कि स्थल भ्रमण के उपरांत 11 बजे पूर्वाहन से 03 बजे अपराहन तक वे निर्धारित पंचायत भवन में उपस्थित होकर परिवादियों से प्राप्त शिकायतों की जांच कर समस्या का ऑन स्पॉट निष्पादन भी करेंगे। उक्त आलोक में अंधराठाढ़ी प्रखंड के जलसेन पंचायत में, बाबूबरही प्रखंड के सोनमती पंचायत में, बासोपट्टी प्रखंड के अग्रहवा पंचायत में, बेनीपट्टी प्रखंड के परकौली पंचायत में, बिस्फी प्रखंड के सादुल्लापुर में, घोघरडीहा के अमही पंचायत में, हरलाखी के गंगापुर पंचायत में, जयनगर के बेलही दक्षिणी पंचायत में, झंझारपुर के परसा में,  कलुआही के हरिपुर उत्तरी में, खजौली के सराबे में, खुटौना के मझौरा में,  लदनिया के बेलही में,  लखनौर के गंगापुर में,  लौकही के अटारी में,  मधेपुर के सुंदर विराजित में, मधवापुर के बलवा में, पंडौल के संकोर्थ पंचायत  में, फुलपरास के महिंदवार में, रहिका के सैराठ पंचायत में और राजनगर प्रखंड के सतधारा पंचायत में पंचायत में  कैंप का आयोजन किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: